मैच (14)
IPL (3)
Pakistan vs New Zealand (1)
ACC Premier Cup (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
ख़बरें

राशिद के तरकश में अभी भी कई नए तीर हैं

हालांकि वह प्रयोग के चक्कर में गेंद पर से अपना नियंत्रण नहीं खोना चाहते हैं

आयरलैंड के ख़िलाफ़ बल्लेबाज़ी करते राशिद  •  Sportsfile/Getty Images

आयरलैंड के ख़िलाफ़ बल्लेबाज़ी करते राशिद  •  Sportsfile/Getty Images

राशिद ख़ान दुनिया के सर्वश्रेष्ठ टी20 खिलाड़ियों में से एक हैं। वह अपनी गेंदबाज़ी में विविधता लाने के लिए नए-नए प्रयोग भी करते रहते हैं। हालांकि वह नई तरह की गेंदों का मैच में तब ही प्रयोग करते हैं जब वह नेट्स में उसे लेकर पूरी तरह से आश्वस्त हो जाएं। हाल ही में उन्होंने धीमी लेग स्पिन गेंदों को मैच में आज़माया है। इस लेग स्पिनर के अनुसार उनके तरकश में अभी भी कई नए तीर हैं।
राशिद के नाम टी20 मैचों में 17.89 की औसत और 6.39 की इकॉनमी से 469 विकेट है। उनका मानना है कि प्रयोग करने के चक्कर में गेंदबाज़ को गेंद पर से अपना नियंत्रण नहीं खो देना चाहिए।
ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो से बातचीत में उन्होंने कहा, "मैं नई-नई तरह की गेंदों को फेंकने का प्रयास करता रहता हूं। अभी मैं ऐसी ही कुछ नई गेंदों का अभ्यास नेट्स में कर रहा हूं। इससे पहले मैंने स्लो लेग स्पिन गेंदों पर काम किया था और उन्हें पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) और बांग्लादेश के ख़िलाफ़ सीरीज़ में आज़माया था। यह प्रयोग अच्छा गया था लेकिन अभी मुझे इस पर और नियंत्रण लाना होगा। इसके अलावा मैं कुछ अन्य नई गेंदों पर भी काम कर रहा हूं। हालांकि किसी मैच में प्रयोग करने से पहले मुझे इस पर और अभ्यास करना होगा। एशिया कप और विश्व कप में मैं अपनी पुरानी गेंदों का ही प्रयोग करूंगा क्योंकि निरंतरता सबसे महत्वपूर्ण है।"
उन्होंने आगे कहा, "मैं चीज़ों को सरल रखना चाहता हूं। मैं इस बारे में अधिक नहीं सोचता कि कल क्या होगा? मेरे दिमाग़ में हमेशा बस यही चलता है कि कैसे में निरंतरता के साथ अच्छी लाइन-लेंथ पर गेंदबाज़ी करूं। मेरे पास वह नियंत्रण है और जब तक नियंत्रण है, तब तक चीज़ें मेरे लिए बहुत सरल हैं।"
राशिद कहते हैं, "जब कोई बल्लेबाज़ मुझ पर आक्रमण करता है, तो मुझे पता होता है कि विकेट मिलने वाला है और जब आक्रमण नहीं भी करता है तब भी मुझे पता होता है कि इससे दबाव बनेगा और मुझे ही फ़ायदा होगा। कई बार इससे मुझे नहीं विकेट मिलता है लेकिन मेरे साथी गेंदबाज़ को फ़ायदा मिल जाता है। यही टीम योजना होती है।"
राशिद हाल ही में द हंड्रेड टूर्नामेंट में खेल रहे थे। इसके बाद उन्होंने आयरलैंड के ख़िलाफ़ पांच मैचों की टी20 सीरीज़ में भाग लिया। अब वह एशिया कप के लिए रवाना होंगे और उसके बाद उन्हें ऑस्ट्रेलिया में टी20 विश्व कप खेलना है। विश्व कप के बाद वह ऑस्ट्रेलिया में बिग बैश लीग (बीबीएल) और फिर साउथ अफ़्रीका में होने वाली टी20 लीग में भाग लेंगे, जहां वह माय केपटाउन टीम का हिस्सा हैं। यह दिखाता है कि राशिद कितने व्यस्त टी20 क्रिकेटर हैं और दुनिया भर में घूम-घूम कर लीग क्रिकेट खेलते हैं।
इस बारे में राशिद कहते हैं, "एक क्रिकेटर के रूप में आपको हमेशा यह बात पता होनी चाहिए कि आप कितना क्रिकेट खेल सकते हैं, आपका शरीर कितना लोड सहन कर सकता है? हमारा (अफ़ग़ानिस्तान का) अंतर्राष्ट्रीय कैलेंडर उतना व्यस्त नहीं है। अगर हमारे पास भी हर साल 10 टेस्ट मैच खेलने को होते तो मैं भी कई लीग में कुछ को चुनता। लेकिन ऐसा नहीं है। हम साल भर में मुश्किल से एक या दो टेस्ट मैच खेलते हैं, जिससे मुझे दुनिया भर में खेलने में आसानी होती है।"

ऐंड्रयू मक्ग्लैशन ESPNcricinfo में डिप्टी एडिटर हैं