मैच (13)
भारत बनाम न्यूज़ीलैंड (1)
महिला अंडर-19 विश्व कप (1)
साउथ अफ़्रीका बनाम इंग्लैंड (1)
आईएलटी20 (2)
बीबीएल (1)
रणजी ट्रॉफ़ी (1)
ZIM v WI (1)
ऑस्ट्रेलिया बनाम पाकिस्तान (1)
सुपर स्मैश (1)
साउथ अफ़्रीका त्रिकोणीय सीरीज़ (1)
बीपीएल 2023 (2)
ख़बरें

वॉर्नर ने कप्तानी प्रतिबंध के ख़‍िलाफ़ अपील छोड़ी

समीक्षा प्रक्रिया पर हमला करते हुए कहा कि क्रिकेट की गंदी धुलाई के लिए वॉशिंग मशीन बनने को तैयार नहीं

अपने परिवार के लिए डेविड वॉर्नर ने यह अपील छोड़ी है  •  Getty Images

अपने परिवार के लिए डेविड वॉर्नर ने यह अपील छोड़ी है  •  Getty Images

डेविड वॉर्नर ने अपने आजीवन नेतृत्व प्रतिबंध को पलटने के अपने प्रयासों को छोड़ दिया है और इस प्रक्रिया पर एक तीखा हमला किया है। उन्‍होंने दावा किया है कि स्वतंत्र पैनल मंज़ूरी की समीक्षा करने के लिए उन्‍हें "सार्वजनिक लिंचिंग" के माध्यम से रखना चाहता था।
एडिलेड टेस्ट की पूर्व संध्या पर शाम छह बजे से कुछ देर पहले लंबे सोशल मीडिया पोस्ट में वॉर्नर ने आरोप लगाया कि क्रिकेट ऑस्‍ट्रेलिया (सीए) से स्‍वतंत्र समीक्षा पैनल की सहायता करने वाले वक़ील ने प्रक्रिया के दौरान "अपमानजनक" टिप्पणियां की थीं।
सीए ने अपनी आचार संहिता में संशोधन की पुष्टि की, जिसने वॉर्नर को अपने नेतृत्व प्रतिबंध की अपील करने की अनुमति मिली। उस समय सीए ने कहा था कि यह निर्णय 2018 में न्यूलैंड्स बॉल-टैम्परिंग एपिसोड की वजह से नहीं लिया गया है।
वॉर्नर ने लिखा, "असल में, काउंसल असिस्टिंग और ऐसा लगता है कि कुछ हद तक समीक्षा पैनल, मेरे और न्यूलैंड्स में तीसरे टेस्ट के दौरान क्या हुआ, इसका सार्वजनिक परीक्षण करना चाहता है। पैनल के शब्दों में वे "सफ़ाई" करने के लिए एक सार्वजनिक तमाशा आयोजित करना चाहते हैं। मैं अपने परिवार के लिए क्रिकेट की गंदी लॉन्ड्री के लिए वॉशिंग मशीन बनने के लिए तैयार नहीं हूं।"
उन्होंने आगे कहा, "समीक्षा पैनल की सहायता करने वाले वक़ील मार्च 2018 की घटनाओं पर फिर से विचार करने के लिए दृढ़ प्रतीत होते हैं और समीक्षा पैनल मीडिया सर्कस आयोजित करके मुझे और मेरे परिवार को और अधिक अपमान और नुक़सान पहुंचाने के लिए दृढ़ संकल्पित प्रतीत होता है।"
अपने पोस्ट में वॉर्नर ने आगे लिखा, "अफ़सोस की बात है कि इस समय मेरे पास अपना आवेदन वापस लेने के अलावा कोई व्यावहारिक विकल्प नहीं है। मैं आचार संहिता के तहत अपने आवेदन से निपटने के तरीक़े से अलग हटकर अपने परिवार या अपने साथियों को आगे आघात और व्यवधान के अधीन करने के लिए तैयार नहीं हूं। कुछ चीज़ें क्रिकेट से अधिक जरूरी हैं।"
700 शब्दों से अधिक के बयान के हिस्से में वॉर्नर ने कहा कि सहायता करने वाले वक़ील की भूमिका को समाप्त कर दिया गया था और सीए ने समीक्षा पैनल द्वारा उठाए गए दृष्टिकोण को चुनौती देने में उनका समर्थन किया था, लेकिन एक सप्ताह के बाद उन्होंने "अनुरोध को अनदेखा करने का फै़सला किया।"
उन्‍होंने लिखा, "ऐसा प्रतीत होता है कि पैनल ने खिलाड़ी कल्याण और ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट के हितों के मुद्दों पर विचार नहीं किया है और इसकी बजाय वे एक सार्वजनिक लिंचिंग करने के लिए दृढ़ दिखे है।"
वॉर्नर ने पिछले चार वर्षों में उन पर और उनके परिवार पर पड़ने वाले प्रभाव और खु़द के पुनर्वास के लिए किए गए प्रयासों के बारे में भी बताया।
उन्‍होंने लिखा, "उस टेस्ट के बाद से और भले ही नेतृत्व की भूमिकाओं से मेरा प्रतिबंध कभी नहीं हटाया गया लेकिन मैंने इस दौरान सुधारने, पुनर्वास करने और खेल के प्रति अपने दृष्टिकोण को बदलने के लिए काम किया है। मैंने अपना काम किया है और एक दंड के अधीन रहा हूं जिसने पिछले लगभग पांच वर्षों से मुझे और मेरे परिवार को बुरी तरह प्रभावित किया है।"
क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के एक प्रवक्ता ने पुष्टि की कि उन्होंने निजी तौर पर सुनवाई करने के लिए वॉर्नर की मांग का समर्थन किया।
एक बयान में कहा गया, "हम इस परिणाम से निराश हैं क्योंकि हमारा इरादा डेविड को यह बताने देने का अवसर देना था कि एक स्वतंत्र सुनवाई में उनके आजीवन नेतृत्व प्रतिबंध को क्यों हटाया जाना चाहिए और हमने अपनी आचार संहिता में संशोधन किया।"
बयान में आगे कहा गया, "हम इन चर्चाओं को बंद दरवाज़ों के पीछे सुनने की डेविड की इच्छा का समर्थन करते हैं और उनके अपने आवेदन को वापस लेने के उनके फै़सले का सम्मान करते हैं। डेविड ऑस्ट्रेलियाई टीम के एक बहुत ही वरिष्ठ और उच्च माने जाने वाले सदस्य हैं जो खेल के एक महान राजदूत रहे हैं।"

ऐंड्रयू मक्‍ग्‍लैशन ESPNcricinfo में डिप्‍टी एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर निखिल शर्मा ने किया है।