फ़ीचर्स

रेटिंग्स: हारे हुए मैच में हरमनप्रीत और देविका को मिले सबसे ज़्यादा अंक

मीरपुर में खेले गए तीसरे टी20 मैच में भारतीय खिलाड़ियों के प्रदर्शन का रिपोर्ट कार्ड

Nigar Sultana catches Harmanpreet Kaur short of her ground, Bangladesh vs India, 3rd T20I, Mirpur, July 13, 2023

हरमनप्रीत ने तीसरे टी20 मैच में 40 रन बनाए  •  BCB

पहले दो टी20 मैच जीतने के बाद भारतीय टीम मीरपुर में क्लीन स्वीप करने के फ़िराक में थी। हालांकि बांग्लादेश ने ऐसा नहीं होने दिया और तीसरे टी20 मैच को छह विकेट से जीत लिया। पिछले मैच की ही तरह एक लो स्कोरिंग मैच में बांग्लादेश फिर से बैकफ़ुट पर नज़र आ रहा था, लेकिन शमीमा सुल्ताना की शानदार 42 रनों की पारी ने मैच को बांग्लादेश की तरफ़ मोड़ दिया।
क्या सही क्या ग़लत?
भारतीय बल्लेबाज़ी क्रम में जेमिमाह रॉड्रिग्स और हरमनप्रीत कौर की बढ़िया बल्लेबाज़ी को अगर छोड़ दें तो हर बल्लेबाज़ स्पिन के ख़िलाफ़ संघर्ष करते हुए नज़र आया। गेंदबाज़ी में देविका वैद्य और मिन्नू मणि ने अपनी छाप ज़रूर छोड़ी लेकिन तेज़ गेंदबाज़ों का बिल्कुल भी प्रयोग न करना समझ से परे था।
प्लेयर रेटिंग्स (1 से 10, 10 सर्वाधिक)
स्मृति मांधना, 4 : भारत एक बढ़िया शुरुआत के लिए काफ़ी हद तक स्मृति के प्रदर्शन पर आश्रित रहता है। हालांकि वह इस मैच में दूसरे ही ओवर में अपना विकेट गंवा बैंठीं। एक तथ्य यह भी है कि वह जिस गेंद पर आउट हुईं वह अपेक्षा से काफ़ी कम उछली, जिसके कारण वह दुर्भाग्यपूर्ण तरीक़े से कैच आउट हो गईं।
शेफ़ाली वर्मा, 6 : शेफ़ाली वर्मा इस पूरे सीरीज़ मे बढ़िया बल्लेबाज़ी करने में सफल नहीं हो पाई हैं। इस मैच में भी वह अतिआक्रामकता का शिकार हुईं और कई ख़राब शॉट खेलने के बाद आख़िरकार लांग ऑन के फ़ील्डर को एक आसान सा कैच दे बैठीं। पिछले मैच की तरह वह इस मैच में गेंद के साथ किसी तरह का जादुई प्रदर्शन करने में सफल नहीं हो पाईं।
जेमिमाह रॉड्रिग्स, 8: पहले दो विकेट के पतन के बाद भारत को एक अच्छी साझेदारी की सख़्त ज़रूरत थी। जेमिमाह ने काफ़ी धैर्य के साथ अपने खेल को आगे बढ़ाते हुए हरमनप्रीत के साथ एक अच्छी साझेदारी की। हालांकि जब भारत को तेज़ी से रन बनाने की आवश्यकता थी तो वह स्टंप आउट हो गईं। गेंदबाज़ी में भी उन्होंने 14वें ओवर में भारत को सफलता दिला कर बांग्लादेश पर दबाव बनाने का काम किया।
हरमनप्रीत कौर, 9: इस सीरीज़ में हरमनप्रीत सबसे अधिक रन बनाने वाली बल्लेबाज़ हैं। भारत शुरुआती क्षणों में ही संघर्ष कर रहा था लेकिन उनकी 40 रनों की पारी ने एक सम्मानजनक स्कोर की नींव रखी। हालांकि हरमप्रीत जिस आतिशबाज़ी के लिए जानी जाती हैं, उसे शुरू करने से पहले ही वह आउट हो गईं।
