मैच (16)
आईपीएल (1)
T20I Tri-Series (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
CE Cup (2)
WI vs SA (1)
ENG v PAK (W) (1)
USA vs BAN (1)
ख़बरें

आंकड़े झूठ नहीं बोलते: पिछले दो सालों से टीम के लगभग 30 फ़ीसदी रन बनाता है यह खिलाड़ी

पिछले सीज़न की शुरुआत के बाद से कोई भी बल्लेबाज़ आईपीएल में केएल राहुल और संजू सैमसन से ज़्यादा छक्के नहीं लगा पाया है।

आज शाम राजस्थान रॉयल्स और पंजाब किंग्स के बीच मैच खेला जाना है। जब हम आंकड़ों की बात करते हैं तो हम सबसे पहले किसी खिलाड़ी विशेष के रिकॉर्ड्स पर ज़्यादा ध्यान देते हैं लेकिन इन दोनों विपक्षियों के बीच ऐसा बिल्कुल भी नहीं है क्योंकि इनका नाम सुनते ही स्कोरबोर्ड ख़ुद चलने लगता है। वह यह नहीं देखता कि टीम में कौन से खिलाड़ी शामिल हैं। विश्वास नहीं होता है तो इन आंकड़ों को देखिए।
पिछले पांच मैचों का पंच
2019 की शुरुआत के बाद से इन दोनों टीमों ने जब भी एक-दूसरे का सामना किया है, हमेशा उच्च स्कोरिंग मैच देखने को मिला है। पांच मैचों में से दो बार 220 से ज़्यादा का स्कोर चेज़ हुआ है। इस दौरान किसी भी टीम का न्यूनतम स्कोर 170 है।पिछले तीन सीज़न में इन दोनों टीमों का एक-दूसरे के ख़िलाफ़ औसत स्कोर 196 है, जो लीग में अब तक का सर्वाधिक है।
सिंगल डबल छोड़िए बात सिर्फ़ सिक्सर्स में होगी
2019 के बाद केवल औसत रन नहीं, ये टीमें एक-दूसरे के विरुद्ध खेलते समय प्रति पारी 10 से अधिक छक्के भी लगाती हैं। 57 और 52 छक्कों के साथ इस सीज़न में पंजाब और राजस्थान दोनों ही आईपीएल में सर्वाधिक छक्के मारने वाली टीमों की सूची में दूसरे और तीसरे स्थान पर हैं। पहले स्थान पर चेन्नई (62 छक्के) की टीम है।
कप्तानों की जंग
पिछले सीज़न की शुरुआत के बाद से कोई भी बल्लेबाज़ आईपीएल में इन दोनों टीमों के कप्तान केएल राहुल और संजू सैमसन से ज़्यादा छक्के लगाने में क़ामयाब नहीं हुआ है। इस सीज़न राहुल ने सबसे ज्यादा 16 छक्के लगाए हैं, जबकि सैमसन ने 11।आईपीएल 2018 में पंजाब में शामिल होने के बाद से राहुल ने राजस्थान के ख़िलाफ़ हमेशा अच्छा प्रदर्शन किया है। उन्होंने राजस्थान के विरुद्ध 88 की औसत और 138 के स्ट्राइक रेट से 400 से अधिक रन बनाए हैं।
वहीं संजू सैमसन ने पंजाब के ख़िलाफ़ 45 की औसत से 600 से अधिक रन बनाए हैं और इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट है। पिछली तीन बार सैमसन ने पंजाब का जब भी सामना किया, उन्होंने 180 से अधिक के स्ट्राइक रेट से 85, 48 और 119 रन का स्कोर बनाया ।
कैप्टन ऑन ड्यूटी
पिछले दो साल से केएल राहुल टीम के लगभग 30 फ़ीसदी रन अकेले बना रहे हैं। यहां तक की पिछले साल यूएई में राहुल 14 पारियों में सिर्फ़ दो बार आउट हुए। साल 2020 में उन्होंने 55.8 की औसत से टीम के लिए 670 रन बनाए थे औस इस साल सात पारियों में 66.2 की औसत से 331 रन बना चुके हैं।

राजन राज ESPNcricinfo हिंदी में सब एडिटर हैं।