मैच (5)
IPL (1)
ACC Premier Cup (2)
Women's QUAD (2)
फ़ीचर्स

अकील की तरकश में बल्लेबाज़ों के लिए कई कारगर तीर हैं

वनडे सुपरलीग में फ़िलहाल अकील सबसे ज़्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज़ हैं

सूर्यकुमार यादव का विकेट लेने के बाद ख़ुशी जाहिर करते हुए अकील हुसैन  •  AFP/Getty Images

सूर्यकुमार यादव का विकेट लेने के बाद ख़ुशी जाहिर करते हुए अकील हुसैन  •  AFP/Getty Images

पहले टी20 मैच में अकील हुसैन नई गेंद के साथ जब भारतीय बल्लेबाज़ों को परेशान कर रहे थे, तब कॉमेंट्री बॉक्स में बैठे डैरन सैमी को सैम्युएल बद्री की याद आ रही थी। बद्री ने काफ़ी समय तक सैमी के कप्तानी के अंदर ही वेस्टइंडीज़ की टीम की तरफ़ से खेला है। सीपीएल के दौरान अकील ने कई मुश्किल ओवरों में गेंदबाज़ी की है और साथ ही नई गेंद को भी संभाला है। इसी कारण से उन्हें वेस्टइंडीज़ की तरफ़ से खेलने का मौक़ा मिला। उनकी पहली सीरीज़ जुलाई 2021 में साउथ अफ़्रीका के ख़िलाफ़ थी। इसके बाद से उन्होंने कभी भी पीछे मुड़ कर नहीं देखा और लगातार शानदार गेंदबाज़ी करते रहे।
टी20 में पदार्पन के बाद अकील ने 6.98 की इकॉनमी से गेंदबाज़ी की है। जुलाई 2021 के बाद से सिर्फ़ महेदी हसन (5.70) , शाकिब उल हसन (6.30), ऐडम ज़ैम्पा (6.56), सिमी सिंह (6.93) की इकॉनमी अकील (6.98) से बेहतर है। शुक्रवार को पहले टी20 मैच के दौरान उन्होंने अपने स्पेल में सिर्फ़ 14 रन दिया और एक विकेट लिया। टी20आई में यह उनका सबसे किफ़ायती स्पेल था।
हालांकि अकील के पास अपने तरकश में कई कारगर तीर हैं, जिसमें स्विंगिंग आर्म बॉल और कैरम बॉल हैं। वह काफ़ी हद तक अपनी स्टॉक बॉल पर निर्भर करते हैं। साथ ही अपनी गति और लंबाई में सूक्ष्म बदलावों से बल्लेबाज़ों को चकमा देते हैं। पहले टी20 मैच में वह सूर्यकुमार यादव को पहली गेंद पर आउट कर सकते थे लेकिन काइल मेयर्स ने एक्सट्रा कवर पर कैच ड्रॉप कर दिया। इसके बाद अकील ने अपनी गति को कम कर दिया। इससे उन्हें अधिक टर्न मिला और सूर्या इसी में फंस गए। इसके बाद रोहित शर्मा ने जब स्कूप करने का प्रयास किया तो अकील ने अचानक से अपनी लेंथ को छोटा कर दिया। उन्होंने भारतीय टीम के दो सुपरस्टार बल्लेबाज़ों को भरपूर परेशान किया लेकिन टीम के अन्य गेंदबाज़ अपनी छाप छोड़ने में असफल रहे।
खारी पिएर, जो ख़ुद एक सटीक बाएं हाथ के स्पिनर भी हैं, अकील की अंतर्राष्ट्रीय सफलता से हैरान नहीं हैं। इन दोनों गेंदबाज़ों ने एक लंबा सफर तय किया है। वे एक ही स्कूल में पढ़ते थे। क्वींस पार्क क्रिकेट क्लब एक ही साथ खेलते थे। नाइट राइडर्स की टीम की तरफ़ से एक साथ ही खेलते हुए उन्होंने सीपीएल भी जीता। पिएर के अनुसार अकील के स्मार्टनेस ने उन्हें बल्लेबाज़ों से आगे रहने में मदद की है।
पिएर ने ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो को बताया, "मुझे लगता है कि उनकी [अकील की] सटीकता और उनकी विविधताएं उनके उत्थान के लिए महत्वपूर्ण रही हैं। यह न केवल उसके लिए बल्कि सभी उंगलियों के स्पिनरों के लिए एक बड़ा हिस्सा है। अगर आपके पास वह नियंत्रण है तो आप बल्लेबाज़ से आगे रह सकते हैं। अकील एक ऐसा व्यक्ति है जो बल्लेबाज़ों से आगे की सोचता है। वह बहुत सारे वीडियो देखता है और एक बहुत ही स्मार्ट क्रिकेटर है।"
पिछले साल खेले गए टी20 विश्व कप के अकील वेस्टइंडीज़ की टीम में एक नेट बोलर थे। बाद में जब फ़ेबियन ऐलेन को चोट लगी तो वह मुख्य दल में शामिल हो गए। हालांकि अब अकील आने वाले टी20 विश्व कप में मुख्य दल में शामिल होने के लिए बिल्कुल तैयार हैं। वनडे सुपर लीग में उन्होंने 20 गेंदों में 35 विकेट लेते हुए सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज़ों के टॉप पर हैं। इस दौरान उनका औसत 23.37 का रहा है और इकॉनमी दर 4.46 का है। वेस्टइंडीज़ के पूर्व क्रिकेटर इयन बिशप को तो लगता है कि अकील को टेस्ट क्रिकेट में भी मौक़ा देना चाहिए।
पिएर कहते हैं, "बहुत कम उम्र से ही अकील में वह दृढ़ संकल्प और सफल होने की मानसिकता थी। कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता कि वह किस टीम या किस खिलाड़ी के सामने खेल रहे हैं। वह हमेशा खु़द में विश्वास करते हैं।।"अकील मैदान पर एक शानदार फ़ील्डर भी हैं और किसी भी स्थान पर फ़ील्डिंग कर सकते हैं। हालिया समय में उन्होंने अपनी बल्लेबाज़ी पर भी काम किया है। इसी साल इंग्लैड के ख़िलाफ़ खेले गए टी20 मैच में उन्होंने 16 गेंदों में 44 रनों की पारी खेली थी। हाल ही पाकिस्तान के ख़िलाफ़ मुल्तान में खेले गए वनडे मैच में उन्होंने 37 गेंदों में 60 रनों की पारी खेली थी।
पिएर का मानना ​​​​है कि वह वेस्टइंडीज़ के लिए एक बढ़िया ऑलराउंडर का विकल्प पेश कर सकते हैं। उनका कहना है, "अकील एक वास्तविक ऑलराउंडर है। मुझे लगता है कि वह बचपन से ऑलराउंडर था। बड़े होकर शायद किसी समय पर उसने गेंदबाज़ी पर ज़्यादा ध्यान दिया, लेकिन वह हमेशा से एक ऑलराउंडर ही था। उसने अपनी बल्लेबाजी पर वास्तव में कड़ी मेहनत की है।"

देवरायण मुथु ESPNcricinfo के सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर राजन राज ने किया है।