मैच (19)
आईपीएल (3)
T20I Tri-Series (2)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
Charlotte Edwards (4)
ENG v PAK (W) (1)
फ़ीचर्स

आंकड़े झूठ नहीं बोलते : हैदराबाद के लिए विकेट का मतलब राशिद

पुराने वाले पंत कहीं खो गए हैं, यक़ीन न आए तो ये आंकड़े देखिए

एक ओर जहां दिल्ली कैपिटल्स ने आईपीएल 2021 के पहले हाफ़ में पिछले सीज़न के फ़ॉर्म को लगभग बरक़रार रखा है वहीं सनराइज़र्स हैदराबाद के लिए सफ़र काफ़ी कठिन रहा है। काग़ज़ पर दोनों टीमों के बीच का फ़ासला भी बड़ा है, लेकिन यूएई में अब तक यह साफ़ हो चुका है कि सीज़न का पहला हिस्सा इतिहास है और वर्त्तमान पर उसका कोई असर नहीं पड़ेगा। चलिए यह देखते हैं कि इस मैच के आंकड़े क्या कहते हैं।
दिल्ली के दबंग ओपनर्स
पृथ्वी शॉ और शिखर धवन ने हाल ही में दिल्ली कैपिटल्स के सलामी जोड़ी को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी श्रीलंका में दोहराया। विदेशी धरती पर दोनों आईपीएल वाला कमाल नहीं कर पाएं लेकिन देखना होगा इस सीज़न की सफलतम जोड़ी दुबई में क्या रंग लाएगी। मंगलवार रात को के एल राहुल और मयंक अग्रवाल के शतकीय साझेदारी के बावजूद इस सीज़न में बतौर ओपनिंग जोड़ी शॉ और धवन के 64 की औसत और 154 के स्ट्राइक रेट से बनाए गए 512 रन सबसे ज़्यादा हैं। यानी तेज़ रन और बड़े स्कोर। यह दोनो चल गए तो समझिए मैच हाथ से छूट ही गया।
ख़ान साहब का जलवा
सनराइज़र्स के लिए इस सीज़न 39 विकेट में से 10, अर्थात 25 प्रतिशत से अधिक, गए हैं राशिद ख़ान के खाते में। उनकी इकॉनमी रेट भी इस सत्र में 6.1 की रही है। आईपीएल के पहले हिस्से के बाद यह दोनों आंकड़े उन्हें स्पिनर्स में दूसरे पायदान पर रखते हैं। लेकिन दिल्ली से राशिद को ख़ास लगाव है। उनके ख़िलाफ़ उन्होंने 11 पारियों में 14 विकेट झटके हैं, और इससे अधिक विकेट (17) उन्होंने केवल पंजाब के विरुद्ध लिए हैं। दिल्ली के ख़िलाफ़ उनकी इकॉनमी रेट रहती है 5.6 की, और पिछले संस्करण में यूएई के विकटों पर उनके फ़िगर थे 17 रन देकर तीन विकेट और फिर सात रन देकर तीन विकेट।राशिद एक अनोखे लेगस्पिनर हैं जो बाएं हाथ के बल्लेबाज़ों को भी परेशान कर सकते हैं और यह उन्हें इस मुक़ाबले में मैच विनर साबित कर सकता है।
"तेरा ख़ून कब खौलेगा ऋषभ?"
कटाक्ष पर मत जाइए - दरअसल ऋषभ पंत पिछले दो सीज़न से बहुत ज़्यादा ठहराव के साथ खेलते दिख रहे हैं। शायद उनके प्रमुख कोच रिकी पोंटिंग के अनुसार उनकी परिपक्वता का यह एक उदाहरण हो। लेकिन 2019 सीज़न के अंत तक 162.69 पर स्ट्राइक करने वाले पंत 2020 के बाद से सिर्फ़ 120.08 के स्ट्राइक रेट से बल्लेबाज़ी कर रहे हैं। यह इस दौरान न्यूनतम 300 रन बनाने वाले खिलाड़ियों में उन्हें आख़िरी पायदान पर बैठे शुभमन गिल से एक स्थान ऊपर रखता है। ऊपर से गाबा और सिडनी जैसी पारी खेलने वाला खिलाड़ी आजकल छक्का औसतन हर 35.6 गेंदों में मारता है। इस मापदंड में भी एक ही खिलाड़ी उनसे भी नीचे हैं और वो हैं विराट कोहली।
भुवी होंगे किफ़ायत की खोज में
सनराइज़र्स के अच्छे प्रदर्शन के साथ उनकी सीम बोलिंग यूनिट का एक नाता ज़रूर है। अमूमन भुवनेश्वर कुमार अपनी किफ़ायती गेंदबाज़ी से विपक्षी टीम को बांध देते हैं और फिर राशिद ख़ान जैसा जादूगर उन पर हावी हो जाता है। लेकिन 2021 में पहली बार भुवि आठ रन प्रति ओवर से अधिक इकॉनमी से रन लुटा रहे हैं। 2016 और 2019 सीज़न के बीच 65 विकेट लेने वाला गेंदबाज़ शायद चोटग्रस्त होने के चलते पिछले दो सीज़न उस फ़ॉर्म में नज़र नहीं आया है। पिछले साल उन्होंने चार मैच ही खेले लेकिन इस वर्ष पांच में उन्होंने सिर्फ़ तीन विकेट लिए हैं और इकॉनमी रही है 9.1 की। विश्व कप दल में जगह बनाने वाले भुवि को फिर दिखाना होगा की नई गेंद और डेथ ओवर दोनों में उनके कौशल और चतुरता का कोई सानी नहीं।

देबायन सेन ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर असिस्टेंट एडिटर और स्थानीय भाषा प्रमुख हैं।