मैच (17)
T20 वर्ल्ड कप (5)
SL vs WI [W] (1)
T20 Blast (8)
CE Cup (3)
ख़बरें

डुप्लेसी : रांची की टेस्ट पिच की तरह बर्ताव कर रही थी चिन्नास्वामी की पिच

डुप्लेसी ने प्लेयर ऑफ़ द मैच का अवॉर्ड यश दयाल को दिया

IPL 2024 के प्लेऑफ़ में पहुंचने के लिए चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) को रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) के ख़िलाफ़ अंतिम दो गेंदों में 10 रनों की दरकार थी। यही समीकरण पिछले सीज़न के फ़ाइनल को जीतने के लिए भी था और इस बार भी रविंद्र जाडेजा ही स्ट्राइक पर थे।
हालांकि CSK इतिहास नहीं दोहरा पाई और RCB इस सीज़न की अपनी लगातार छठी जीत दर्ज कर अंतिम चार में प्रवेश कर गई। RCB की यह वापसी टी20 इतिहास की बेहतरीन वापसियों में से एक है और इसे सुनिश्चित करने में यश दयाल ने भी एक अहम भूमिका निभाई।
RCB के कप्तान फ़ाफ़ डुप्लेसी को उनके अर्धशतक और मिडऑफ़ पर मिचेल सैंटनर का एक अविश्वसनीय कैच लपकने के लिए प्लेयर ऑफ़ द मैच चुना गया। हालांकि ख़ुद डुप्लेसी ने कहा कि इस अवॉर्ड के असली हक़दार दयाल हैं, जिन्होंने ना सिर्फ़ एक गीली गेंद के साथ गेंदबाज़ी की बल्कि दबाव को अपने ऊपर हावी नहीं होने दिया।
डुप्लेसी ने कहा, "मैच काफ़ी क़रीब चला गया था। एक समय जब एमएस धोनी बल्लेबाज़ी कर रहे थे तब मैं यही मना रहा था कि वो अपनी लय प्राप्त नहीं कर पाएं क्योंकि इस स्थिति से वह कई बार मैच को अपनी टीम के पक्ष में झुका चुके हैं। यह अवॉर्ड मैं यश दयाल को समर्पित करना चाहता हूं क्योंकि मैच के बैकएंड में एक युवा गेंदबाज़ का इस तरह से गेंदबाज़ी करना वाकई अविश्वसनीय है।"
डुप्लेसी ने दयाल को अंतिम ओवर में स्लो गेंदें करने की ही सलाह दी थी क्योंकि यॉर्कर के प्रयास में CSK के गेंदबाज़ 16 तो RCB के गेंदबाज़ 6 फ़ुल टॉस गेंदें डाल चुके थे। इसलिए RCB के कप्तान ने दयाल को यॉर्कर के बजाय स्लोअर गेंदें करने के लिए ही कहा।

यह पिच रांची के पांच दिवसीय टेस्ट मैच की तरह बर्ताव कर रही थी

बारिश के बाद बेंगलुरु की पिच स्पिनरों को मदद पहुंचाने लगी थी और खेल के दोबारा शुरू होने के आधे घंटे बाद तक CSK के स्पिनर्स को घुमाव भी प्राप्त हो रहा था। ख़ुद डुप्लेसी ने भी माना कि वह बल्लेबाज़ी के लिए सबसे कठिन समय था।
डुप्लेसी ने कहा, "मुझे लगा कि मैंने बारिश के बाद अब तक सबसे मुश्किल पिच पर यहीं बल्लेबाज़ी की। यह इतनी मुश्किल प्रतीत हो रही थी कि मैं और विराट (कोहली) तो 140-150 के टोटल तक पहुंचने की बात कर रहे थे। यह रांची के पांच दिवसीय टेस्ट मैच की तरह बर्ताव कर रही थी और वहां से 200 के स्कोर को पार करना अविश्वसनीय था।"
डुप्लेसी ने RCB के प्रशंसकों का भी उनके समर्थन के लिए आभार व्यक्त किया। ख़ास तौर पर तब जब RCB लगातार हार झेल रही थी।
उन्होंने कहा, "जब हम जीत नहीं रहे थे तब भी प्रशंसक हमारे साथ खड़े थे। जिस तरह का समर्थन हमें मिला इसके लिए हम प्रशंसकों के शुक्रगुज़ार हैं। एक टीम के तौर पर हम इस अपार समर्थन के लिए उन्हें लैप ऑफ़ ऑनर भी देंगे।"