यास्तिका भाटिया, 7.5: यास्तिका इस पूरे सीरीज़ में अपने बल्लेबाज़ी कौशल का प्रदर्शन करने में सफल नहीं हो पाईं हैं। उन्होंने कुल 17 गेंदों का सामना करते हुए सिर्फ़ 12 रन बनाए। कीपिंग के दौरान उनका प्रदर्शन बेहतरीन था और उन्होंने एक शानदार कैच लपकने के साथ एक बेहतरीन रन आउट में भी भागीदार रहीं।
देविका वैद्य, 9: देविका को आज बल्लेबाज़ी में सिर्फ़ एक ही गेंद खेलने का मौक़ा मिला। हालांकि गेंदबाज़ी में उन्होंने अपने लेग स्पिन से कमाल की गेंदबाज़ी की। जब-जब बांग्लादेश की टीम हावी हो रही थी, वह ब्रेक थ्रू दिलाकर भारत को वापसी कराने का पूरा प्रयास कर रहीं थीं। उन्होंने अपने चार ओवर के स्पेल में सिर्फ़ 16 रन देकर दो विकेट लिए।
अमनजोत कौर, 4: एक स्पिन लेती पिच पर तेज़ गेंदबाज़ अमनजोत को गेंदबाज़ी करने का तो कोई मौक़ा नहीं मिला। साथ ही बल्लेबाज़ी में भी वह कुछ ख़ास नहीं कर पाईं।
मिन्नू मणि, 9: अपना पहला सीरीज़ खेल रहीं मिन्नू ने आख़िरकार डेब्यू वाले दबाव को कम करते हुए सीरीज़ के तीसरे मैच में कमाल की गेंदबाज़ी करने में सफल रहीं। उन्होंने अपने पहले ही ओवर में बांग्लादेश को झटका देकर बैकफ़ुट पर धकेलने का प्रयास किया। अपने स्पेल में उन्होंन 28 रन देकर दो विकेट लिए। साथ ही 17वें ओवर में उनके एक शानदार थ्रो ने मैच में सबसे ज़्यादा रन बनाने वाली बल्लेबाज़ शमीमा को रन आउट करा दिया।
दीप्ति शर्मा, 8: बल्लेबाज़ी में तो दीप्ति को सिर्फ़ 6 गेंदों का सामना करने का मौक़ा मिला लेकिन गेंदबाज़ी में उन्होंने पावरप्ले के दौरान गेंदबाज़ी करते हुए सिर्फ़ 6 रन दिए। इसके बाद दीप्ति ने अपने आख़िरी दो ओवर 15 ओवर के बाद किया, जहां वह किसी भी तरह का प्रभाव छोड़ने में सफ़ल नहीं हो पाईं।
पूजा वस्त्रकर, 4: पूजा भारत के लिए एक फ़िनिशर के तौर खेलती हैं। हालांकि आज जब भारत को अंतिम ओवर में मुश्किल में फंसा हुआ था, तब उन्होंने छह गेंदों में सिर्फ़ दो रन बनाए और स्लॉग स्वीप लगाने की फिराक में बोल्ड हो गईं। गेंदबाज़ी में उन्हें एक भी ओवर फेंकने का मौक़ा नहीं मिला।
राशि कन्नौजिया, 6: अपना पहला टी20आई मैच खेल रहीं राशि को बल्लेबाज़ी करने का कोई मौक़ा नहीं मिला। गेंदबाज़ी में उन्होंने अपने पहले तीन ओवरों में सिर्फ़ 18 रन दिए थे लेकिन अपने अंतिम ओवर में राशि ने काफ़ी ख़राब गेंदबाज़ी करते हुए कुल 14 रन दिए और वहीं भारत इस मैच से लगभग बाहर हो गया।

राजन राज ESPNcricinfo हिंदी में सब एडिटर हैं