ख़बरें

गाबा टेस्ट में इंग्लैंड पर लगा पांच डब्ल्यूटीसी अंकों का जुर्माना

खिलाड़ियों को गंवानी पड़ी अपनी पूरी मैच फ़ीस

Joe Root leads England off the field after the team's defeat, Australia vs England, 1st Ashes Test, Brisbane, 4th day, December 11, 2021

Getty Images

इंग्लैंड पुरुष क्रिकेट टीम के सभी खिलाड़ियों को सौ प्रतिशत मैच फ़ीस का जुर्माना लगा है और उनकी टीम के खाते में से पांच विश्व टेस्ट चैंपियनशिप अंक काट लिए गए है। वह इसलिए क्योंकि ब्रिस्बेन में खेले गए पहले ऐशेज़ टेस्ट के दौरान उन्होंने धीमे ओवर रेट से गेंदबाज़ी की। ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी में 152 रनों की पारी खेलने वाले 'प्लेयर ऑफ़ द मैच' ट्रैविस हेड पर भी मैच के दौरान अपशब्द का इस्तेमाल करने के लिए 15 प्रतिशत मैच फ़ीस का हर्जाना लगा है।
विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के नियमों के अनुसार टीमों को निर्धारित समय में प्रत्येक ओवर कम डालने के लिए एक अंक और खिलाड़ियों को मैच फ़ीस के 20 प्रतिशत का ख़ामियाज़ा भुगतना पड़ेगा। मैच रेफ़्री डेविड बून ने समय के सारे समायोजन को ध्यान में रखते हुए यह निर्णय दिया कि मैच की समाप्ति पर इंग्लैंड ने पांच ओवर कम डाले थे। इसका मतलब यह था कि टीम को पांच डब्ल्यूटीसी अंक और खिलाड़ियों को अपनी पूरी मैच फ़ीस गंवानी पड़ी।
हेड ने बल्लेबाज़ी के दौरान बेन स्टोक्स की गेंद पर बीट होने के बाद अनुचित भाषा का प्रयोग किया था जिसके चलते उन्हें जुर्माना भरना होगा। यह 24 महीने की अवधि में हेड का पहला अपराध होने के कारण उन्हें एक डिमेरिट अंक भी मिला।
हेड ने टेस्ट टीम में वापसी करते हुए ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी में आक्रामक बल्लेबाज़ी की और टीम को भारी बढ़त दिलाई जो अंत में हार और जीत के बीच का कारण बनी। मेज़बान ऑस्ट्रेलिया ने नौ विकेटों से जीत दर्ज की और अब वह 16 दिसंबर से एडिलेड में होने वाले दूसरे टेस्ट में 1-0 से आगे होंगे।