मैच (15)
IPL (3)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
ACC Premier Cup (2)
Women's Tri-Series (1)
फ़ीचर्स

छह ऐसे प्लेयर जिन्हें आईपीएल मिनी ऑक्शन में मिल सकती है सबसे ज़्यादा रक़म

क्या सैम करन के लिए आईपीएल इतिहास की सबसे बड़ी बोली लगाई जाएगी?

आईपीएल इतिहास में मिनी ऑक्शन में ही कई बार सबसे महंगे खिलाड़ी ख़रीदे गए हैं। 2021 में क्रिस मॉरिस सबसे महंगे खिलाड़ी बने थे। उन्हें राजस्थान रॉयल्स ने सवा 16 करोड़ रुपये में ख़रीदा था। यह 2015 में युवराज सिंह के लिए दिल्ली डेयरडेविल्स के द्वारा लगाई गई बोली से 25 लाख रुपये अधिक था। 2020 में कोलकाता नाइट राइडर्स ने पैट कमिंस को साढ़े 15 करोड़ रुपये में ख़रीदा, जबकि बेन स्टोक्स को 2017 में राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स ने साढ़े 14 करोड़ रुपये देकर अपनी टीम में शामिल किया था।
2023 की नीलामी भी मेगा नहीं है। ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो ने आधा दर्जन नामों पर गौर किया है, जिनके लिए 23 दिसंबर को कोच्चि में सबसे ऊंची बोली लगाई जा सकती है।
सेट 2 - ऑलराउंडर। बेस प्राइस: 2 करोड़ रुपये
यह कोई ताज्जुब की बात नहीं होगी, अगर करन आईपीएल नीलामी के इतिहास में सबसे महंगी ख़रीद का सर्वकालिक रिकॉर्ड तोड़ दें। इसका सबसे बड़ा कारण यह है कि वह एक ऐसे खिलाड़ी हैं, जिस पर लंबे समय तक के लिए निवेश किया जा सकता है। करन ने साबित कर दिया है कि वह गेंद या बल्ले से प्रभाव पैदा कर सकते हैं। 2019 में पंजाब किंग्स ने 7.2 करोड़ की राशि देकर अपनी टीम में शामिल किया था। एक साल बाद 2021 में करन ने चेन्नई सुपर किंग्स के साथ आईपीएल का ख़िताब हासिल किया। आईपीएल 2022 में चोट के कारण वह हिस्सा नहीं ले पाए थे। इस साल सितंबर से करन ने 14 टी20 में 7.08 की इकॉनमी रेट से 25 विकेट लिए हैं, जिसमें टी20 विश्व कप में छह मैचों में 6.52 की औसत से 13 विकेट शामिल हैं। उन्होंने स्पिन के ख़िलाफ़ अपनी बल्लेबाज़ी में भी सुधार किया है: 2020 के बाद से 31 टी20 पारियों में उनका औसत 27.07 और स्ट्राइक रेट 154.69 है।
सनराइज़र्स हैदराबाद और पंजाब किंग्स के पर्स में काफ़ी रुपए पड़े हुए हैं। इसके अलावा और भी कई टीमें करन के लिए बोली लगा सकती है।
आईपीएल रिकॉर्ड: 32 मैचों में 32 विकेट, 9.21 का इकॉनमी रेट। बल्ले से उन्होंने 149.77 की स्ट्राइक रेट से 337 रन बनाए हैं, जिसमें दो अर्धशतक शामिल हैं।
सेट 2: ऑलराउंडर। बेस प्राइस: 2 करोड़ रुपये
