मैच (17)
आईपीएल (2)
ENG v PAK (W) (1)
T20I Tri-Series (2)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
CE Cup (3)
फ़ीचर्स

आंकड़े झूठ नहीं बोलते : सिक्का उछालते ही धोनी के नाम दर्ज हो जाएगा दोहरा शतक !

राजस्थान का सबसे महंगा खिलाड़ी एमएस धोनी के ख़िलाफ़ हो जाता है पस्त

MS Dhoni warms up ahead of the toss, Mumbai Indians v Chennai Super Kings, IPL 2019, Qualifier 1, Chennai, May 7, 2019

एमएस धोनी 200 आईपीएल मैचों की कप्तानी करने वाले बन सकते हैं पहले खिलाड़ी  •  BCCI

चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) को उनके कप्तान एमएस धोनी ने छक्के के साथ इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2021 के प्लेऑफ़ में पहुंचा दिया है, और अब उनकी नज़र एक और बड़े रिकॉर्ड को अपने नाम करने पर होगी। इसके लिए धोनी को पूरे मैच का इंतज़ार भी नहीं करना होगा। जैसे ही वह अबू धाबी में शनिवार को राजस्थान रॉयल्स के ख़िलाफ़ सिक्का उछालने आएंगे तो उनके नाम एक और रिकॉर्ड जुड़ जाएगा।

माही मारेंगे कप्तानी का दोहरा शतक

महेंद्र सिंह धोनी आईपीएल में बतौर कप्तान सिर्फ़ एक मैच दूर हैं 200 बार सिक्का उछालने से, जी हां उन्होंने अभी तक 185 बार सीएसके की कप्तानी की है और 14 मरतबा राइज़िंग पुणे सुपर जायंट (2016 सीज़न) के कप्तान रह चुके हैं। फ़िलहाल माही आईपीएल के 199 मैचों में कप्तान रह चुके हैं और जैसे ही वह राजस्थान के ख़िलाफ़ खेलने उतरेंगे, बतौर कप्तान यह उनका 200वां मुक़ाबला होगा। इस फ़ेहरिस्त में धोनी के बाद दूसरा नाम रोहित शर्मा का आता है जिन्होंने 126 आईपीएल मैचों में कप्तानी की है। धोनी ने इन 199 मैचों में 119 बार टीम को जीत दिलाई है, यानि उनके जीत का प्रतिशत है 60.1।
हालांकि टी20 क्रिकेट की बात करें तो किसी एक टीम की सबसे ज़्यादा कप्तानी का रिकॉर्ड भी धोनी के ही नाम है, उन्होंने 208 बार अपनी फ़ेवरेट टीम चेन्नई सुपर किंग्स की कप्तानी की है। इसमें आईपीएल के अलावा चैंपियंस लीग टी20 में भी चेन्नई की कप्तानी शामिल है।

काग़ज़ पर चेन्नई का पलड़ा भारी

चेन्नई और राजस्थान के बीच आईपीएल में अब तक 24 बार आमना-सामना हुआ है और इसमें 15 बार जीत का सेहरा चेन्नई के सिर बंधा है। हालांकि 2018 के बाद से ये आंकड़ा कुछ बदला भी है, उसके बाद से अब तक हुई सात भिड़ंत में तीन में राजस्थान ने बाज़ी मारी है। पिछले सीज़न में तो राजस्थान ने दोनों ही मैचों में चेन्नई को मात दी थी, लिहाज़ा इस बार चेन्नई की नज़र उस बदले पर होगी।

धोनी के ख़िलाफ़ नहीं चलता है मॉरिस का मैजिक

राजस्थान के सबसे महंगे खिलाड़ी और धाकड़ ऑलराउंडर क्रिस मॉरिस भले ही रंग में न दिख रहे हों लेकिन जब सामने चेन्नई आती है तो फिर इनका आंकड़ा शानदार हो जाता है। क्रिस मॉरिस ने राजस्थान की ओर से खेलते हुए सीएसके के ख़िलाफ़ छ: मैचों में 15.7 की औसत और 7.3 की इकॉनमी से झटके हैं 11 विकेट। लेकिन मॉरिस का ये आंकड़ा धोनी के सामने कहीं खो सा जाता है, धोनी और मॉरिस का 10 पारियों में आमना-सामना हुआ है, इस दौरान धोनी ने उनके ख़िलाफ़ 172 के स्ट्राइक रेट और 93 की ओसत से रन बनाए हैं। एक ही बार ऐसा मौक़ा आया है जब मॉरिस ने धोनी को पवेलियन की राह दिखाई है।
हालांकि यहीं आंकड़ा तब बिल्कुल उल्टा हो जाता है जब मॉरिस के सामने उनके ही हमवतन फ़ाफ़ डुप्लेसी आ जाते हैं। डुप्लेसी और मॉरिस 13 बार आमने-सामने आए हैं, जिसमें महज़ 10 की औसत से डुप्लेसी ने 38 गेंदों पर 50 रन बनाए हैं, और इस दौरान मॉरिस ने पांच बार डुप्लेसी को शिकार बनाया है।

सैयद हुसैन ESPNCricinfo हिंदी में मल्टीमीडिया जर्नलिस्ट हैं।@imsyedhussain