फ़ीचर्स

आंकड़े झूठ नहीं बोलते : बुमराह और किशन रोक सकते हैं दिल्ली का मिशन

बुमराह ने ऋषभ पंत को टी20 में छह बार अपना शिकार बनाया है

Jasprit Bumrah celebrates after dismissing Robin Uthappa for 1, Mumbai Indians vs Chennai Super Kings, IPL 2022, Wankhede Stadium, Mumbai, May 12, 2022

विकेट लेने के बाद जश्न मनाते बुमराह  •  BCCI

शनिवार को दिल्ली कैपिटल्स और मुंबई इंडियंस के बीच आईपीएल के इस सीज़न का निर्णायक मुक़ाबला खेला जाना है। दिल्ली को प्लेऑफ़ में प्रवेश पाने के लिए यह मुक़ाबला हर हाल में जीतना है। ऐसे में इस मैच में मौजूद रहने वाले ऐसे खिलाड़ियों के आंकड़ों पर नज़र डालते हैं जो कि मुक़ाबले पर असर डाल सकते हैं।
किशन रोक सकते हैं दिल्ली का मिशन
दिल्ली कैपिटल्स की गेंदबाज़ी में उनके स्पिनर्स सबसे बड़ी भूमिका अदा करते हैं। कुलदीप यादव और अक्षर पटेल की जोड़ी बड़े से बड़े बल्लेबाज़ों को अपनी फिरकी में फंसाने का माद्दा रखती है लेकिन मुंबई के सलामी बल्लेबाज़ इशान किशन के आंकड़े इन दोनों ही गेंदबाज़ों के ख़िलाफ़ काफ़ी अच्छे हैं।
किशन ने टी20 में अक्षर पटेल की 34 गेंदों पर 150 के स्ट्राइक रेट से 51 रन बनाए हैं। अक्षर एक बार भी किशन को आउट नहीं कर पाए हैं। वहीं किशन ने कुलदीप की 20 गेंदों पर 190 के स्ट्राइक रेट से 38 रन बनाए हैं। हालांकि कुलदीप को किशन को आउट करने में एक बार सफलता भी मिली है।
अनरिख़ नॉर्खिए के ख़िलाफ़ तो किशन ने 240 के स्ट्राइक रेट से 15 गेंदों में 36 रन बनाए हैं। ऐसे में ज़ाहिर है कि इशान किशन अग़र जल्द ही आउट नहीं हुए तो वह दिल्ली के लिए परेशानी का बड़ा सबब बन सकते हैं क्योंकि अक्षर को छोड़ कर दिल्ली का एक भी गेंदबाज़ किशन को टी20 में आउट नहीं कर पाया है।
किशन के लिए उतार चढ़ाव भरा रहा है यह सीज़न
दिल्ली के गेंदबाज़ों के ख़िलाफ़ भले ही इशान के आंकड़े लाजवाब हों लेकिन दूसरी तरफ़ एक हक़ीकत यह भी है कि यह सीज़न उनके लिए काफ़ी उतार-चढ़ाव भरा रहा है। इशान ने इस सीज़न खेले अपने पहले दो मैचों में 135 रन बनाए, जबकि अगले सात मैचों में वह अपने खाते में बस 90 रन ही जोड़ पाए। इसके बाद बीते चार मुक़ाबलों में वह लय में वापस दिखे और चार मुक़ाबलों में उन्होंने कुल 135 रन बनाए हैं।
इशान ने इस सीज़न में अब तक 118 के स्ट्राइक रेट से ही रन बनाए हैं। जो कि इस सीज़न कम से कम 200 रन बनाने वाले बल्लेबाज़ों में संयुक्त रूप से दूसरा सबसे कम स्ट्राइक रेट है।
बुमराह की गेंदबाज़ी कर सकती है पंत और वॉर्नर को गुमराह
बल्लेबाज़ी में इशान किशन दिल्ली के मिशन को रोक सकते हैं तो वहीं गेंदबाज़ी में जसप्रीत बुमराह दिल्ली की राह में रोड़ा अटका सकते हैं। जसप्रीत बुमराह टी20 में कुल छह बार ऋषभ पंत को आउट कर चुके हैं। पंत ने 12 टी20 मुक़ाबलों में बुमराह की कुल 42 गेंदों का सामना करते हुए 47 रन ही बनाए हैं। वहीं बुमराह के विरुद्ध उनका औसत भी महज़ 7.8 का ही है।
पंत के अलावा बुमराह दिल्ली के सलामी बल्लेबाज़ और उनके इस सीज़न के लीडिंग रन स्कोरर डेविड वॉर्नर के लिए भी बड़ी चुनौती साबित हो सकते हैं। बुमराह ने टी20 में कुल दो बार वॉर्नर को अपना शिकार बनाया है। वॉर्नर ने बुमराह की 50 गेंदों का सामना करते हुए 56 रन बनाए हैं।
एक और ख़ास बात यह है कि शार्दुल ठाकुर को छोड़कर बुमराह के ख़िलाफ़ दिल्ली के किसी भी बल्लेबाज़ का स्ट्राइक रेट 150 के आसपास भी नहीं है। जबकि शार्दुल ने बुमराह की 7 गेंदों का सामना करते हुए 214 के स्ट्राइक रेट से 15 रन बनाए हैं।
असफलता के बाद घायल शेर बन जाते हैं वॉर्नर
आईपीएल के इस सीज़न में वॉर्नर के प्रदर्शन के साथ एक पैटर्न रहा है। इस सीज़न उन्होंने सस्ते में आउट हो जाने के बाद अगले मैच में कोई बड़ी पारी खेली है और उन बड़ी पारियों में दिल्ली को जीत भी मिली है। पिछले छह मुक़ाबलों को अगर सैंपल के तौर पर लिया जाए तो वॉर्नर ने 28 अप्रैल को कोलकाता के ख़िलाफ़ 42 रनों की पारी खेलकर दिल्ली की जीत में अहम भूमिका निभाई। इसके बाद वह 1 मई को लखनऊ के ख़िलाफ़ 4 रन पर ही आउट हो गए।
इसी क्रम में उन्होंने 5 मई को हैदराबाद के ख़िलाफ़ 92 नाबाद (जीत), 8 मई को चेन्नई के ख़िलाफ़ 19 (हार), 11 मई को राजस्थान के ख़िलाफ़ 52 (जीत) रनों की पारी खेली। वहीं 16 मई को पंजाब किंग्स के ख़िलाफ़ वह बिना खाता खोले ही पवेलियन लौट गए। हालांकि इस मुक़ाबले में दिल्ली जीतने में क़ामयाब हो गई।

नवनीत झा (@imnot_nav) ESPNcricinfo हिंदी में एडिटोरियल फ़्रीलांसर हैं।