मैच (10)
न्यूज़ीलैंड बनाम भारत (1)
डब्ल्यूबीबीएल (1)
हज़ारे ट्रॉफ़ी (3)
चैलेंजर ट्रॉफ़ी (1)
ऑस्ट्रेलिया बनाम वेस्टइंडीज़ (1)
Marsh Cup (1)
श्रीलंका बनाम अफ़ग़ानिस्तान (1)
भारत अंडर-19 बनाम न्यूज़ीलैंड अंडर-19 (1)
ख़बरें

इस साल अगस्त में श्रीलंका करेगा एशिया कप की मेज़बानी

एशिया की छह टीमें इस प्रतियोगिता में लेगी हिस्सा

Rohit Sharma and Mashrafe Mortaza lead the teams out, Bangladesh v India, Asia Cup final, Dubai, September 28, 2018

एशिया कप का पिछला संस्करण भारतीय टीम ने जीता था  •  Associated Press

2022 एशिया कप 27 अगस्त से 11 सितंबर के बीच श्रीलंका में खेला जाएगा। एशिया कप खेलने वाले विभिन्न देशों की बीच एक मीटिंग (एजीएम ) हुई, उसी में इस प्रतियोगिता से संबंधित कुछ अहम फ़ैसले लिए गए। आपको बता दें कि इस एशिया कप के सभी मैच टी-20 के प्रारूप में खेले जाएंगे।
एशिया की सभी पांच टेस्ट टीमें इस टूर्मामेंट का हिस्सा रहेंगी, जिसमें भारत, पाकिस्तान, अफ़ग़ानिस्तान और बांग्लादेश की टीमें शामिल हैं। इसके अलावा एक और टीम इस टूर्नामेंट का हिस्सा बनेगी, जिसका फ़ैसला एक क्वालीफ़ाइंग टूर्नामेंट के बाद होगा, जो 20 अगस्त से शुरु होगा।
एशिया कप अक्सर एक साल वनडे और एक साल टी20 के प्रारूप में खेला जाता है। कहने का अर्थ है कि अगर इस साल टी20 प्रारूप के साथ एशिया कप खेला जा रहा है तो अगले साल एकदिवसीय प्रारूप में इस प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा। आख़िरी बार 2018 में इसका आयोजन किया गया था और उसे भारतीय टीम ने जीता था। इसके बाद इस प्रतियोगिता को कोविड काल में कुछ समय के लिए टाल दिया गया था। 2020 में होने वाले एशिया कप के टाले जाने के बाद पहले इसे 2021 में आयोजित करने का प्लान बनाया गया लेकिन फिर से इस 2022 तक के लिए टाल दिया गया। पहले तय किया गया कि 2022 में इस प्रतियोगिता का मेज़बान पाकिस्तान होगा लेकिन बाद में इस फ़ैसले को बदल दिया गया। अब पाकिस्तान 2023 में होने वाले एशिया कप का मेज़बान होगा।
टूर्नामेंट में छठी टीम यूएई, कुवैत, सिंगापुर और हांगकांग में से एक होगा, जिन्होंने 2020 में एसीसी के क्षेत्रीय टूर्नामेंट में पहला या दूसरा स्थान प्राप्त किया था
यह एशिया कप का 15वां आयोजन है, जिसकी शुरुआत 1984 में शारजाह में हुई थी। गत चैंपियन भारत इस प्रतियोगिता की सबसे सफल टीम है, जिसने सात बार इस टूर्नामेंट पर अपना कब्ज़ा जमाया है। श्रीलंका कीटीम ने पांच बार यह प्रतियोगिता जीती है।
एजीएम के दौरान, सर्वसम्मति से यह निर्णय लिया गया कि बीसीसीआई सचिव जय शाह 2024 तक एक और वर्ष के लिए एशियाई क्रिकेट परिषद (एसीसी) के अध्यक्ष के रूप में बने रहेंगे। ओमान क्रिकेट बोर्ड के पंकज खिमज़ी को एसीसी और मलेशिया क्रिकेट एसोसिएशन के महिंदा वल्लीपुरम को विकासशील समिति का अध्यक्ष नामित किया गया था।