मैच (17)
IPL (3)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
ACC Premier Cup (4)
Women's Tri-Series (1)
ख़बरें

आईसीसी अध्यक्ष चुनाव में ग्रेग बार्कले और इमरान ख़्वाजा संभावित रीमैच के लिए तैयार

हालांकि यह स्पष्ट नहीं है कि दो साल पहले मिली करारी हार के बाद ख़्वाजा चुनाव लड़ेंगे या नहीं?

2020 के चुनावों के दौरान, ग्रेग बार्कले ने दो-तिहाई बहुमत प्राप्त किया था  •  Kai Schwoerer/ICC/Getty Images

2020 के चुनावों के दौरान, ग्रेग बार्कले ने दो-तिहाई बहुमत प्राप्त किया था  •  Kai Schwoerer/ICC/Getty Images

आईसीसी के अध्यक्ष ग्रेग बार्कले और उनके डिप्टी इमरान ख़्वाजा के लिए एक बार फिर से वैश्विक शासी निकाय के नेतृत्व करने के लिए आमने-सामने हो सकते हैं, लेकिन यह स्पष्ट नहीं है ख़्वाजा दो साल पहले मिली हार के बाद इसमें शामिल होंगे या नहीं।
ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो को पता चला है कि अनुभवी बोर्ड निदेशक और लंबे समय से एसोसिएट अध्यक्ष ख़्वाजा को अगले महीने मेलबर्न में आईसीसी बैठक के दौरान अध्यक्ष के चुनाव के लिए नामित किया जाएगा। आईसीसी अध्यक्ष का चुनाव अगले महीने मेलबर्न में चल रहे पुरुषों के टी20 विश्व कप के सेमीफ़ाइनल के तुरंत बाद होगा। गुरुवार को नामांकन दाखिल करने की समय सीमा समाप्त होने के कारण यह पुष्टि नहीं की जा सकी कि कोई अन्य उम्मीदवार मैदान में उतरेगा या नहीं।
हालांकि यह पता नहीं है कि ख़्वाजा 2020 के अंत में पिछले चुनाव में बार्कले के ख़िलाफ़ हारने के बाद नामांकन स्वीकार करेंगे या नहीं। तब आईसीसी के कार्यकारी अध्यक्ष ख़्वाजा को 5-11 से हार मिली थी। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड से बार्कले को काफ़ी समर्थन मिला था।
इस बार हालांकि आईसीसी ने अपने संविधान में संशोधन किया है और कहा है कि अध्यक्ष चुनाव के दौरान एक साधारण बहुमत पर्याप्त होगा। चुनाव प्रक्रिया के अनुसार उम्मीदवार को आईसीसी बोर्ड में एक सदस्य द्वारा प्रस्तावित किया जाना है और एक बार जब व्यक्ति चुनाव लड़ने का फै़सला करता है तो दूसरे बोर्ड निदेशक को नामांकन का समर्थन करने की आवश्यकता होती है।
दोनों उम्मीदवारों के लिए बीसीसीआई का समर्थन एक बार फिर महत्वपूर्ण बना हुआ है। ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो को पता चला है कि बीसीसीआई ने आईसीसी अध्यक्ष के चुनाव में अपना उम्मीदवार नहीं उतारने का फै़सला किया है लेकिन वह अपने विकल्प खुले रख रहा है।
जुलाई में बार्कले ने सार्वजनिक रूप से दूसरे कार्यकाल को जारी रखने की इच्छा व्यक्त की। बर्मिंघम में आईसीसी की वार्षिक आम बैठक के तुरंत बाद बार्कले ने मीडियाकर्मियों से कहा, "यदि सदस्य चाहें तो मैं फिर से चुनाव के लिए उपलब्ध हूं।"