मैच (9)
साउथ अफ़्रीका त्रिकोणीय सीरीज़ (1)
आईएलटी20 (1)
बीपीएल 2023 (2)
ज़िम्बाब्वे बनाम वेस्टइंडीज़ (1)
सुपर स्मैश (1)
भारत बनाम न्यूज़ीलैंड (1)
महिला अंडर-19 विश्व कप (1)
साउथ अफ़्रीका बनाम इंग्लैंड (1)
ख़बरें

ऑस्ट्रेलिया की परिस्थितियों में कारगर साबित हो सकते हैं अश्विन : वेटोरी

मुरलीधरन ने स्पिनरों को दिया उछाल भरी पिचों पर सफल होने का मंत्र

ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप के दौरान किस तरह के स्पिनर अधिक सफल होंगे? दिग्गज स्पिनर मुथैया मुरलीधरन के अनुसार विश्व कप में भी एशिया कप की तरह कलाइयों के स्पिनर अधिक सफल हो सकते हैं, वहीं डैनियल वेटोरी की माने तो उनके पड़ोसी मुल्क में आर अश्विन जैसे उंगलियों के स्पिनर ज़्यादा कारगर साबित होंगे। हालांकि दोनों इस बात पर सहमत हैं कि जो भी ऑस्ट्रेलिया की उछाल भरी पिचों पर बाउंस का प्रयोग करने में सफल होगा, वह कारगर साबित होगा।
वेटोरी का मानना है कि ऐसी पिचों पर जो भी स्पिनर टॉप स्पिन का प्रयोग करेगा, वह सफल होगा। वह नेथन लायन का उदाहरण भी देते हैं जो ऐसी पिचों पर टेस्ट क्रिकेट में लंबे समय तक सफल रहे हैं।
उन्होंने कहा, "न्यूज़ीलैंड, ऑस्ट्रेलिया और किसी हद तक इंग्लैंड में जो भी स्पिनर ड्रिफ़्ट का प्रयोग करेगा, सफल रहेगा। हमें यह भी पता है कि अश्विन टॉप स्पिन का प्रयोग बेहतरीन ढंग से करते हैं। उनका इस बार आईपीएल भी अच्छा गया है और वह ऐसे गेंदबाज़ हैं जो हर परिस्थितियों में ढल जाते हैं। उन्हें पता है कि उन्हें किस परिस्थिति में कैसी गेंदबाज़ी करनी है। वह कई बार ऑस्ट्रेलिया का दौरा भी कर चुके हैं, उनका यह अनुभव भी काम आ सकता है।"
वहीं मुरलीधरन का मानना है कि ऑस्ट्रेलिया में लेग स्पिनर अधिक सफल होंगे। उन्होंने कहा, "लेग स्पिनरों को ऑस्ट्रेलिया में साइडवे स्पिन मिलेगा और उन्हें बाउंस से भी मदद मिलेगी। मुझे लगता है कि हसरंगा के ख़िलाफ़ बल्लेबाज़ी करना मुश्किल होगा, बल्लेबाज़ों को उनको संभलकर खेलना होगा।"
उन्होंने आगे कहा, "हसरंगा एक बेहतरीन टी20 गेंदबाज़ हैं। वह आईपीएल में आरसीबी के लिए भी बहुत सफल हुए थे। पिछले दो-तीन साल में उन्होंने बेहतरीन गेंदबाज़ी की है। वह अभी युवा हैं और अगर उनमें कोई कमी भी होगी तो श्रीलंका के स्पिन गेंदबाज़ी कोच उनकी मदद के लिए हैं।"
एशिया कप विजेता श्रीलंकाई टीम को इस विश्व कप में अपनी रैंकिंग के कारण क्वालीफ़ाइंग राउंड भी खेलना होगा, फिर वह अगले चरण सुपर-12 में प्रवेश कर पाएंगे। हालांकि मुरलीधरन को इसकी अधिक चिंता नहीं है। उन्होंने कहा, "हमारी टीम बहुत युवा है। हां, अब उन्हें कुछ अनुभव हो चुका है और उन्होंने एशिया कप में बेहतरीन खेल दिखाया है। वे एशिया कप जीतने के हक़दार थे। मुझे पूरा विश्वास है कि वे विश्व कप में भी अच्छा करेंगे।"

श्रेष्ठ शाह ESPNcricinfo में सब एडिटर हैं