ख़बरें

हमारी टीम चुनौतियों से नहीं डरती: जो रूट

रूट ने स्वीकार किया कि उनकी टीम का क्षेत्ररक्षण और पहली पारी में बल्लेबाज़ी का प्रदर्शन काफ़ी निराशजनक था

Joe Root walks off with a raised his bat after making 89, Australia vs England, The Ashes, 1st Test, 4th day, Brisbane, December 11, 2021

दूसरी पारी में रूट ने 89 रनों की पारी खेली  •  AFP

जो रूट ने जोर देकर कहा है कि इंग्लैंड गाबा में नौ विकेट से मिली हार से आराम से उबर सकता है और उनकी टीम चुनौती से नहीं डरती लेकिन उन्होंने स्वीकार किया कि उनकी टीम का क्षेत्ररक्षण और पहली पारी में बल्लेबाज़ी का प्रदर्शन काफ़ी निराशजनक था।
इंग्लैंड पहली पारी में दो सत्रों के भीतर 147 रन पर आउट हो गया था। पहले दिन टॉस जीत कर रूट ने एक मुश्किल पिच पर पहले बल्लेबाज़ी करने का विकल्प चुना था। पहली पारी में इतने कम स्कोर पर आउट होने के बाद जब इंग्लैंड की टीम क्षेत्ररक्षण करने उतरी तो उन्होंने पांच कैच छोड़े और कम से कम दो रन आउट के मौके़ गंवाए। ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 278 रन की अहम बढ़त हासिल की। रूट ने कहा कि उनके पक्ष ने अतीत में हार का अच्छा जवाब दिया है, लेकिन उन्होंने यह भी स्वीकार किया कि उनके टीम का प्रदर्शन का स्तर इस मैच में काफ़ी ख़राब था।
उन्होंने बीटी स्पोर्ट से बात करते हुए कहा, "हम एक ऐसी टीम हैं जिसने हाल के दिनों में इस तरह की स्थितियों के लिए हमेशा अच्छी प्रतिक्रिया दी है। हम चुनौतियों से नहीं डरते। हम कठिन परिणाम का सामना करने से नहीं डरते हैं और हमें बस यह सुनिश्चित करना होगा कि हम इस तरह के परिणाम के बाद ठीक उसी तरह की प्रक्रिया दें, जैसा हम अतीत में देते आए हैं।"
"टॉस के बारे में मुझे लगता है कि यह सही निर्णय था, लेकिन जब आप की टीम ने 40 [29] के स्कोर पर 4 विकेट गंवा दिए हों तो मैच में वापसी करना मुश्किल होता है। हमने गेंद के साथ इतने सारे मौके़ बनाए। मुझे लगा कि हमारे गेंदबाज़ उत्कृष्ट थे।"
"मैंने सोचा था कि हमारे तेज़ गेंदबाज़ शानदार थे, विशेष रूप से वुडी (मार्क वुड) और रोबो (ऑली रॉबिन्सन) ने गेंद के साथ काफ़ी बढ़िया प्रदर्शन किया। हमने बहुत सारे मौके बनाए लेकिन उन्हें भुना नहीं पाए। हम क्षेत्ररक्षण में बेहतर होना चाहते हैं। अगर हम वैसा कर पाते तो यह खेल थोड़ा अलग दिखता। दूसरी पारी में हम 150 से भी ज़्यादा रनों की बढ़त ले सकते थे लेकिन हम ऐसा नहीं कर पाए।"
रूट ने जेम्स एंडरसन और स्टुअर्ट ब्रॉड को टीम शामिल नहीं करने के फ़ैसले का भी बचाव किया और जैक लीच के 13 ओवरों में 102 रन देकर 1 विकेट लेने के प्रदर्शन का भी बचाव किया और जोर देकर कहा कि लीच शेष श्रृंखला में "एक अहम योगदान" दे सकते हैं।
" जैक एक अच्छा स्पिनर है। उन्होंने 20 से अधिक टेस्ट में बढ़िया प्रदर्शन कर के दिखाया है। मुझे यकीन है कि वह इस श्रृंखला में एक अहम भूमिका निभाएंगे।" पीछे मुड़कर देखना आसान है। एक बात मैं कहूंगा कि हम अपने आक्रमण में बदलाव चाहते थे। हम खेल की गति को बदलना चाहते थे और पूरी पारी में अलग-अलग गियर के माध्यम से आगे बढ़ना चाहते थे। यह कहना आसान है। कि एंडरसन या ब्रॉड को खेलना चाहिए था।
उन्होंने कहा, "इन पांच मैचों की श्रृंखला के साथ, यह वास्तव में महत्वपूर्ण है कि हम इसके पीछे खुद के लिए बहुत खेद महसूस न करें। किसी भी चीज़ से अधिक, हमें यह याद रखना होगा कि हमें काफ़ी क्रिकेट खेलना है और हमें इसका आनंद लेना चाहिए।"

मैट रोलर ESPNcricinfo के अस्सिटेंट एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर राजन राज ने किया है।