मैच (17)
IPL (2)
ACC Premier Cup (2)
Pakistan vs New Zealand (1)
PAK v WI [W] (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
Women's QUAD (2)
ख़बरें

रबाडा: बल्लेबाज़ों को धैर्य और समझ रखने की ज़रूरत

"यह एक टीम के रूप में निराशाजनक है लेकिन आपको यह समझना होगा कि कभी-कभी टीम के पुनर्निर्माण के दौर में ऐसा होता है"

रबाडा ने कहा जल्द ही बल्लेबाज़ फ़ॉर्म में लौटेंगे  •  Associated Press

रबाडा ने कहा जल्द ही बल्लेबाज़ फ़ॉर्म में लौटेंगे  •  Associated Press

साउथ अफ़्रीका के तेज़ गेंदबाज़ी आक्रमण के अगुआ कगिसो रबाडा ने ख़राब फ़ॉर्म से जूझ रहे अपने बल्लेबाज़ी लाइनअप को धैर्य और समझ रखने को कहा है। वहीं उन्होंने यह भी स्वीकार किया कि उनके प्रदर्शन को स्वीकार करना एक टीम के रूप में निराशाजनक है।
सामूहिक रूप से साउथ अफ़्रीका के बल्लेबाज़ों के लिए 2022 सबसे ख़राब टेस्ट साल रहा है और वे अपने इतिहास में सर्वाधिक आठ बार 200 से कम के स्कोर पर इसब्साल निपटे हैं। जब साउथ अफ़्रीका के तेज़ गेंदबाज़ी आक्रमण की उत्कृष्टता के सामने तुलना की जाती है तो उनका ख़राब प्रदर्शन और भी बुरा लगता है - उदाहरण के लिए अब तक आठ मैचों में 45 विकेट लेकर रबाडा इस साल सबसे ज़्यादा टेस्ट विकेट लेने वाले गेंदबाज़ों में से हैं।
दो चीज़ों में साउथ अफ़्रीका की क्षमता के बीच अंतर बढ़ती जा रही है, ख़ासकर जब उन्हें नियमित रूप से मार्को यानसन जैसे असाधारण तेज़ गेंदबाज़ मिल रहे हैं, जबकि बल्लेबाज़ी का कोई भी संयोजन अभी तक पूरी तरह से काम नहीं कर पाया है। लेकिन रबाडा ने कहा कि बल्लेबाज़ों को लय पकड़ने से पहले यह सिर्फ़ समय की बात है।
रबाडा ने कहा, "हमारे पास जो बल्लेबाज़ी क्रम है, वह काफ़ी अनुभवहीन है। डीन एल्गर हमारे सबसे अनुभवी खिलाड़ी हैं जिनके बाद मैं और तेम्बा (बवूमा) हैं। मैंने क़रीब 50 टेस्ट मैच खेले हैं और बाक़ी सभी ने ज़्यादा नहीं खेला है। इससे निराशा भी हो सकती है और जब मैं निराशाजनक कहता हूं तो मेरा मतलब बल्लेबाज़ों पर निशाना साधना नहीं है। यह एक टीम के रूप में निराशाजनक है और आपको यह समझना होगा कि कभी-कभी पुनर्निर्माण के दौर में ऐसा होता है।"
एल्गर ने 80 टेस्ट खेले हैं, जो मौजूदा साउथ अफ़्रीकी टीम में सबसे ज़्यादा है, इसके बाद रबाडा ने 56 और बवूमा ने 52 टेस्ट खेले हैं। शीर्ष छह के बाकी बल्लेबाज़ों सारेल अर्वी, रासी वान दर दुसें, खाया ज़ॉन्डो और काइल वेरेन ने मिलकर 41 टेस्ट खेले हैं, जिसका मतलब है कि साउथ अफ़्रीका शीर्ष छह ने कुल 173 टेस्ट खेले हैं। गाबा में जो एकादश ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ खेली उसने सामूहिक रूप से 315 टेस्ट मैच खेले हैं। तुलनात्मक रूप से ऑस्ट्रेलिया के सबसे अनुभवी खिलाड़ी नेथन लायन हैं, जिन्होंने 113 मैच खेले हैं और उनके सबसे अनुभवी बल्लेबाज़ डेविड वॉर्नर हैं, जिनके नाम 99 टेस्ट है। गाबा में खेले ऑस्ट्रेलियाई शीर्ष छह ने 313 टेस्ट खेले हैं, जो साउथ अफ़्रीका के पूरे एकादश से सिर्फ़ दो कम है। लिहाज़ा अनुभव के स्तर में अंतर को लेकर रबाडा का मत सही है, जिस पर उन्होंने ज़ोर दिया कि इसका कोई विकल्प नहीं है।
उन्होंने कहा, "मैं सितारों से सजी टीम में खेल चुका हूं, जहां आप वास्तव में महान खिलाड़ियों के साथ खेल रहे होते हैं। मुझे नहीं लगता कि ऐसा अक्सर होता है। अब हम जिस स्थिति का सामना कर रहे हैं, उसमें बहुत सारे खिलाड़ी हैं जो अभी आए हैं, जिनके पास क्षमता है लेकिन उन्हें अंतरराष्ट्रीय सर्किट के लिए अभ्यस्त होने की आवश्यकता है। इसलिए धैर्य और समझ होना चाहिए लेकिन साथ ही आप ख़राब प्रदर्शन की वकालत नहीं कर सकते। हालांकि हम काफ़ी सकारात्मक हैं।"

फ़िरदौस मूंडा ESPNcricinfo की साउथ अफ़्रीका संवाददाता हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के एडिटोरियल फ़्रीलांसर कुणाल किशोर ने किया है।