मैच (9)
T20 वर्ल्ड कप (5)
CE Cup (2)
T20 Blast (2)
ख़बरें

मैं राजस्थान रॉयल्स को लड़ते और सफल होते देखना चाहता हूं : सैमसन

रॉयल्स के कप्तान आईपीएल सत्र के दूसरे हाफ़ को लेकर उत्साहित हैं

Sanju Samson enjoys a quiet moment in the Rajasthan Royals dugout , Chennai Super Kings vs Rajasthan Royals, IPL 2021, Mumbai, April 19, 2021

टी20 विश्व कप में चयन नहीं होने से निराश थे सैमसन  •  BCCI/IPL

अब जबकि टी20 विश्व कप के लिए भारत का चयन हो गया है, कम से कम अब मैं विचलित नहीं हो सकूंगा और मैं अब अपना सारा ध्यान और ऊर्जा आईपीएल की ओर लगा सकता हूं। मैं स्वीकार करूंगा कि चयन न होना बहुत निराशाजनक था। भारत के लिए खेलना और विश्व कप में खेलना सभी खिलाड़ियों के लिए एक बड़ा सपना है और मैं इसके लिए बहुत उत्सुक था।
चयन एक खिलाड़ी के नियंत्रण में नहीं होता है, इसलिए इस पर ध्यान केंद्रित करना बहुत महत्वपूर्ण है कि आप क्या नियंत्रित कर सकते हैं और एक खिलाड़ी के रूप में आप कहां हैं। आपकी सोच में वह परिपक्वता होनी चाहिए।
हम चार महीने के ब्रेक के बाद टूर्नामेंट को फिर से शुरू कर रहे हैं, इसलिए यह एक नए सत्र की तरह लगता है। राजस्थान रॉयल्स खेमे का मिजाज़ ऐसा है जैसे हम एक और आईपीएल शुरू कर रहे हैं। हमने अपनी टीम में भी कुछ बदलाव किए हैं। इसलिए यह भी हमारे लिए एक नए टूर्नामेंट की तरह महसूस करा रहा है। कुल मिलाकर उस मानसिकता के साथ आना अच्छा है, भले ही पहले हाफ़ में कुछ भी हुआ हो।
ब्रेक ने हमें न केवल अपनी ऊर्जा को फिर से भरने की अनुमति दी है, बल्कि दूसरे हाफ़ में हमारे विचारों और रणनीति की समीक्षा करने की भी अनुमति दी है। मैंने और संगाकारा ने जिन प्रमुख बिंदुओं के बारे में बात की है, वे मुख्य रूप से उन भूमिकाओं के बारे में हैं जो प्रत्येक खिलाड़ी निभा सकते हैं और संयोजनों के बारे में हैं।
इस प्रारूप को खेलते हुए समझना होगा कि गलती की गुंजाइश बहुत कम होती है। आप वास्तव में अपने खिलाड़ियों या अपनी टीम को दोष नहीं दे सकते। केवल एक चीज जिसका आप ध्यान रख सकते हैं, वह है जिस मानसिकता के साथ आप जाते हैं और खेल में खिलाड़ियों के इरादे और रवैये का प्रदर्शन करते हैं। मुझे पता है कि रॉयल्स जिस क्षेत्र में लगातार अच्छा नहीं कर पा रहा है, वह मध्य क्रम है और आंकड़े बहुत कुछ कह सकते हैं। इसलिए हम इस बात से इनकार नहीं कर सकते कि यह एक कमज़ोरी है।
उस चरण में तेजी से स्कोर करने के लिए, आपके पास अपने सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़ होने चाहिए। इसका मतलब यह नहीं है कि मैं यह कह रहा हूं कि मैं एंकर को एक छोर पर गिरा देना चाहता हूं। टी20 में आपको हर गेंद पर अपना इरादा दिखाना होता है और अपने शॉट खेलने होते हैं, और यह नहीं सोचना चाहिए कि आप आराम से बैठ सकते हैं, पावरप्ले में सुरक्षित खेल सकते हैं और फिर बीच के ओवरों में स्कोर कर सकते हैं। एक बल्लेबाज़ के तौर पर आपको ढेर सारे ओवर खेलने के लिए अच्छे फ़ैसले लेने होते हैं, लेकिन साथ ही स्कोरिंग के मौके नहीं गंवाने होते।
