मैच (10)
T20 वर्ल्ड कप (4)
SL vs WI [W] (1)
IND v SA [W] (1)
CE Cup (4)
ख़बरें

पोंटिंग : 'इंपैक्ट प्लेयर' नियम से ऑलराउंडर्स की उपयोगिता कम होगी

दिल्ली कैपिटल्स के कोच ने कहा कि टीम ने अभी तक कोई विकेटकीपर तय नहीं किया है

Ricky Ponting and Rishabh Pant look on, Mumbai Indians vs Delhi Capitals, IPL 2022, Wankhede Stadium, Mumbai, May 21, 2022

पोंटिंग का मानना है कि पंत का विकल्प आसानी से नहीं मिलने वाला है  •  BCCI

इस बार के आईपीएल में 'इंपैक्ट प्लेयर नियम' लागू हो रहा है और सभी टीमों के प्रबंधन की नज़र इस नए नियम पर है। माना जा रहा है कि इस नियम से एकादश में ऑलराउंडर्स की उपयोगिता कम होगी। दिल्ली कैपिटल्स के प्रमुख कोच रिकी पोंटिंग भी कुछ इस तरह की ही राय रखते हैं।
सीज़न से पहले हुए प्रेस कॉन्फ़्रेंस में उन्होंने कहा, "इंपैक्ट प्लेयर के नियम का प्रयोग इस बात पर भी निर्भर करता है कि आप पहले गेंदबाज़ी कर रहे हैं या बल्लेबाज़ी। टॉस के समय हमारे पास दो टीमें होंगी। अगर हमें गेंदबाज़ी पहले मिलती है तो हम गेंदबाज़ी वाली टीम चुनेंगे और अगर हम पहले बल्लेबाज़ी करते हैं तो हमारे पास एक और टीम होगी। इसी तरह अगर आप पहले बल्लेबाज़ी करते हैं और आपके विकेट जल्दी गिर जाते हैं तो आप एक बल्लेबाज़ को इंपैक्ट प्लेयर के रूप में लाना पसंद करेंगे। तो इसके प्रयोग करने की अलग-अलग तकनीक हो सकती है।"
उन्होंने आगे कहा, "हालांकि इससे खेल में उपयोगी ऑलराउंडर्स का प्रभाव कम होगा। अगर आप कोई विश्व स्तरीय ऑलराउंडर हैं या आपकी बल्लेबाज़ी या गेंदबाज़ी में से कोई एक चीज़ अधिक मज़बूत है, तो ही आप टीम में चुने जाएंगे। मुझे नहीं लगता कि अधिकतर टीमें ऐसे खिलाड़ियों को चुनेंगी, जो नंबर सात पर बल्लेबाज़ी करें और फिर गेंदबाज़ी में आपको एक या दो ओवर दें। आपको अब टीम में ऐसे खिलाड़ियों की ज़रूरत नहीं होगी।"
फ़िलहाल दिल्ली के पास एक विश्व स्तरीय ऑलराउंडर मिचेल मार्श हैं, जिन्होंने भारत-ऑस्ट्रेलिया सीरीज़ में एक विशुद्ध सलामी बल्लेबाज़ के रूप में बेहतरीन प्रदर्शन किया। हाल ही में उनके बाएं पैर की एड़ी की सर्ज़री हुई थी, इसलिए उन्होंने गेंदबाज़ी करने से परहेज़ किया। हालांकि दिल्ली उनसे गेंदबाज़ी की भी उम्मीद रखेगा।
एक शीर्ष क्रम के बल्लेबाज़ के रूप में उनका 2022 का आईपीएल बेहतरीन गया था और उन्होंने आठ मैचों में 133 के स्ट्राइक रेट से 251 रन बनाए थे। हालांकि गेंदबाज़ी में वह 12 ओवरों में 8.50 की इकॉनमी से सिर्फ़ चार ही विकेट ले पाए थे। पोंटिंग को विश्वास है कि मार्श इस साल के आईपीएल में बड़ी भूमिका निभाएंगे।
उन्होंने कहा, "वह तीन या चार महीने के ब्रेक से आ रहे हैं। वह एड़ी की चोट से उबर चुके हैं, जो कि नवंबर में लगा था। हालांकि उन्होंने मैच में अधिक गेंदबाज़ी नहीं की है, लेकिन पिछले पांच या छह सप्ताह से वह लगातार गेंदबाज़ी का अभ्यास कर रहे हैं। हमारी टीम में उनकी भूमिका एक ऑलराउंडर की है और वह हमारे लिए कुछ ओवर भी करेंगे। उन्हें यह बात पता है और वह इसे समझते भी हैं। वह विस्फ़ोटक बल्लेबाज़ी करने के अलावा पारी की एंकर की भूमिका भी निभा सकते हैं। पिछले सीज़न में दिल्ली के लिए नंबर तीन पर बल्लेबाज़ी करते हुए उन्होंने कुछ मैच-विनिंग पारियां खेली थी। इसलिए वह हमारे लिए एक महत्वपूर्ण खिलाड़ी हैं। किसी टीम में विश्व स्तरीय ऑलराउंडर का होना एक दुर्लभ बात है। मैं उम्मीद करता हूं कि यह उनका अब तक का सर्वश्रेष्ठ आईपीएल सीज़न होगा।"
हालांकि दिल्ली के लिए अभी सबसे बड़ी चिंता ऋषभ पंत का रिप्लेसमेंट ढूंढ़ना है। डेविड वॉर्नर को तो कप्तान बना दिया गया है, लेकिन टीम का विकेटकीपर कौन होगा, यह निर्णय करना अभी भी बाक़ी है।
उनके पास इंग्लैंड के फ़िल साल्ट हैं, लेकिन सिर्फ़ चार विदेशी खिलाड़ी के सीमा के कारण वे मनीष पांडे या सरफ़राज़ ख़ान को ये ज़िम्मेदारी दे सकते हैं। इसके अलावा उनके पास कैंप में लवनीत सिसोदिया, शेल्डन जैक्सन, अभिषेक पोरेल और विवेक सिंह जैसे अनकैप्ड भारतीय विकेटकीपर भी हैं। माना जा रहा है कि इनमें से किसी एक को पंत के रिप्लेसमेंट के रूप में टीम में शामिल किया जाएगा। हालांकि पोंटिंग का मानना है कि पंत की कमी को भर पाना बहुत ही मुश्किल है और कोई एक खिलाड़ी उनकी जगह नहीं भर सकता है।
उन्होंने कहा, "मध्यक्रम में पावर हिटिंग के लिए हमारे पास अमन ख़ान, रोवमन पॉवेल और अक्षर पटेल जैसे बल्लेबाज़ हैं, जिनकी बल्लेबाज़ी पिछले एक साल में बहुत सुधरी है। पंत की जगह भर पाना आसान नहीं है, लेकिन हमारे पास कुछ खिलाड़ी हैं। पिछले कुछ दिनों के अभ्यास सत्र में अमन ने हमें बहुत प्रभावित किया है।"

शशांक किशोर ESPNcricinfo में सीनियर सब एडिटर हैं