मैच (9)
भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया (1)
काउंटी डिवीज़न एक (1)
काउंटी डिवीज़न 2 (1)
लेजेंड्स लीग (1)
सीपीएल (1)
पाकिस्तान बनाम इंग्लैंड (1)
यूएई बनाम बांग्लादेश (1)
वेस्टइंडीज़ बनाम न्यूज़ीलैंड (महिला) (1)
महिला विश्व कप क्वालिफ़ायर (1)
ख़बरें

बोल्‍ट को केंद्रीय करार से बाहर करने को तैयार हुआ न्‍यूज़ीलैंड क्रिकेट

तेज़ गेंदबाज़ का अंतर्राष्‍ट्रीय करियर होगा प्रभावित, क्‍योंकि उन्‍होंने परिवार और टी20 लीगों को चुना

ऐलेक्‍स मैल्कम और ऐंड्रयू मक्ग्लैशन
10-Aug-2022
Trent Boult in a serious mood before the match, Australia vs New Zealand, T20 World Cup final, Dubai, November 14, 2021

अब अंतर्राष्‍ट्रीय मैचों में कम दिखाई देंगे ट्रेंट बोल्‍ट  •  ICC via Getty Images

तेज़ गेंदबाज़ ट्रेंट बोल्‍ट के परिवार के साथ समय बिताने और टी20 लीगों में खेलने के आवेदन को न्‍यूज़ीलैंड क्रिकेट (एनज़ेडसी) ने स्‍वीकार करते हुए उन्‍हें केंद्रीय करार से बाहर कर दिया है। इससे उनका अंतर्राष्‍ट्रीय करियर अब प्रभावित होने की संभावना है।
बुधवार को इसकी घोषणा होने से पहले 33 वर्षीय बोल्‍ट की न्‍यूज़ीलैंड क्रिकेट से कई बार बातचीत हो चुकी थी। इस कदम से न्‍यूज़ीलैंड क्रिकेट का घरेलू सत्र भी प्रभावित होने की संभावना है।
बोल्‍ट के यूएई या साउथ अफ़्रीका लीग में शामिल होने की घोषणा अब ज़ल्‍द होने की संभावना है, लेकिन न्‍यूज़ीलैंड क्रिकेट के सीईओ डेविड वाइट ने ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो से कहा था कि उनके ऑस्‍ट्रेलिया में होने वाले टी20 में शामिल होने की प्रबल संभावना है। साथ ही वह वेस्‍टइंडीज़ दौरे को भी पूरा करेंगे।
न्‍यूज़ीलैंड क्रिकेट की रिलीज़ के मुताबिक बोल्‍ट ने वाइट को विभिन्‍न दौरों से थकान की बात कही है और उन्‍होंने परिवार के साथ अधिक समय बिताने की इच्‍छा जाहिर की है।
बोल्‍ट ने कहा, "यह मेरे लिए मुश्किलों भरा फ़ैसला है और मेरा समर्थन करने के लिए मैं न्‍यूज़ीलैंड क्रिकेट को धन्‍यवाद देना चाहता हूं। देश के लिए क्रिकेट खेलना मेरा बचपन का सपना था और मैं खुश हूं कि पिछले 12 सालों से मैं ब्‍लैक कैप्‍स की सेवा कर पाया हूं।"
"यह फ़ैसला मेरी पत्‍नी गर्ट और मेरे तीन युवा बच्‍चों के लिए है। परिवार हमेशा से मेरे लिए प्रेरणास्‍त्रोत रही है और मैं इसको पहले रखने पर आरामदायक महसूस करता हूं और क्रिकेट के बाद की ज़ि‍दगी के लिए खुद को तैयार कर सकता हूं।"
बोल्‍ट अंतर्राष्‍ट्रीय क्रिकेट से संन्‍यास नहीं लिए हैं लेकिन अब उनके न्‍यूज़ीलैंड के लिए खेलने की कम संभावना है। व्हाइट ने पुष्टि की कि बोल्ट अपने निर्णय के प्रभावों से अवगत थे और न्‍यूज़ीलैंड क्रिकेट अपने अनुबंधित खिलाड़ियों को प्राथमिकता देगा।
बोल्‍ट यह जानते हैं कि इससे उनका न्‍यूज़ीलैंड के लिए चयन प्रभावित होगा।
बोल्‍ट ने कहा, "मेरा अपने देश के लिए प्रतिनिधित्‍व करने का बड़ा सपना था और मुझे महसूस हुआ कि मेरे पास अंतर्राष्‍ट्रीय स्‍तर का कौशल है। हालांकि, मैं इस प्रभाव का सम्‍मान करता हूं कि केंद्रीय करार में नहीं होने से मेरे चयन पर असर पडे़गा।"
"एक तेज़ गेंदबाज़ के तौर पर मेरा करियर सीमित है और मुझे लगता है कि अगले दौर में जाने के लिए यह सही समय है।"
इस साल की शुरुआत में बोल्‍ट आईपीएल से सीधा इंग्‍लैंड के ख़‍िलाफ़ टेस्‍ट सीरीज़ खेले थे। उन्‍होंने राजस्‍थान रॉयल्‍स के लिए 16 मैच खेले जिसमें 29 मई को अहमदाबाद में हुआ फ़ाइनल भी शामिल था। इसके मात्र पांच दिन बाद दो जून से वह टेस्‍ट खेले जहां पर उन्‍होंने लगभग 38 ओवर किए। हालांकि, इसके बाद यूरोप दौरे पर उन्‍हें आराम दिया गया था।
बोल्‍ट ने न्‍यूज़ीलैंड के लिए कुल मिलाकर सभी प्रारूपों में 215 मैच खेले हैं। उन्‍होंने होबार्ट में 2011 में ऑस्‍ट्रेलिया के ख़‍िलाफ़ टेस्‍ट डेब्‍यू किया था। वह न्‍यूज़ीलैंड के लिए 300 टेस्‍ट विकेट लेने वाले मात्र चौथे गेंदबाज़ हैं। उनके नाम 27.49 के औसत से 317 विकेट हैं, जहां उन्‍होंने 10 बार पारी में पांच विकेट और एक बार मैच में 10 विकेट लिए हैं। उनके नाम 169 वनडे और 62 टी20 अंतर्राष्‍ट्रीय विकेट भी हैं। वह इस समय वनडे क्रिकेट के नंबर एक गेंदबाज़ हैं और टेस्‍ट रैंकिंग में 11वें स्‍थान पर हैं।

