दिल्ली कैपिटल्स 139/2 (अय्यर 47*, धवन 42, पंत 35*) ने सनराइज़र्स हैदराबाद 134/9 (समद 28, राशिद 22, रबाडा 3-37, नॉर्खिये 2-12) को 8 विकेट से हराया।

अनरिख़ नॉर्खिये और कगिसो रबाडा की साउथ अफ़्रीकी जोड़ी ने आपस में पांच विकेट बांटकर सनराइज़र्स हैदराबाद के बल्लेबाज़ी क्रम के कमर को तोड़ दिल्ली कैपिटल्स को फिर से अंक तालिका के शीर्ष पर ला दिया। इन दोनों ने कसी हुई आक्रामक गेंदबाज़ी करते हुए सनराइज़र्स हैदराबाद को 20 ओवर में सिर्फ़ 134 रन पर रोक दिया और फिर धवन, अय्यर व पंत की अगुवाई में बल्लेबाज़ों ने उपयोगी पारियां खेल दिल्ली कैपिटल्स को 13 गेंद शेष रहते हुए ही आठ विकेट से एक बड़ी जीत दिला दी।

इस जीत की मदद से दिल्ली की टीम दो अंक पाकर अब अंक तालिका के शीर्ष पर पहुंच गई है, वहीं सनराइज़र्स हैदराबाद अपने 8 में से 7 मैच हारकर लगभग टूर्नामेंट से बाहर होने की कगार पर है।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करने उतरी सनराइज़र्स की शुरूआत बहुत ख़राब रही। एक स्लोअर गेंद को छोड़कर नॉर्खिये की हर गेंद 140 किमी/घंटे के रफ़्तार से ऊपर रही, वहीं पांच गेंदों ने तो 150 किमी/घंटा के रफ़्तार को भी पार किया। वॉर्नर इस आक्रमकता का पहला शिकार बने और तीन गेंद पर ही शून्य रन बनाकर प्वाइंट पर अक्षर पटेल को एक आसान सा कैच थमा बैठे।

दूसरे छोर से रबाडा भी उनका बख़ूबी साथ दिया। उन्होंने शॉर्ट गेंद से विकेटकीपर बल्लेबाज़ ऋद्धिमान साहा को पुल करने पर मजबूर किया और उनका एक आसान सा कैच डीप मिडविकेट पर गब्बर शिखर धवन ने लपका। रबाडा इसके बाद सीधे 11वें ओवर में आए और पहली गेंद पर मनीष पांडेय को ख़ुद कैच आउट कराके हैट्रिक पर पहुंच गए। हालांकि अगली गेंद को अब्दुल समद ने रक्षात्मक ढंग से खेल उनको हैट्रिक से रोका। इससे एक ओवर पहले केन विलियमसन भी दो जीवनदान पाने के बावजूद उसका फ़ायदा नहीं उठा पाए और अक्षर की गेंद पर एक्स्ट्रा कवर में एक लूज़ शॉट खेलकर कैच आउट हुए। एक समय 60/2 हैदराबाद की टीम अब 61 रन पर चार विकेट गंवाकर जूझ रही थी।

इसके बाद नॉर्खिये एक बार फिर ऐक्शन में आए और 13वीं ओवर में 147 किमी/घंटा की तेज़ गेंद से अनुभवी केदार जाधव को पगबाधा आउट किया। वहीं समद (28 रन, 21 गेंद) दूसरे छोर से टिके रहे और राशिद ख़ान (22 रन, 19 गेंद) के साथ पारी को आगे बढ़ाया। 19वें ओवर की दूसरी गेंद पर रबाडा ने समद को आउट कर पारी का अपना तीसरा शिकार किया। पारी के अंतिम ओवर में दो रन आउट होने से हैदराबाद के कुछ और रन कम हो गए।

135 रनों का पीछा करने उतरी दिल्ली कैपिटल्स को शॉ के रूप में ज़ल्दी ही एक पहला झटका लग गया। लेकिन शिखर धवन और श्रेयस अय्यर ने दूसरे विकेट के लिए 52 और फिर अय्यर व पंत ने तीसरे विकेट के लिए नाबाद 67 रन की साझेदारी कर इस आसान से लक्ष्य को और आसान बना दिया।

पीटर डेला पेना ESPNcricinfo के अमेरिका कॉरेंस्पांडेंट हैं, अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के दया सागर ने किया है