एक सिद्ध कप्तान। दबाव वाले क्षणों में स्पष्ट मानसिकता । मैच जिताने वाला ऑलराउंडर। बेहतरीन क्षेत्ररक्षक। पथप्रदर्शक। इन शब्दों में से कोई भी शब्द आप स्टोक्स के लिए बड़ी आसानी से उपयोग में ला सकते हैं। इसी कारण से कई टीमें स्टोक्स को अपने दल में शामिल करना चाहेगी। नीलामी सूची में अपना नाम डालने से पहले आईपीएल सर्किट में अफ़वाहें थीं कि लखनऊ सुपर जायंट्स उन्हें ख़रीदने के लिए पूरी ताक़त लगा देगा। संजीव गोयनका (उनके मालिक) स्टोक्स के बहुत बड़े प्रशंसक हैं और उन्होंने 2017 में उन्हें राइजिंग पुणे सुपरजायंट्स की टीम में शामिल करने के लिए साढ़े 14 करोड़ का भुगतान किया था। लखनऊ के पास ख़र्च करने के लिए 23.35 करोड़ रुपये हैं और उन्होंने जेसन होल्डर को रिलीज़ कर दिया है, इसलिए उन्हें एक ऑलराउंडर की तलाश भी है। हालांकि अन्य कई और टीमें भी स्टोक्स को अपनी टीम में शामिल करने के लिए एड़ी-चोटी का ज़ोर लगा देगी।
स्टोक्स आख़िरी बार राजस्थान की तरफ़ से 2021 में खेले थे। हालांकि उंगली की चोट के कारण उन्हें बीच में ही इंग्लैंड वापस जाना पड़ा था। राजस्थान ने उन्हें 2020 में एक सलामी बल्लेबाज़ के रूप में आज़माया था। उस दौरान उन्होंने आठ मैचों में एक शतक और एक अर्धशतक लगाया था और 40.71 की औसत से 285 रन भी बनाया था।
आईपीएल रिकॉर्ड: 43 मैचों में 920 रन, स्ट्राइक रेट 134.50, दो शतक और दो अर्द्धशतक। गेंद के साथ उन्होंने 8.55 की इकॉनमी रेट से 28 विकेट लिए हैं।
सेट 3: विकेटकीपर-बल्लेबाज़। बेस प्राइस: 2 करोड़ रुपये
2022 में मेगा नीलामी में सनराइज़र्स ने सुपर किंग्स और नाइट राइडर्स की कड़ी प्रतिस्पर्धा को मात देकर पूरन को 10.75 करोड़ रुपये में ख़रीदा था। पूरन ने उस सीज़न में 38.25 की औसत और 144.33 के अच्छे स्ट्राइक रेट से दो अर्द्धशतकों सहित 306 रन बनाए। हैदराबाद की टीम के द्वारा रिलीज़ किए जाने के बाद भले ही पूरन हैरान होंगे लेकिन उसके साथ-साथ वह इस बात को भी लेकर आश्वस्त होंगे कि कई टीमें उनकी पावरहिटिंग के कारण उनके लिए बोली लगाएगी। जैसा कि अबू धाबी टी10 में दिखा भी था। पूरन ने वहां अपने 345 रन बनाए और प्लेयर ऑफ़ द टूर्नामेंट का पुरस्कार जीता था। उन्होंने ये रन 49.28 की औसत के साथ-साथ 234.69 के शानदार स्ट्राइक रेट के साथ बनाए थे।
हालांकि पूरन का हालिया टी20 फ़ॉर्म निराशाजनक रहा है: अगस्त के बाद से उन्होंने 20 पारियों में 10.80 की औसत और 114.28 की स्ट्राइक से 216 रन बनाए हैं। फिर भी वह सभी प्रकार की गेंदबाज़ी पर हावी होने की क्षमता के साथ पूरन सबसे बड़े पॉवर हिटर्स में से एक हैं।
आईपीएल में स्पिन के ख़िलाफ़ उनका स्ट्राइक रेट 31 पारियों में 42.11 की औसत के साथ 152.20 का है। 39 आईपीएल पारियों में तेज़ गेंदबाज़ों के ख़िलाफ़ पूरन ने 22.20 की औसत से 151.42 के स्ट्राइक रेट से 533 रन बनाए हैं।
आईपीएल रिकॉर्ड: 47 मैचों में 26.05 औसत, 151.24 का स्ट्राइक रेट, 912 रन।