सौभाग्य से, अगर मैं गलत नहीं हूं - और आप आंकड़े देख सकते हैं - रॉयल्स ने बल्ले से डेथ ओवरों में शक्तिशाली रूप से समाप्त किया है। इसलिए यदि आपके हाथ में पर्याप्त विकेट हैं या आपके सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़ हैं, तो आप अक्सर एक शक्तिशाली फ़िनिश के साथ नहीं लौटेंगे।
इसे ध्यान में रखते हुए, मैं बहुत खुश और उत्साहित हूं कि हमें एक बार फिर लियम लिविंगस्टन मिले हैं, जो अंत में गेंदबाज़ों पर आक्रमण कर रहा है। हमने पहले भी रॉयल्स के लिए उनके आक्रामक स्ट्रोक प्ले की झलक देखी है, लेकिन इस बार हम उन्हें और अधिक अवसर देना चाहेंगे, उन्हें एक विशिष्ट भूमिका बताए बिना, उन्हें खुद को व्यक्त करने की स्वतंत्रता दें। उसके और अन्य बल्लेबाज़ों के लिए हम विकल्प खुले रखना चाहते हैं। हम खिलाड़ियों के साथ बातचीत करेंगे और यह पता लगाएंगे कि उन्हें किस तरह की भूमिका चाहिए, और फिर टीम प्रबंधन द्वारा अंतिम निर्णय लिया जाएगा।
एक अन्य संभावित कमज़ोर विभाग हमारी डेथ बॉलिंग हैं। आंकड़े कहेंगे कि हम कहीं भी सर्वश्रेष्ठ के करीब नहीं हैं, लेकिन मैं इससे परेशान नहीं हूं। यदि आप अंतिम चार ओवरों में से प्रत्येक में केवल दस या 11 रन दे रहे हैं, तो यह वास्तव में बहुत खराब रन रेट नहीं है।
पिछले साल यूएई में हम आठवें स्थान पर रहे थे। तो कोई भी सुधार अच्छा होगा। लेकिन इस साल रॉयल्स परिवार के साथ अपनी पहली कड़ी में मैंने यह स्पष्ट कर दिया कि जहां लक्ष्य चैंपियनशिप जीतना है, वहीं हमें अपनी प्रक्रिया पर, अपनी तैयारी पर ध्यान देने की ज़रूरत है, और एक बार में एक मैच लेने की ज़रूरत है। हम वहां सब कुछ देते हैं। मुझे कोई आपत्ति नहीं है अगर हम फिर से नंबर 8 पर पहुंच जाते हैं, लेकिन मैं चाहता हूं कि हर कोई अपना सर्वश्रेष्ठ दें। विपक्षी चाहे कोई भी हो, मैं वह रवैया आपकी आंखों और आपके हाव-भाव में देखना चाहता हूं। हम लड़ने जा रहे हैं - मरो या जीतो। मैं हर एक से वह प्रतिबद्धता चाहता हूं।
हम एक युवा आईपीएल टीम हैं और मैं ऐसा ब्रांड क्रिकेट चाहता हूं कि मेरी टीम अब खेलें और लड़ें और सफल हों। हमें इस सीज़न के बाकी बचे सात मैचों में से ज़्यादा से ज़्यादा जीतना है। लक्ष्य प्लेऑफ़ के लिए क्वालीफ़ाई करना नहीं बल्कि चैंपियनशिप जीतना है।

नागराज गोलापुड़ी ESPNcricinfo में न्‍यूज एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी मेंं सीनियर सब एडिटर निखिल शर्मा ने किया है।