मैच (19)
आईपीएल (1)
WI vs SA (1)
ENG v PAK (W) (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
CE Cup (4)
T20WC Warm-up (3)
ख़बरें

इंग्लैंड की अत्यधिक सकारात्मकता भ्रामक लगती है : एलेस्टर कुक

: पूर्व कप्तान ने जो रूट के बल्लेबाज़ी की तारीफ़ की है, लेकिन उन्हें चिंता है कि उनका संदेश कहीं गुम न हो जाए

Joe Root is clinging onto the England captaincy, West Indies vs England, 3rd Test, Grenada, 4th day, March 27, 2022

किसी मैच के दौरान जो रूट  •  Getty Images

जो रूट की टेस्ट कप्तानी को लेकर जारी गहन अटकलों के बीच इंग्लैंड के पूर्व कप्तान एलेस्टर कुक ने मौजूदा टेस्ट कप्तान की बल्लेबाज़ी पर ध्यान केंद्रित करने की क्षमता की तारीफ़ की है। कुक ने कहा है कि वह रूट के इस अप्रोच से चकित हैं, लेकिन इंग्लैंड के ड्रेसिंग रूम के भीतर मौजूद अत्यधिक सकारात्मकता भ्रामक प्रतीत हो रही है।
इस समय रूट वेस्टइंडीज़ के हाथों मिली हार के बाद ब्रेक पर हैं। फ़रवरी 2021 से इंग्लैंड की टीम उनकी कप्तानी में खेले 17 टेस्ट मैचों में केवल एक ही मुक़ाबले में जीत दर्ज कर पाने में सफल रही है। दूसरी तरफ़ एसेक्स के साथ अपने 20वें काउंटी सत्र के लिए तैयार कुक यह भली भांति जानते हैं कि इस वक़्त उनके पूर्वर्ती कैसा महसूस कर रहे होंगे। 2014 में कप्तान के रूप में अपने स्वयं के कठिन वर्ष के दौरान, जब ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इंग्लैंड के 5-0 से व्हाइटवॉश ने केविन पीटरसन की विवादास्पद बर्ख़ास्तगी का मार्ग प्रशस्त कर दिया था।
हालांकि कुक ने स्वीकार किया कि उस हंगामे के बीच उनका अपना टेस्ट फ़ॉर्म ख़राब हो गया, लेकिन रूट के अपने बल्लेबाज़ी के मानक अलग हैं। कुक ने कहा, "एशेज़ के दौरान एक सापेक्षिक ख़ामोशी के बावजूद, जिसमें वह अभी भी इंग्लैंड के केवल दो बल्लेबाज़ों में से एक थे, जिसका औसत 30 से अधिक था। वह वेस्टइंडीज़ में दो शतकों के साथ फ़ॉर्म में लौट आए। जिसकी बदौलत रूट ने 2021 की शुरुआत से लेकर अब तक 20 टेस्ट में आठ शकक लगाकर कुल 2066 रन बनाए हैं।"कुक ने कहा, "रूट ने जितने रन बनाए हैं, वह एक अविश्वसनीय प्रयास है। मैं वास्तव में 2014 में संघर्ष कर रहा था। रूट का मौजूदा परिस्थितियो को संभालने में सक्षम होना और इसे अपने व्यक्तिगत प्रदर्शन पर हावी न होने देना एक अविश्वसनीय संकेत है। वह इंग्लैंड के अब तक के सबसे पूर्ण बल्लेबाज़ हैं। लेकिन अगर कप्तानी की जादूगरी उन्हें प्रभावित करने वाला होती, तो यह पिछले आठ महीनों में उसे प्रभावित कर रही होती।"
कुक ने कहा, "1700 रन बनाना [2021 में], वह भी किसी अन्य की तुलना में 1200 अधिक, यह हंसने योग्य है। और सामान्य रूप से ऐसा संभव नहीं होता। लेकिन ऐसे वक़्त में जब कई तरह की चीज़ें चल रही हैं, तब जिस तरह से उन्होंने रन बनाए और अकेले ही इंग्लैंड की बल्लेबाज़ी को आगे बढ़ाया, वह एक असाधारण प्रयास है।" कुक ने यह भी चेतावनी दी कि जिस वन मैन आर्मी स्वरूप प्रदर्शन ने रूट की आलोचना को रोकने और अपने रन-स्कोरिंग पर ध्यान केंद्रित करने की अनुमति दी है, कप्तान के तौर पर उनके कार्यकाल का आंकलन करने पर यह दोधारी तलवार भी साबित हो सकता है। अपने संडे टाइम्स कॉलम में लिखते हुए, कुक ने "इंग्लैंड के डूबते जहाज़ को फिर से तैरने" के लिए रूट के दृढ़ संकल्प की प्रशंसा की थी। लेकिन साथ ही साथ कुक अपनी चिंता भी व्यक्त कर चुके हैं कि टीम के खिलाड़ी अपने कप्तान के विश्वास को सुनना बंद कर देंगे। जैसा कि ग्रेनेडा में टीम को दस विकेट से मिली हार के बाद हुआ।