न्यूज़ीलैंड क्रिकेट को भरोसा है खिलाड़ी बोल्ट के पदचिन्हों पर नहीं चलेंगे

एनज़ेडसी के सीईओ डेविड वाइट ने विश्वास जताया है कि बोल्ट का केंद्रीय अनुबंध से ख़ुद को मुक्त करने का फ़ैसला को एकांत में देखने की ज़रूरत है और घरेलू टी20 लीग क्रिकेट की बढ़ती मात्रा के बावजूद, यह क़दम न्यूज़ीलैंड के और कोई भी खिलाड़ी नहीं लेने की सोच रहे हैं।
वाइट ने ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो को बताया, "कुछ लोग यह सोच रहे हैं कि ऐसा संकल्प और भी खिलाड़ी लेंगे या नहीं। अब तक किसी और खिलाड़ी ने इस बारे में कोई बात नहीं छेड़ी है। उनके लिए न्यूज़ीलैंड के लिए खेलना और ख़ास तौर पर टेस्ट क्रिकेट का हिस्सा होना, अभी भी प्राथमिकता है। एक और बात यह है कि घरेलू लीग में सबसे अच्छे ऑफ़र तभी मिलेंगे जब आप एक सफल अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी हों। ऐसे में सिर्फ़ वैश्विक टूर्नामेंट नहीं द्विपक्षीय सीरीज़ में भी अच्छा खेलना ज़रूरी है।"
बोल्ट ने अपने निर्णय के पीछे कम टूर करने की चाह और अपने परिवार के साथ अधिक समय बिताने की इच्छा को मुख्य कारण बताया। वाइट का मानना है कि इसमें कोरोना और उससे उत्पन्न होने वाली पाबंदियों ने भी योगदान दिया। उन्होंने कहा, "आइसोलेशन के चलते और खिलाड़ियों के मुक़ाबले उन्हें थोड़ी ज़्यादा परेशानी हुई है। उनके परिवार में उनके तीन छोटे बेटे हैं और ऐसे में महीनों तक घर से दूर रहना बहुत कठिन होने लगा था।"
हालांकि इस पूरे सिलसिले में टी20 प्रारूप में फ़्रैंचाइज़ क्रिकेट में बढ़ोतरी की भूमिका को भी कम नहीं आंका जा सकता। एनज़ेडसी अपने अनुबंधित खिलाड़ियों को इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया या भारत से कम पैसा देने की क्षमता रखता है। सालों से उसने अपने खिलाड़ियों को आईपीएल में खेलने का पूरा मौक़ा दिया है। ऐसे में अक्सर खिलाड़ियों ने घरेलू सीज़न के आख़िरी पड़ाव या अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में अगले सीज़न की शुरुआती क्रिकेट को मिस किया है। हालांकि वाइट ने कहा कि ऐसी छूट आने वाले समय में नए लीग में खेलने वाले खिलाड़ियों को देना मुश्किल होगा।
जनवरी में विश्व भर में कम से कम तीन बड़े लीग आयोजित होंगे और ऐसे समय में अंतर्राष्ट्रीय टीम पाकिस्तान के दौरे में व्यस्त होगा। वहीं न्यूज़ीलैंड के घरेलू सुपर स्मैश टी20 प्रतियोगिता के भी मैच उसी दौरान चल रहे होंगे। बोल्ट फ़िलहाल वेस्टइंडीज़ के दौरे में टीम के साथ ही हैं। इसके बाद न्यूज़ीलैंड ऑस्ट्रेलिया में एक वनडे सीरीज़ खेलेगा, फिर घर पर एक त्रिकोणीय टी20 श्रृंखला का हिस्सा होगा और उसके बाद टी20 विश्व कप खेलेगा। बोल्ट वहां तक चयन के लिए उपलब्ध होंगे, लेकिन उसके बाद भारत के ख़िलाफ़ घर पर या पाकिस्तान दौरे पर उनकी उपलब्धता संदिग्ध है। पाकिस्तान दौरे के बाद न्यूज़ीलैंड इंग्लैंड और श्रीलंका की मेज़बानी करते हुए एक व्यस्त सीज़न को अंजाम देगा।