मैच (18)
WPL (2)
PSL 2024 (2)
AFG v IRE (1)
Nepal Tri-Nation (2)
रणजी ट्रॉफ़ी (4)
Durham in ZIM (1)
IND v ENG (1)
BPL 2023 (1)
CWC Play-off (3)
विश्व कप लीग 2 (1)
फ़ीचर्स

आंकड़े झूठ नहीं बोलते : मुंबई का बॉस कौन? जॉस भाई, जॉस भाई

राजस्थान के लिए अपने 100वें मैच में क्या संजू सैमसन का बल्ला बोलेगा?

इस सीज़न के पहले छह मैचों में जॉस बटलर ने दो शतकों की मदद से सर्वाधिक 375 रन बनाए हैं  •  BCCI

इस सीज़न के पहले छह मैचों में जॉस बटलर ने दो शतकों की मदद से सर्वाधिक 375 रन बनाए हैं  •  BCCI

आईपीएल 2022 के 34वें मुक़ाबले में दिल्ली कैपिटल्स का सामना होगा राजस्थान रॉयल्स से। वैसे तो यह मैच पुणे के एमसीए स्टेडियम में खेला जाना था, कैपिटल्स दल में कोरोना संक्रमण के मामले पाए जाने के बाद यह मैच मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला जाएगा। आइए नज़र डालते हैं इस मैच से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण आंकड़ों पर।
शॉ-वॉर्नर ने मचाई धूम
इस सीज़न के पहले दो मैचों में दिल्ली कैपिटल्स बल्ले के साथ पावरप्ले के दौरान संघर्ष कर रही थी। यही कारण था कि शुरुआती दो मैचों में उन्होंने पहले छह ओवरों के भीतर तीन-तीन विकेट गंवाए। हालांकि जब से डेविड वॉर्नर और पृथ्वी शॉ की जोड़ी साथ आई है, यह कहानी पूरी तरह से पलट चुकी है। बतौर सलामी जोड़ी, शॉ और वॉर्नर ने लगातार चार मैचों में पहली विकेट के लिए 50 से अधिक रन जोड़े हैं। अगर राजस्थान ने जल्द से जल्द इस जोड़ी को नहीं तोड़ा, तो उन्हें बैकफ़ुट पर जाने में देर नहीं लगेगी।
मुंबई का बॉस कौन?
अगर सलामी बल्लेबाज़ों की बात हो और जॉस बटलर का नाम ना लिया जाए, ऐसा तो हो ही नहीं सकता। इंग्लैंड के इस धाकड़ बल्लेबाज़ ने इस सीज़न में चार चांद लगा दिए हैं। आक्रामक बल्लेबाज़ी तो वह कई सालों से करते आ रहे हैं लेकिन जो निरंतरता उन्होंने इस सीज़न में दर्शायीं हैं वो अद्भुत है। उनकी बल्लेबाज़ी की विशेषता रही है कि वह बड़ी चतुराई से गेंदबाज़ों पर प्रहार कर रहे हैं। इस सीज़न में 375 में से केवल 59 रन उन्होंने स्पिन के विरुद्ध बनाए हैं। इसका अर्थ यह है कि अगर पावरप्ले में बटलर को तेज़ गेंदबाज़ी परोसी गई, तो दिल्ली के फ़ील्डर दर्शक बनकर रह जाएंगे।
संजू बाबा, आपका बल्ला कब बोलेगा?
जब भी आईपीएल का नया सीज़न शुरू होता है, तो संजू सैमसन की प्रतिभा और उनके प्रदर्शन की चर्चा ज़रूर होती है। इस बार भी वह प्रथा चलती आ रही है। पिछले कुछ वर्षों में सीज़न की शुरुआत में बड़े स्कोर बनाने वाले राजस्थान के कप्तान के बल्ले से पहले छह मैचों में केवल एक अर्धशतक निकला है। तीन बार 30 का आंकड़ा पार करने वाले सैमसन को अपनी शुरुआत को एक लंबी पारी में तब्दील करना होगा वरना यह टीम एक बल्लेबाज़ के भरोसे कब तक आगे जा पाएगी? साथ ही यह राजस्थान रॉयल्स के लिए सैमसन का 100वां मैच होगा और वह अपनी छाप छोड़ना चाहेंगे।
कुल-चा की जंग में कौन मारेगा बाज़ी?
'कुल-चा' नाम से प्रचलित कुलदीप यादव और युज़वेंद्र चहल की फिरकी जोड़ी लंबे समय तक भारत के लिए एक साथ गेंदबाज़ी करती थी। हालांकि ख़राब प्रदर्शन के कारण 2019 के बाद उन्हें भारतीय टीम में जगह बनाने के लिए संघर्ष करना पड़ा। 2022 में यह दोनों गेंदबाज़ अपनी फिरकी के कमाल से बल्लेबाज़ों को परेशान कर रहे हैं। यही कारण है कि सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज़ों की सूची में चहल पहले तो कुलदीप दूसरे स्थान पर हैं। वानखेड़े स्टेडियम में यह दोनों ही गेंदबाज़ मध्य ओवरों को अपने नाम करने का प्रयास करेंगे और हमें उच्च कोटी की स्पिन गेंदबाज़ी देखने को मिलेगी। साथ ही चहल के पास राजस्थान रॉयल्स के लिए एक सीज़न में सर्वाधिक विकेट लेने वाले स्पिनर बनने का बढ़िया अवसर हैं। फ़िलहाल उनके नाम 17 विकेट हैं और वह इस रिकॉर्ड को तोड़ने से चार विकेट दूर हैं।

अफ़्ज़ल जिवानी (@ jiwani_afzal) ESPNcricinfo हिंदी में सब एडिटर हैं।