मैच (17)
IPL (2)
ACC Premier Cup (2)
Pakistan vs New Zealand (1)
PAK v WI [W] (1)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
Women's QUAD (2)
ख़बरें

शास्‍त्री : भारतीय तेज़ गेंदबाज़ों का बार-बार चोटिल होना हास्‍यास्पद है

"आप अधिक मैच नहीं खेल रहे हो जिससे बार-बार चोटिल हो। आप चार मैच भी लगातार नहीं खेल सकते"

एक बार दोबारा चोटिल हुए दीपक चाहर  •  BCCI

एक बार दोबारा चोटिल हुए दीपक चाहर  •  BCCI

रवि शास्त्री को लगता है कि वरिष्ठ भारतीय गेंदबाज़ों को बार-बार चोट लगना "अवास्तविक", "हास्यास्पद" और "निराशाजनक" है।
शास्‍त्री का यह बयान दीपक चाहर की ताज़ा चोट के बाद आया है जो मुंबई इंडियंस के ख़‍िलाफ़ मैच में एक ही ओवर करने के बाद हैमस्ट्रिंग चोट की वजह से बाहर हो गए थे।
शास्‍त्री ने ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो के टी20 टाइमआउट शो पर चेन्‍नई सुपर किंग्‍स के मैच से पहले कहा, "इसको सीधे तौर पर देखते हैं कि पिछले तीन या चार सालों में कुछ खिलाड़‍ियों का एनसीए घर बन गया है। जल्‍द ही उन्‍हें रहने का परमिट भी मिल जाएगा तो वे जब भी चाहें वहां पर आ जा सकते हैं, जो बिल्‍कुल भी सही बात नहीं है। यह अवा‍स्‍तवित है।"
पिछले पांच महीनों में यह दूसरी बार है जब चाहर अपने कोटे के चार ओवर पूरे किए बिना है‍मस्ट्रिंग की चोट के कारण बाहर हुए हैं। बांग्‍लादेश के ख़‍िलाफ़ मीरपुर में दूसरे वनडे के दौरान वह केवल तीन ही ओवर कर पाए थे। इसके बाद वह बेंगलुरु स्थित राष्‍ट्रीय क्रिकेट एकेडमी में पहुंचे जहां पिछले साल फ़रवरी में जांघ की चोट का इलाज करने के लिए वहां लंबे समय तक रहे थे।
इसके बाद उनकी कमर में स्‍ट्रेच फ़्रैक्‍चर की समस्‍या आई और उन्‍हें वापसी करने में देर लगी। चाहर और भारतीय टीम प्रबंधन दोनों इससे निराश हुए। जिसके बाद रोहित शर्मा ने कहा कि टीम "आधे-अधूरे फ़‍िट होकर देश का प्रतिनिधित्व करने वाले लोगों को बर्दाश्त नहीं कर सकती।"
चाहर अकेले भारतीय तेज़ गेंदबाज़ नहीं है जो लंबे समय तक बाहर रहे हैं, उनके अलावा जसप्रीत बुमराह, नवदीप सैनी, कुलदीप सेन, मोहसिन ख़ान और यश दयाल भी चोटों की वजह से बाहर रहे हैं।
शास्‍त्री ने कहा कि जो चीज़ इनके बारे में उन्‍हें परेशान कर रही है वह यह है कि उनका कार्य प्रबंधन लंबा चौड़ा नहीं है और एनसीए मेडिकल टीम के फ़‍िट घोषित करने के बाद भी वे चोटिल हो रहे हैं।
शास्‍त्री ने कहा, "आप इतना क्रिकेट नहीं खेल रहे हो कि लगातार चोटिल हो। मेरा मतलब है कि आप चार मैच भी लगातार नहीं खेल सकते। तो आप एनसीए क्‍यों जा रहे हो? अगर आप वापसी को देख रहे हो और बाद में तीन मैच के बाद वापस वहीं लौट रहे हो। तो आप यह पक्‍का करो क‍ि पहले पूरी तरह फ़‍िट हो और तब आओ क्‍योंकि यह बहुत निराशाजनक है। केवल टीम के लिए ही नहीं, खिलाड़‍ियों, बीसीसीआई, कई फ़्रैंचाइज़ी के कप्‍तानों के लिए भी यह निराशाजनक है। यह कष्‍ट से भरा है।"
"मैं बड़ी चोट को समझ सकता हूं, लेकिन जब भी चार मैचों के बाद किसी को दोबारा हैमस्ट्रिंग या अन्‍य चोट लगती है तो आप सोचना शुरू कर देते हो कि यह लड़के कैसे हैं, यह ट्रेनिंग में क्‍या कर रहे हैं, यह हो क्‍या रहा है। और इनमें से कुछ पूरे साल अन्‍य क्रिकेट नहीं खेलते हैं। यह केवल चार ओवर की बात है, केवल तीन घंटे आईपीएल में और मैच ख़त्‍म।"
मुंबई इंडियंस मैच के एक दिन बाद, सीएसके ने एक मीडिया बयान में कहा कि आईपीएल के शेष भाग में उनकी भागीदारी पर फ़ैसला करने से पहले चाहर को स्कैन से गुज़रना होगा।
चाहर ने हाल ही में खु़द भी कहा था कि बड़ी चोट के बाद वापसी करना आसान नहीं है। फ़रवरी में पीटीआई से बातचीत में उन्‍होंने खु़द को पूरी तरह से फ़‍िट घोषित किया था और आईपीएल के लिए तैयार कहा था। उन्‍होंने कहा था, "मेरे दो बड़ी चोट थी। एक स्‍ट्रैच फ़्रैक्‍चर और दूसरा जांघ की चोट। ये दोनोंं बड़ी चोट थीं। आप महीनों से टीम से बाहर हो। जो भी चोट के बाद वापसी करता है उसको समय लगता है ख़ासतौर से तेज़ गेंदबाज़ों को।"

नागराज गोलापुड़ी ESPNcricinfo में न्‍यूज एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर निखिल शर्मा ने किया है।