कुक ने कहा, "मैं सभी सकारात्मक चैट से थोड़ा ऊब गया हूं, क्योंकि मुझे नहीं लगता कि यह उस चेंजिंग रूम में वास्तविकता की भावना थी। सारा शोर यह था कि 'हमने एक कोना बदल दिया है और हमारा रवैया शानदार है'। बल्कि यह ऑस्ट्रेलिया दौरे पर एक कटाक्ष की तरह लग रहा था, कि वहां उनका रवैया बहुत अच्छा नहीं था।" कुक ने इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड में स्थायी नियुक्तियां सुनिश्चित किए जाने पर ज़ोर दिया। उन्होंने मौजूदा हालात को देखते हुए कहा कि इंग्लैंड के मौजूदा एजेंडे पर असाधारण बाहरी परिस्थितियां हावी हैं और मौजूदा सेटअप में कुछ भी बदलाव होने के आसार कम ही हैं जब तक कि बोर्ड में स्थाई नियुक्तियां नहीं की जातीं। क्रिसमस से पहले इयन वॉटमोर के जाने और एशली जाइल्स और क्रिस सिल्वरवुड को एशेज़ के बाद बर्ख़ास्त किए जाने पर कुक ने कहा, "यह सोचने में अजीब है कि ईसीबी जैसी बड़ी कंपनी को अब तक कोई अध्यक्ष, क्रिकेट का कोई निदेशक और कोई कोच नहीं मिला है। यह वहां कैसे पहुंचा, यह दिखाता है कि इस समय इंग्लिश क्रिकेट कहां है। जिस किसी को भी यह काम मिलता है उसके लिए यह एक अद्भुत चुनौती है कि वह इसे बदल दे क्योंकि इंग्लिश क्रिकेट के काले दिन आ गए हैं।"
कुक ने आगे कहा कि "हो सकता है कि अंधेरा सही शब्द न हो, क्योंकि वास्तव में चारों ओर बहुत बड़ी मात्रा में प्रतिभा है और मुझे लगता है कि हर कोई इसे देख सकता है। लेकिन आपके पास कोई कोच नहीं हो सकता है, क्रिकेट का कोई निदेशक नहीं है और कोई अध्यक्ष नहीं है - यदि आप कोई ऐसा व्यवसाय चला रहे हैं जो ज़्यादा मायने नहीं रखता है। तो यह एक रोमांचक समय है। आप वास्तव में सोच रहे हैं कि क्या अगली नियुक्ति एक अच्छी नियुक्ति है, यह बिल्कुल नई शुरुआत है क्योंकि यही इंग्लैंड क्रिकेट की जरूरत है।"कुक ने टीम में जेम्स एंडरसन और स्टुअर्ट ब्रॉड के संन्यास और उनके सम्मानजनक विदाई के संबंध में कहा, "बिल्कुल वे [इसके लायक हैं] लेकिन पेशेवर खेल हमेशा वैसा काम नहीं करता जैसा आप चाहते हैं। हम जानते हैं कि वे खेल के दिग्गज हैं। वे अंग्रेज़ी क्रिकेट के दिग्गज हैं। उम्मीद है कि उन्हें मौक़ा मिलेगा, लेकिन जिमी से कहो, तो वह आपका हाथ थपथपाते हुए कहेंगे कि 'मैं रिटायर होने के बारे में नहीं सोच रहा हूं, मैं तब तक खेल रहा हूं जब तक मैं 75 साल का नहीं हो जाता'। वह सोच रहे हैं कि, 'मैं उस टेस्ट टीम में वापस आना चाहता हूं और साबित करना चाहता हूं कि उन्हें मुझे बाहर नहीं करना चाहिए था।'"

एंड्रयू मिलर ESPNcricinfo के यूके एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के एडिटोरियल फ़्रीलांसर नवनीत झा ने किया है।