नेथन लायन ने शानदार गेंदबाज़ी का मुज़ाहिरा करते हुए चौथे दिन अपनी टीम के लिए जीत सुनिश्चित की। तीसरे दिन एक बेहतरीन वापसी की तरफ नज़र गड़ाए इंग्लैंड के बल्लेबाज़ों को लायन ने धराशाई कर दिया। इस दौरान उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में अपना 400वां विकेट पूरा कर किया।

लायन ने चौथे दिन सुबह चार बल्लेबाज़ों को पवेलियन का रास्ता दिखाया जिसमें 400वें विकेट के रूप में डाविड मलान का भी विकेट शामिल था। इसके बाद क्रिस ग्रीन ने रूट को 89 के निजी स्कोर पर विकेट कीपर के हाथों कैच आउट करा दिया। चौथे दिन इंग्लैंड ने 74 रनों के भीतर अपने आठ विकेट गंवा दिए। 297 के स्कोर पर ऑलआउट होने के बाद इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया के सामने 20 रनों का लक्ष्य रखा, जिसे उन्होंने एक विकेट खोकर प्राप्त कर लिया।

ऑस्ट्रेलिया के लिए इस मैच में सबसे बड़ी चिंता यह रही कि चौथी पारी में डेविड वॉर्नर बल्लेबाज़ी के लिए मैदान पर नहीं उतरे। पहली पारी 94 रनों के निजी स्कोर के दौरान बेन स्टोक्स की एक गेंद उनकी पसलियों पर लगी थी और इसके बाद उन्होंने इंग्लैंड की दूसरी पारी के दौरान क्षेत्ररक्षण नहीं किया था।

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने तीसरे दिन एक बयान जारी कर कहा कि उनकी पसलियों में चोट लगी है और वार्नर ने चौथे दिन की सुबह चैनल सेवन को बताया कि वह दर्द में हैं लेकिन आवश्यकता पड़ने पर कुछ दर्द निवारक दवाओं की मदद से बल्लेबाज़ी जरूर करेंगे। हालांकि ऑस्ट्रेलिया के सामने एक मामूली सा लक्ष्य था जिसके कारण वह बल्लेबाज़ी करने नहीं उतरे। वार्नर के पास दूसरे टेस्ट से पहले फ़िट होने के लिए मात्र चार दिनों का समय है।

एलेक्स कैरी ने मार्कस हैरिस के साथ ओपनिंग की। इससे पहले प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में 2013 में कैरी ने ओपनिंग की थी। उन्होंने सकारात्मक खेलने की कोशिश की। ऑली रॉबिन्सन की एक शानदार गेंद पर पहले वह कैच आउट होने से बचे। हालांकि रॉबिन्सन ने अंत में विकेट के पीछे उन्हें कैच आउट करा दिया। इससे पहले वह दो बार रन आउट होने से भी बच गए थे। हैरिस भले ही शुरुआत में थोड़े कमज़ोर नज़र आ रहे थे लेकिन वुड की एक 145 की गति से फेंकी गई गेंद को स्क्वायर ड्राइव करते हुए उन्होंने टीम को जीत दिलाई।

इससे पहले इंग्लैंड ने चौथे दिन एक शानदार क्रिकेट का मुज़ाहिरा किया। तीसरे दिन रूट और मलान ने शानदार बल्लेबाज़ी करते हुए टीम के स्कोर को दो विकेट के नुकसान पर 220 के स्कोर तक पहुंचाया था लेकिन चौथे दिन के शुरुआती क्षण में ही यह जोड़ी टूट गई और पूरी टीम 278 के स्कोर पर आउट हो गई।

लायन 326 दिनों से 399 विकेट पर अटके हुए थे लेकिन चौथे दिन के चौथे ही ओवर में मलान का विकेट झटक कर उन्होंने अपना 400वां विकेट प्राप्त कर लिया। तीसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद एबीसी रेडियो को मलान ने बताया था कि तीसरे दिन लायन की एक गेंद उनके पैड पर टकराने के बाद ग्लब्स पर लगी थी और उसे कैच भी कर लिया गया था लेकिन किसी भी ऑस्टेलियाई खिलाड़ी ने अपील ही नहीं की। अगर ऐसा होता तो तीसरे दिन ही वह 400 के आंकडे़ को पार कर देते।

वह विश्व के 17वें और ऑस्ट्रेलिया के तीसरे ऐसे गेंदबाज़ हैं जिसने टेस्ट क्रिकेट में 400 विकेट लिया है।

हालांकि दिन का सबसे बड़ा सरप्राइज तो क्रिस ग्रीन ने दिया जब उन्होंने एक 70 ओवर पुरानी गेंद से एक शानदार स्पेल डाला। इस दौरान वह नई गेंद के साथ लगातार 140 की गति से गुडलेंथ गेंद फेंकते रहे जिसमें उन्हें आउटस्विंग भी मिल रही थी और इन्हीं में से एक गेंद में उन्हें रूट का भी विकेट मिला।

इसके बाद लायन ने ऑली पोप का विकेट लिया जो पिछले कुछ समय से स्पिन के ख़िलाफ़ लगातार संघर्ष कर रहे हैं। वह लायन की एक गेंद को कट मारने गए और कैच आउट हो गए। इसके बाद कमिंस ने नई गेंद लेने का फ़ैसला किया और फिर इंग्लैंड के सभी बल्लेबाज़ एक के बाद एक आउट होते चले गए।

ऐलेक्स मैल्कम ESPNcricinfo के असोसिएट एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर राजन राज ने किया है।