मैच (7)
IND v SA [W] (1)
T20 वर्ल्ड कप (2)
CE Cup (4)
फ़ीचर्स

आंकड़े झूठ नहीं बोलते : आवेश का मुंबई के विरुद्ध अविश्वसनीय रिकॉर्ड

यह मुक़ाबला आईपीएल के दो महानतम खिलाड़ियों को कप्तानी और बल्लेबाज़ी में आमने-सामने लाएगा

Avesh Khan struck first ball, hitting Jos Buttler's stumps, Lucknow Super Giants vs Rajasthan Royals, IPL 2022, Wankhede Stadium, Mumbai, April 10, 2022

आवेश का मुंबई के विरूद्ध बेहतरीन रिकॉर्ड रहा है  •  BCCI

मुंबई इंडियंस का लखनऊ सुपर जायंट्स के ख़िलाफ़ मुक़ाबला ना सिर्फ़ उनके सीज़न को पलटने के लिए ज़रूरी है बल्कि उन्हें एक अप्रिय रिकॉर्ड की बराबरी करने से बचने के लिए भी इस मैच को जीतना पड़ेगा। अगर मुंबई यह मैच हारता है तो वह 2013 की दिल्ली और 2019 की बेंगलुरु टीमों की बराबरी कर लेगा जिन्होंने अपने पहले छह मुक़ाबले हारे और अंक तालिका में अंतिम स्थान हासिल किया था। आइए नज़र डालते हैं इस मैच से जुड़े मज़ेदार आंकड़ों पर।
रोहित बनाम राहुल
भारतीय टीम में हर प्रारूप में अक्सर सलामी जोड़ीदार रोहित शर्मा और के एल राहुल इस मैच में अपनी-अपनी टीम की कमान संभालेंगे और यह कहना ग़लत नहीं होगा कि उन पर अपने टीम की बल्लेबाज़ी निर्भर होगी। राहुल अपना 100वां आईपीएल मैच खेलेंगे और उन्होंने 2016 से हर साल निरंतरता के साथ रन बनाए हैं और 2018 के बाद से उनके 60 पारियों में बने 2680 रन किसी भी बल्लेबाज़ से ज़्यादा हैं। अब तक इस सीज़न में उन्हें दो बार उनकी पारी की पहली गेंद पर गेंदबाज़ो ने आउट किया है लेकिन यह विपक्ष टीम उनके पसंद की है।
राहुल ने मुंबई के ख़िलाफ़ अपने आईपीएल जीवन के एक टीम के विरुद्ध सर्वाधिक 661 रन बनाए हैं। 14 पारियों में 66.1 के औसत से बने यह रन इकलौता अवसर है जब किसी बल्लेबाज़ ने न्यूनतम 10 पारियों में मुंबई के विरुद्ध 50 से अधिक का औसत बनाए रखा हो।
वैसे रोहित भी सर्वाधिक रन बनाने वालों की सूची में केवल विराट कोहली और शिखर धवन से पीछे हैं। उन्होंने इस साल लगभग हर पारी में तेज़ शुरुआत दी है लेकिन पहले मुक़ाबले में 41 बनाने के बाद 28 का स्कोर पार नहीं कर पाए हैं। उनके लिए एक और चुनौती बनेंगे विपक्षी गेंदबाज़ दुश्मांता चमीरा जिन्होंने उन्हें टी20 क्रिकेट में नौ पारियों में छह बार आउट किया है। चमीरा के ख़िलाफ़ रोहित का औसत है सिर्फ़ 5.3 का।
बिश्नोई की अजगर जैसी पकड़
मुंबई की बल्लेबाज़ी चार बड़े खिलाड़ियों पर काफ़ी निर्भर रहती है - रोहित, इशान किशन, सूर्यकुमार यादव और कायरन पोलार्ड। इन चारों को लेग स्पिनर रवि बिश्नोई ने टी20 क्रिकेट में ख़ासा परेशान किया है। रोहित का बिश्नोई के विरुद्ध स्ट्राइक रेट है 113 का तो वहीं किशन उनके सामने 13.0 के औसत और 118 के स्ट्राइक रेट से रन बनाते हैं। सूर्या तो उनके सामने तीन पारियों में नौ गेंदें खेलते हुए और कुल आठ रन बनाते हुए दो बार आउट हो चुके हैं और पोलार्ड चार पारियों में भले ही आउट ना हुए हों लेकिन बिश्नोई के समक्ष उनका स्ट्राइक रेट 79 का है।
क्यों ना ऐलेन की मदद ली जाए?
मुंबई ने अब तक अपना श्रेष्ठ एकादश ढूंढने में एड़ी चोटी का ज़ोर लगा दिया है लेकिन पिछले मैच में पांच गेंदबाज़ों को खिलाने का फ़ैसला उलटा पड़ गया जब आख़िर में सूर्यकुमार के साथ कोई बल्लेबाज़ नहीं टिका। ऐसे में फ़ेबियन ऐलेन एक अच्छे विकल्प हो सकते हैं। ऐलेन टी20 क्रिकेट में 21.4 के सम्मानजनक औसत और 149 के स्ट्राइक रेट से रन बटोरते हैं और 16वे और आख़िरी ओवर के बीच के पड़ाव के दौरान उनका स्ट्राइक रेट 184 तक चला जाता है। वहीं गेंद से भी वह एक स्पिन का अच्छा विकल्प पेश करते हैं और 16-20 ओवर के बीच उनका औसत 31.8 से घटकर 14.2 तक चला जाता है।
आवेश की पसंद है मुंबई
आवेश ख़ान इस सीज़न बता रहे हैं कि लखनऊ ने उनको दिल्ली से खींचकर अपने टीम में वरिष्ठ तेज़ गेंदबाज़ बनाकर कोई भूल नहीं की। वैसे मुंबई के ख़िलाफ़ उन्होंने पिछले सीज़न दो मैचों में कमाल की गेंदबाज़ी की थी और 2/15 और 3/15 के विश्लेषण अर्जित किए थे। इससे मुंबई के विरुद्ध उनका औसत है छह का और इकॉनमी पांच रन प्रति ओवर। हालांकि मज़े की बात यह भी है कि वह पहली बार मुंबई के ख़िलाफ़ मुंबई में गेंदबाज़ी करेंगे।

देबायन सेन ESPNcricinfo में स्‍थानीय भाषा प्रमुख हैं।