मैच (17)
IPL (3)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
ACC Premier Cup (4)
Women's Tri-Series (1)
ख़बरें

धोनी की तरह मेरा भी मंत्र प्रक्रिया पर ध्यान देना : पंत

दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान ने कहा कि आप अपनी ग़​लतियों से सीखते हो और आगे बढ़ते जाते हो

कोच रिकी पोंटिंग भी पंत से प्रभावित दिखे  •  BCCI/IPL

कोच रिकी पोंटिंग भी पंत से प्रभावित दिखे  •  BCCI/IPL

दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान और भारतीय टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज़ ऋषभ पंत ख़ुशनसीब हैं कि उन्हें अपने करियर की शुरुआत में दुनिया के सर्वश्रेष्ठ कप्तानों में से एक रिकी पोंटिंग और महेंद्र सिंह धोनी का साथ मिला। अब इसी अनुभव का वह इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में फ़ायदा उठाने के लिए तैयार हैं। धोनी की तरह पंत का भी मंत्र प्रक्रिया पर ध्यान देने का है, नतीजे ख़ुद मिलने लगेंगे।
सनराइज़र्स हैदराबाद के ख़िलाफ़ बुधवार को होने वाले मुक़ाबले से पहले पंत ने कहा, "अगर अपनी कप्तानी की बात करूं तो मैं टीम में किसी के लिए भी हमेशा खड़ा हूं। अगर किसी खिलाड़ी को कोई भी समस्या है तो मेरे से या रिकी से बात कर सकते हैं। हम हर समय उपलब्ध हैं। हमारी टीम में युवा और अनुभवी खिलाड़ियों का मिश्रण है, जो हमारे लिए अच्छा है। हम अपनी प्रक्रिया पर ध्यान देते हैं।"
पंत, धोनी के प्रशंसक रहे हैं और उन्होंने सबसे ज़्यादा उनसे कुछ सीखा है तो वह प्रक्रिया पर ध्यान देना है, नतीजे मिलने शुरू हो जाएंगे। कप्तानी में यही उनका एक मंत्र है।
पिछले दो सालों में आए बदलाव पर पंत ने कहा, "एक खिलाड़ी के तौर पर मैं ज़्यादा नहीं सोचता हूं, मेरे सामने जो मौक़ा आए मैं उसको भुनाने की कोशिश करता हूं। आप अपनी ग़लतियों से सीखते हो और आगे बढ़ जाते हो। दिल्ली कैपिल्स भी यही सोचती है।"
उन्होंने आगे कहा, "कप्तान के तौर पर मैंने रिकी से बहुत कुछ सीखा है। चाहे सीनियर हो या जूनियर हो। अगर आप टीम में हर किसी का सम्मान करेंगे तो ख़ास चीज़ें होनी शुरू हो जाती हैं। उनके पास जो भी अनुभव है वह आपको बताते हैं और एक कप्तान को यही चाहिए होता है।"
टीम के प्रमुख कोच पोटिंग ने भी ख़ुद नज़दीक से पंत के विकास को देखा है। वह उनको देखकर ख़ुश हैं।
पोंटिंग ने कहा, "पंत परिपक्व हो गए हैं। उनके साथ रहते चार साल हो गए हैं। पंत ने पिछले साल टेस्ट टीम में वापसी की और ऑस्‍ट्रेलिया में जो किया उसे देखकर मैं निजी तौर पर बहुत ख़ुश हुआ था। वह भारत के लंबे समय तक टेस्ट खिलाड़ी हो सकता है। मैंने महसूस किया है कि कैसे वह एक खिलाड़ी और एक इंसान के तौर पर अब परिपक्व हो गए हैं। वह भारत की सभी टीम में फ़िट बैठते हैं और वह तीनों प्रारूपों में खेल भी रहे हैं। वह जब दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान नहीं थे तो उप कप्तान के तौर पर भी उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया। हम पिछले साल खिताबी जीत के करीब पहुंचे थे और पंत उस टीम का हिस्सा थे।
पोंटिंग ने ऑस्‍ट्रेलियाई ऑलराउंडर मार्कस स्टॉयनिस के रोल के बारे में ज़्यादा तो नहीं बताया लेकिन कहा कि उन्हें हम कई रोल देना पसंद करेंगे।
उन्होंने कहा, "स्टॉयनिस का यहां दिल्ली कैपिटल्स में बहुत सम्मान है। पिछले डेढ़ सत्र में उसने हमारे लिए खेले गए बहुत सारे खेलों पर वास्तव में बहुत बड़ा प्रभाव डाला है और मुझे लगता है कि उसके पास विश्व क्रिकेट में बेहतर ऑलराउंडरों में से एक बनने की प्रतिभा और क्षमता है। निश्चित रूप से सफेद गेंद के प्रारूप में।
"हम उसे कई अलग-अलग भूमिकाओं में इस्तेमाल करते हैं। हमने पिछले साल आईपीएल फ़ाइनल में देखा था, उसने उस मैच में बल्लेबाज़ी की शुरुआत की [लेकिन पहली गेंद पर डक बनाया], हम जानते हैं कि वह बल्लेबाज़ी में ओपनिंग कर सकता है, हम पता है कि वह पांच या छह पर बल्लेबाज़ी कर सकता है और खेल खत्म कर सकता है और हम जानते हैं कि वह गेंद से विकेट ले सकता है। वह मैदान में बहुत अच्छा है।
कोच पूर्व कप्तान श्रेयस अय्यर की वापसी से भी ख़ुश दिखे। उन्होंने कहा, "बेशक, अय्यर के आने से हमारा टीम संतुलन ठीक हो जाएगा। वह विश्व स्तरीय खिलाड़ी हैं, कई सालों से टीम के साथ है और कप्तान भी रहे हैं। उनके आने से संतुलन तो मिलेगा। उनके आने से हम अपने दो विदेशी तेज़ गेंदबाज़ों (रबाडा और नॉर्खिया) को खिला सकते हैं, जो पूर्व में काफ़ी सफल भी रहे हैं। मैं ख़ुश हूं कि वह एक साथ खेल सकेंगे।"

निखिल शर्मा ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर हैं। @nikss26