मैच (6)
विश्व कप लीग 2 (1)
ENG v SL (U19) (1)
TNPL (1)
LPL (1)
T20 Blast (1)
MLC (1)
ख़बरें

स्टोक्स: डर के आगे जीत है

इंग्लैंड के कप्तान ने पाकिस्तान के ख़िलाफ़ क्लीन स्वीप के बाद कहा कि उन्हें इससे अधिक मज़ा कभी नहीं आया

Ben Stokes and Ben Duckett sealed England's win, Pakistan vs England, 3rd Test, Karachi, 4th day, December 20, 2022

स्टोक्स और डकेट ने इंग्लैंड के लिए जीत सुनिश्चित की  •  Matthew Lewis/Getty Images

पाकिस्तान के ख़िलाफ़ ऐतिहासिक 3-0 की जीत के बाद इंग्लैंड के कप्तान बेन स्टोक्स ने कहा है कि उन्हें इंग्लैंड की जर्सी में इससे अधिक मज़ा कभी नहीं आया।
कराची में जीत के बाद उन्होंने कहा, "परिस्थितियां कैसी भी हों, हम मैदान पर हर एक पल का मज़ा ले रहे हैं। रावलपिंडी के पहले मैच में पिच एकदम फ़्लैट था, तब मैंने लड़कों से कहा था कि जाओ, फ़्लैटनेस का मज़ा लो और देखो क्या कर सकते हो। जेम्स एंडरसन हमारे आस-पास हमेशा मुस्कुराते हैं, जिससे हमें सकारात्मकता मिलती है। ड्रेसिंग रूम का माहौल बेहतरीन है और सभी इंग्लैंड के लिए खेलने का लुत्फ़ उठा रहे हैं।"
उन्होंने आगे कहा, "हमारी असली परीक्षा तब होगी, जब चीज़ें हमारे पक्ष में नहीं जाएंगी। हालांकि हमें उम्मीद है कि ऐसा कभी नहीं होगा।"
इस सीरीज़ में युवा हैरी ब्रूक (468 रन) और बेन डकेट (357 रन) ने शानदार खेल दिखाया। अंत में रही सही कसर 18 साल के रेहान अहमद ने पूरी कर दी। उन्होंने कराची के अंतिम टेस्ट में डेब्यू करते हुए पारी के पांच विकेट सहित कुल सात विकेट लिए और इतिहास रच दिया। इसके अलावा ऑली पोप ने ग्लब्स भी संभालते हुए सीरीज़ में 47.60 की औसत से 238 रन बनाए और 13 शिकार (12 कैच+एक स्टंपिंग) भी किए।
स्टोक्स ने अपने खिलाड़ियों के इस प्रदर्शन पर कहा, "जब आप टीम की ज़िम्मेदारी अपने सिर पर लेते हैं तो आपके खिलाड़ी भी अपना प्रदर्शन दिखाते हैं। हमारे अंदर जीतने की इच्छाशक्ति है, इसके अलावा हम लोगों के मनोरंजन के लिए क्रिकेट खेल रहे हैं। ये दोनों चीज़ें हमें हमारे अंदर से 'असफलता के डर' का भाव मिटा देती हैं। आपको स्वीकार करना होगा कि आउट होना बल्लेबाज़ी का एक हिस्सा है।"
तीसरे टेस्ट के दौरान ऑली रॉबिंसन बीमार पड़ गए थे और उन्हें पहले दिन के तीसरे ओवर में ही मैदान छोड़ना पड़ा था। हालांकि उन्होंने वापस आते हुए गेंदबाज़ी की और अज़हर अली का महत्वपूर्ण विकेट लिया। रावलपिंडी टेस्ट से पहले भी इंग्लैंड के कई खिलाड़ी बीमार हो गए थे और टेस्ट मैच के देरी से शुरू होने की संभावना आ गई थी। हालांकि बाद में ऐसा नहीं हुआ और इंग्लैंड के 11 खिलाड़ी उपलब्ध होने के बाद टेस्ट मैच तय समय से शुरू हुआ।
स्टोक्स ने कहा, "मुझे सभी खिलाड़ियों पर गर्व है। इस दौरे के शुरूआत से ही सभी को कुछ ना कुछ दिक्कते आनी शुरू हो गई थी, लेकिन सभी ने अपना प्रयास किया। कई दिन ऐसे गए जब गेंदबाज़ दिन के खेल के बाद थककर एकदम चूर हो जाते थे, लेकिन अगले दिन वे गेंदबाज़ी के लिए तैयार भी रहते थे। मार्क वुड पहले टेस्ट के दौरान बीमार हो गए थे, लेकिन दूसरे टेस्ट में उन्होंने बेहतरीन वापसी की।"
इंग्लैंड को इसके बाद फ़रवरी में न्यूज़ीलैंड में जाकर दो टेस्ट मैच खेलना है, उसके बाद आयरलैंड के ख़िलाफ़ एक टेस्ट होगा और फिर टीम ऐशेज़ में ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ उतरेगी। स्टोक्स की निगाहें अभी से ऐशेज़ सीरीज़ पर हैं।
उन्होंने कहा, "मेरा ध्यान ऐशेज़ पर है और मेरे दिमाग़ में अभी से वह चल रहा है। हम एक टीम के रूप में विकसित होते रहेंगे और चेहरे पर मुस्कान लिए हुए क्रिकेट का मज़ा लेते रहेंगे।"

विदूशन अहंतराजा ESPNcricinfo में एसोसिएट एडिटर हैं