मैच (12)
T20 वर्ल्ड कप (2)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
SL vs WI [W] (1)
ख़बरें

राहुल द्रविड़ : हम सिर्फ़ प्रयोग करने के लिए प्रयोग नहीं कर रहे

"हमारे नंबर 4 और 5 निश्चित थे, लेकिन दुर्भाग्यवश हमारे तीन खिलाड़ी एक साथ चोटिल हो गए"

"प्रयोग", एक ऐसा शब्द है, जो भारतीय टीम के कोच राहुल द्रविड़ लंबे समय से सुनते आ रहे हैं। एशिया कप से पहले हुए प्रेस कॉन्फ़्रेंस के दौरान द्रविड़ ने इसकी व्याख्या करने की कोशिश की।
उन्होंने कहा, "ईमानदारी से कहूं तो यह 'प्रयोग' शब्द कई बार बिना पूरे संदर्भ के साथ प्रयोग होता है। हम सिर्फ़ 'प्रयोग' करने के लिए प्रयोग नहीं कर रहे हैं। कई बार इसके पीछे कुछ महत्वपूर्ण कारण भी होते हैं। एक उदाहरण से इसे समझते हैं। नंबर चार और नंबर पांच के बारे में बहुत चर्चा हुई है। इससे पता चलता है कि हम इस स्थान के बारे में निश्चित नहीं है। लेकिन ईमानदारी से कहूं तो 18-19 महीने पहले से मैं कह सकता था कि श्रेयस (अय्यर), केएल (राहुल) और ऋषभ (पंत) इन दो स्थानों के लिए प्रबल दावेदार हैं। पिछले 1.5 साल में हमने जो भी टीम चुनी, उसको लेकर हमारे दिमाग़ में कोई अनिश्चितता नहीं थी। हालांकि यह हमारे लिए दुर्भाग्यपूर्ण है कि ये तीनों दो-तीन महीनों के अंतराल में चोटिल हो गए।"
उन्होंने आगे कहा, "हाल के वर्षों में वनडे मैचों की संख्या बहुत कम हो गई है। आपकी नज़र इस दौरान टी20 विश्व कप और विश्व टेस्ट चैंपियन पर भी होती है। आप लोगों को इस दौरान पर्याप्त मैच भी देना चाहते हो। लेकिन जब कुछ ही महीनों के अंतराल में आपके तीन प्रमुख खिलाड़ी चोटिल हो जाते हैं, तो आप क्या कर सकते हैं? इसके बाद आपको उन लोगों को जगह देना पड़ता है, जो दिमाग़ी तौर पर विश्व कप या अन्य बड़े अवसरों के लिए तैयार नहीं होते हैं। ऐसे में कई बार आप कुछ युवा खिलाड़ियों को रोटेट भी करते हो, ताकि वे बड़े अवसरों के लिए ख़ुद को तैयार रख सकें। हम सुनिश्चित करना चाहते हैं कि उन्हें मौक़े मिले ताकि वे तैयार रहें।"
द्रविड़ ने कहा, "घर पर विश्व कप खेलने के लिए हम उत्साहित हैं। यह खिलाड़ियों के साथ-साथ दर्शकों के लिए भी काफ़ी उत्साहजनक है। हां, खिलाड़ियों पर दबाव भी होगा, लेकिन घरेलू दर्शकों के सामने खेलना बहुत विशेष होगा। उम्मीद है कि यह हमारे लिए एक बेहतरीन टूर्नामेंट साबित होगा, हम इसके लिए तैयारी कर रहे हैं। यह भी अच्छा है कि हमारे कुछ खिलाड़ी सही समय पर चोट के बाद टीम में वापस आ रहे हैं।"
हालांकि द्रविड़ ने यह भी कहा कि आईपीएल जैसे टूर्नामेंट के कारण भारत को घरेलू टीम होने का फ़ायदा नहीं मिलेगा। उन्होंने कहा, "पिछले 10-12 सालों में भारतीय उपमहाद्वीप में घरेलू टीम होने का फ़ायदा घट गया है। आपको पता है कि विदेशी खिलाड़ी यहां पर आते हैं और ख़ासकर आईपीएल में काफ़ी मैच खेलते हैं। दो महीनों के दौरान वह परिस्थितियों के आदी हो जाते हैं। इसलिए यह एक रोमांचक टूर्नामेंट होगा। हालांकि हम आत्मविश्वास से भरे हुए हैं कि यह हमारे लिए अच्छा टूर्नामेंट होगा। हम वर्तमान में जीते हैं और भविष्य के बारे में ज़्यादा नहीं सोचते हैं।"

शशांक किशोर ESPNcricinfo में सीनियर सब एडिटर हैं