मैच (9)
बीपीएल 2023 (2)
आईएलटी20 (1)
रणजी ट्रॉफ़ी (4)
ज़िम्बाब्वे बनाम वेस्टइंडीज़ (1)
साउथ अफ़्रीका त्रिकोणीय सीरीज़ (1)
ख़बरें

दीप्ति : हमने डीन को चेतावनी दी थी

"जो कुछ हुआ वह योजना का हिस्सा था"

"हमने नियमों के अनुसार सब कुछ किया" - दीप्ति शर्मा  •  Getty Images

"हमने नियमों के अनुसार सब कुछ किया" - दीप्ति शर्मा  •  Getty Images

दीप्ति शर्मा द्वारा चार्ली डीन का किया गया रनआउट क्या किसी योजना के अनुसार था या फिर वह तत्काल क्षणिक हो गया?
दीप्ति के अनुसार, यह एक योजना का हिस्सा था लेकिन इससे पहले उन्होंने डीन को चेतावनी दी थी। उन्होंने कहा, "वो प्लान था हम लोगों का क्योंकि वह बार-बार…(क्रीज़ से बाहर निकल रही थी)। हम वार्न भी कर चुके थे उसको। जो रूल्स में है, जो गाइडलाइंस है उसके अकॉर्डिंग हमने किया।"
हमारे संवाददाता पीटर डेला पेना के विश्लेषण के अनुसार उस पारी के दौरान गेंदबाज़ के गेंद फेंकने से पहले ही डीन बार-बार क्रीज़ से बाहर निकल जा रही थीं और ऐसा आउट होने से पहले क़रीब 72 बार हुआ।
डीन के इस तरह आउट होने के बाद क्रिकेट जगत के गलियारों में लगातार चर्चा है कि क्या भारत को इस तरह से रन आउट करना चाहिए था या नहीं। जहां स्टुअर्ट ब्रॉड, जेम्स एंडरसन और सैम बिलिंग्स ने कहा है कि भारत को ऐसा नहीं करना चाहिए था, वहीं ऐलेक्स हेल्स का मानना है कि बल्लेबाज़, गेंदबाज़ के गेंद फेंकने तक क्रीज़ के अंदर रह ही सकता है।
मैच के बाद भारतीय कप्तान हरमनप्रीत कौर ने भी कहा था कि उनकी टीम ने कोई अपराध नहीं किया है।
क्रिकेट के नियम बनाने वाली संस्था एमसीसी ने भी कहा है कि इस मामले में नियम स्पष्ट है और अगर अंपायरों को लगता है कि सब कुछ नियम के अनुसार हुआ है तो फिर आगे की कोई बात ही नहीं। हालांकि एमसीसी ने भी कहा कि इस मामले में अगर बहस हो रही है तो यह अच्छी बात है।
एमसीसी ने कहा, "जब तक गेंदबाज़ के हाथ से गेंद ना छूट जाए तब तक नॉन स्ट्राइक बल्लेबाज़ को क्रीज़ में ही रहना है। अगर इस नियम का पालन हुआ होता तो जो कल हुआ, वह नहीं होता। और किसी भी नियम पर चर्चा क्रिकेट के विकास के लिए ही ज़रूरी है।"