पिछला आईपीएल: 2022 में सनराइज़र्स के लिए खेलते हुए, पूरन ने 38.25 की औसत, 144.33 के स्ट्राइक रेट से दो अर्द्धशतक के साथ 306 रन बनाए।
सेट 1: बल्लेबाज़। बेस प्राइस 1.5 करोड़ रुपये
जब स्टोक्स कहते हैं कि उन्हें हैरी ब्रूक में थोड़ा सा विराट कोहली की झलक दिखाई देती है, तो इस 23 वर्षीय बल्लेबाज़ में ज़रूर कुछ ख़ास होगा। क्लीन पावर-हिटिंग ब्रूक की सबसे बड़ी ताक़त है। अगस्त में पाकिस्तान में सात मैचों की टी20 सीरीज़ में ब्रूक ने 163.01 के स्ट्राइक रेट से 238 रन बनाए थे और प्लेयर ऑफ़ द सीरीज़ का पुरस्कार जीता था।
ख़राब टी20 विश्व कप के तुरंत बाद पाकिस्तान में ब्रूक ने पहले दो टेस्ट में शानदार शतक लगा कर अपनी क्षमता दिखाई और मुल्तान में प्लेयर ऑफ़ द मैच का पुरस्कार जीता। एशियाई धरती पर उनके टी20 के आंकड़े काफ़ी प्रभावशाली हैं। उन्होंने 16 पारियों में 64.55 की औसत से 581 रन बनाए हैं। ब्रूक मध्य क्रम के साथ-साथ फ़िनिशर के रूप में भी खेल सकते हैं।
सेट 1: बल्लेबाज़। बेस प्राइस: 1 करोड़
2020 के बाद से अग्रवाल का आईपीएल में स्ट्राइक रेट ओपनिंग बल्लेबाज़ के तौर पर इस टूर्नामेंट का तीसरा सर्वश्रेष्ठ है। अग्रवाल ने 31 मैचों में 144.50 के स्ट्राइक रेट और 34.20 की औसत से एक शतक के साथ 1026 रन बनाए हैं। 2020 और 2021 सीज़न में अग्रवाल ने 23 पारियों में 865 रन बनाए थे।
सनराइज़र्स हैदराबाद, पंजाब किंग्स, गुजरात टाइटंस, सुपर किंग्स और नाइट राइडर्स सभी को एक विशेषज्ञ सलामी बल्लेबाज़ या शीर्ष क्रम के बल्लेबाज़ की ज़रूरत है, जो अग्रवाल को अच्छी क़ीमत दिला सकता है। हालांकि उनके पिछले फ़ॉर्म में भारी गिरावट आई है लेकिन उनमें भरपाई करने की क्षमता है। आईपीएल रिकॉर्ड: 113 मैचों में 2327 रन, औसत: 22.59, स्ट्राइक रेट:134.27, एक शतक और 12 अर्धशतक
पिछला आईपीएल: 2022 में किंग्स के लिए खेलते हुए, अग्रवाल ने 13 मैचों में 16.33 की औसत और 122.50 के स्ट्राइक रेट से एक अर्धशतक के साथ 196 रन बनाए थे।
सेट 2: ऑलराउंडर। बेस प्राइस: 2 करोड़ रुपये
गोल्फ़ खेलते समय जाॉश इंग्लिस के हाथ में चोट लगने के बाद ऑस्ट्रेलिया ने कैमरन ग्रीन को अपने टी20 विश्व कप टीम में शामिल करने का एक तरीक़ा ढूंढ कर निकाला था। ग्रीन ने उस विश्व कप से ठीक पहले भारत में काफ़ी शानदार प्रदर्शन किया था। उस दौरान तीन टी20 में बल्लेबाज़ी की शुरुआत करते हुए ग्रीन ने 214.54 के स्ट्राइक रेट से दो अर्द्धशतकों के साथ 118 रन बनाए थे। इस तेज़ गेंदबाज़ी ऑलराउंडर के लिए बोली लगाने के लिए कई टीमें इच्छुक होंगी।

नागराज गोलापुड़ी ESPNcricinfo के न्यूज़ एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर राजन राज ने किया है।