मैच (11)
रणजी ट्रॉफ़ी (2)
NZ v AUS (1)
Nepal Tri-Nation (1)
PSL 2024 (2)
Sheffield Shield (3)
WPL (1)
Dang CL (1)
ख़बरें

साउथ अफ़्रीका दौरे के लिए जोफ़्रा आर्चर की इंग्‍लैंड वनडे टीम में वापसी

कोहनी और कमर की चोट के बाद मार्च 2021 के बाद अपना पहला अंतर्राष्‍ट्रीय मैच खेलने को तैयार तेज़ गेंदबाज़

मार्च 2021 में अपना पिछला अंतर्राष्‍ट्रीय मैच खेले थे आर्चर  •  Getty Images

मार्च 2021 में अपना पिछला अंतर्राष्‍ट्रीय मैच खेले थे आर्चर  •  Getty Images

जनवरी में होने वाले साउथ अफ़्रीका दौरे के लिए जोफ़्रा आर्चर को इंग्लैंड की 14 सदस्‍यीय वनडे टीम में चुना गया है। ऐस में वह दो साल बाद इंग्‍लैंड के लिए अपना पहला अंतर्राष्‍ट्रीय मैच खेलने के लिए तैयार हैं। इंग्‍लैंड की 2019 विश्‍व कप जीत में आर्चर सबसे ज्‍़यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज़ थे। आर्चर ने मार्च 2021 में इंग्‍लैंड के भारत के टी20 दौरे पर अपना पिछला अंतर्राष्ट्रीय मैच खेला था।
उनका करियर हाल के सालों में कोहनी की समस्‍या से जूझा है जहां उन्‍हें दो सर्जरी करानी पड़ी, साथ ही कमर के निचले हिस्से में फ़्रैक्‍चर के कारण वह लगभग इस पूरे साल में नहीं खेल सके थे।
उन्‍होंने पिछले महीने यूएई में इंग्‍लैंड लायंस टीम में वापसी की। उन्‍होंने ट्रेनिंग की और टेस्‍ट टीम के ख़‍िलाफ़ अभ्‍यास मैच खेला, जहां उन्‍होंने ज़ैक क्रॉली को एक सटीक बाउंसर पर आउट किया जो नौ ओवरों में उनका पहला विकेट था।
यह वापसी सभी प्रारूपों में उनकी वापसी का संकेत है, जहां आर्चर को पहले एसए20 टूर्नामेंट में माय केपटाउन के लिए दो मैच खेलने हैं।
पिछले महीने अबू धाबी में अपने गेंदबाज़ी कार्यकाल के बाद बोलते हुए आर्चर ने टेस्ट टीम के ख़‍िलाफ़ अपनी वापसी को "एक छोटा दिन लेकिन फिर भी एक बड़ा दिन" बताया था और स्वीकार किया कि वह अभी भी पूरी फ़‍िटनेस हासिल करने के शुरुआती चरण में हैं।
उन्‍होंने कहा था, "मैं इन पिछले कुछ महीनों को बहुत गंभीरता से लेना चाहता हूं, शायद सभी रिहैब की तुलना में अधिक गंभीर, क्योंकि एक बार जब यह चरण सही हो जाता है, तो यह मुझे अगले तीन से चार वर्षों के लिए चोट-मुक्त बना सकता है। अभी यही लक्ष्य है।"
यह दौरा हैरी ब्रूक को इंग्लैंड की कैप के अपने पूरे सेट को पूरा करने का मौक़ा भी प्रदान करेगा। पाकिस्तान में हाल ही में हुई टेस्ट सीरीज़ में उनके शानदार फ़ॉर्म के बाद पहली बार उन्हें वनडे टीम में चुना गया है, जहां उन्‍होंने 93.60 की औसत से 568 रन बनाए जिसमें तीन शतक शामिल थे।
बेन डकेट ने भी पाकिस्‍तान दौरे पर सफ़ेद और लाल गेंद के क्रिकेट में प्रभावित किया था, जहां वनडे सीरीज़ में उन्‍होंने 71.40 की औसत से 357 रन बनाए थे, ऐसे में वह 2016 के बाद पहली बार वनडे दल का हिस्‍सा बने थे। एड़ी की चोट के कारण रीस टॉप्‍ली को अभी भी रिकवरी का पूरा समय दिया गया है, वह टी20 विश्‍व कप में बाउंड्री पर चोट‍िल हो गए थे।
हालांकि, इस महीने की शुरुआत में रावलपिंडी में इंग्लैंड की पाकिस्तान पर पहली टेस्ट जीत के दौरान घुटने की चोट का सामना करने वाले लियम लिविंगस्टन को उनकी रिकवरी के लिए नज़रअंदाज़ किया गया है। वहीं इसी मैच में टेस्‍ट डेब्‍यू करने वाले सरी के विल जैक्‍स को नहीं चुना गया है। साथ ही हाल ही में ऑस्‍ट्रेलिया के ख़‍िलाफ़ वनडे सीरीज़ का हिस्‍सा रहने वाले जेम्‍स विंस और सैम बिलिंग्‍स भी टीम का हिस्‍सा नहीं हैं।
27 जनवरी को शुरू होने वाली तीन मैचों की यह सीरीज़ छह दिन के अंदर खेली जाएगी। इसके बाद इंग्‍लैंड टेस्ट सीरीज़ के लिए न्‍यूज़ीलैंड का दौरा करेगा।
इंग्‍लैंड का वनडे दल : जॉस बटलर (कप्‍तान), मोइन अली, जोफ़्रा आर्चर, आदिल रशीद, हैरी ब्रूक, सैम करन, बेन डकेट, डाविड मलान, जेसन रॉय, फ़‍िल सॉल्‍ट, ऑली स्‍टोन, रीस टॉप्‍ली, डेविड विली, क्रिस वोक्‍स।