मैच (15)
IND v ENG (1)
NZ v AUS (1)
रणजी ट्रॉफ़ी (4)
विश्व कप लीग 2 (1)
BPL 2023 (2)
WPL (1)
PSL 2024 (2)
CWC Play-off (3)
ख़बरें

श्रीलंका से यूएई में शिफ़्ट हुआ एशिया कप

टी20 फ़ॉर्मेट में 27 अगस्त से 11 सितंबर तक खेला जाएगा

एशिया कप आख़िरी बार 2018 में यूएई में ही आयोजित किया गया था  •  AFP/Getty Images

एशिया कप आख़िरी बार 2018 में यूएई में ही आयोजित किया गया था  •  AFP/Getty Images

एशिया कप यूएई में आयोजित किया जाएगा, जैसा कि इस महीने की शुरुआत में ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो द्वारा रिपोर्ट किया गया था। श्रीलंका 27 अगस्त से 11 सितंबर के बीच खेले जाने वाले इस टूर्नामेंट का मेज़बान बना रहेगा।
एशियाई क्रिकेट परिषद के अध्यक्ष जय शाह ने बुधवार को एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा, "श्रीलंका में एशिया कप की मेज़बानी के लिए हर संभव प्रयास किया गया और आयोजन स्थल को यूएई में स्थानांतरित करने का फ़ैसला लिया गया। यूएई नया वेन्यू होगा जबकि श्रीलंका मेज़बानी के अधिकार को बरक़रार रखेगा।"
खाद्द और ईंधन की आपूर्ति में कमी के कारण श्रीलंका अपने सबसे ख़राब संकट से गुज़र रहा है। ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान की मेज़बानी करने के साथ यह देश अभी भी द्विपक्षीय क्रिकेट की मेज़बानी करने में सक्षम है, लेकिन एशिया कप एक से ज़्यादा टीमों का टूर्नामेंट होने के कारण, आर्थिक उथल-पुथल के बीच इसकी मेज़बानी करने की चुनौतियां बहुत अधिक थीं।
एसएलसी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ऐश्ली डीसिल्वा ने दस दिन पहले ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो को बताया, "दो टीमों की मेज़बानी करना दस टीमों की मेज़बानी करने के समान नहीं है। आपको उन सभी के लिए ईंधन के साथ दस बसें उपलब्ध करानी होंगी। आपको प्रत्येक टीम को ईंधन के साथ एक लगेज वैन और प्रबंधकों को यातायात साधन देना होगा। आपको स्पॉन्सर्स को भी परिवहन देना होगा और यह सुनिश्चित करना होगा कि उन्हें वह लाभ मिल रहा है जो वे अपने स्पॉन्सर्शिप से चाहते हैं। फ़्लडलाइट चलाने के लिए जेनरेटर के लिए भी ईंधन जुटाना होगा।"
जून से सितंबर तक अधिकांश भारतीय उपमहाद्वीप में मानसून के सीज़न को देखते हुए एसीसी के पास बैकअप स्थानों के संबंध में सीमित विकल्प थे। मूलभूत सुविधाएं और यात्रा के मामले में यूएई एक सफल वेन्यू साबित हुआ है, लेकिन अगस्त के अंत और सितंबर की शुरुआत में आमतौर पर 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक का तापमान देखा जाता है, जिसमें आर्द्रता भी एक फ़ैक्टर होने की उम्मीद है।
आख़िरी बार 2018 में आयोजित होने वाला एशिया कप इस बार टी20 प्रारूप में खेला जाएगा और अक्तुबर में होने वाले विश्व कप की तैयारी का काम करेगा। इसकी शुरुआत यूएई, कुवैत, सिंगापुर और हॉन्ग कॉन्ग के बीच क्वालीफ़ाइंग दौर के मैचों से होगी। विजेता टीम मुख्य टूर्नामेंट में जाएगी और श्रीलंका, भारत, पाकिस्तान, अफ़ग़ानिस्तान और बांग्लादेश से खेलेगी।

अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के एडिटोरियल फ़्रीलांसर कुणाल किशोर ने किया है। @ImKunalKishore