मैच (8)
बांग्लादेश बनाम भारत (1)
वेस्टइंडीज़ बनाम इंग्लैंड (1)
न्यूज़ीलैंड बनाम बांग्लादेश (1)
एलपीएल (2)
बांग्लादेश ए बनाम इंडिया ए (1)
भारत अंडर-19 बनाम न्यूज़ीलैंड अंडर-19 (1)
विश्व कप लीग 2 (1)
ख़बरें

रोहन गावस्कर : बाबर को केवल अपनी मानसिकता को बदलने की ज़रूरत है

पूर्व भारतीय क्रिकेटर के अनुसार शुभमन गिल भारत के लिए हर प्रारूप में सफल बल्लेबाज़ बनेंगे

Pakistan captain Babar Azam at a floodlit training session, Karachi, September 18, 2022

अगस्त में एशिया कप की शुरुआत के बाद से बाबर ने 11 मैचों में केवल 262 रन बनाए हैं  •  Getty Images

पूर्व भारतीय क्रिकेटर रोहन गावस्कर का कहना है कि पाकिस्तानी कप्तान बाबर आज़म को टी20 क्रिकेट में "एक-आयामी" खिलाड़ी कहना अनुचित होगा और शायद उन्हें और निरंतर बनने के लिए केवल अपनी मानसिकता को बदलने की ज़रूरत है।
बाबर वर्तमान क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज़ों की सूची में आते हैं। हाल ही में इंग्लैंड के ख़िलाफ़ टी20 सीरीज़ के दूसरे मैच में उन्होंने नाबाद 110 रन बनाए और पाकिस्तान के लिए टी20 अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में एक से अधिक शतक बनाने वाले पहले खिलाड़ी बने। इसके बावजूद, 2022 में उनका फ़ॉर्म काफ़ी साधारण रहा है और इसके चलते उन्हें आलोचना का शिकार होना पड़ा है। कराची में बनाए शतक के बावजूद, अगस्त में एशिया कप की शुरुआत के बाद से बाबर ने 11 मैचों में केवल 262 रन बनाए हैं। उस सैंकड़े के अलावा उनका सर्वाधिक स्कोर 36 रहा है, जो उन्होंने इंग्लैंड के ख़िलाफ़ चौथे टी20 में बनाया था। साथ ही उनकी करियर औसत 42.72 की है लेकिन 129.63 के करियर स्ट्राइक रेट पर कुछ सवाल उठाए गए हैं।
लेकिन गावस्कर ने स्पोर्ट्स18 के 'स्पोर्ट्स ओवर द टॉप' कार्यक्रम पर कहा, "ऐसे अच्छे खिलाड़ी को आप एक-आयामी नहीं कह सकते। अगर आप उनके करीयर को देखें तो पहली पारी में उनका स्ट्राइक रेट लगभग 125 का रहता है जो दूसरी पारी में 137 का बन जाता है। यह बताता है तो वह गियर बदलना जानते हैं। मेरे ख़्याल से यह मानसिकता की बात है। उन्हें शायद यह डर बांधकर रखता है कि पाकिस्तान की बल्लेबाज़ी उन पर काफ़ी निर्भर रहती है। मैं ग़लत भी हो सकता हूं लेकिन शायद पहले बल्लेबाज़ी करते हुए उन्हें लगता है कि टीम के लिए उनका टिके रहना ज़रूरी है। जब पाकिस्तान लक्ष्य का पीछा कर रहा होता है तो वह ज़बरदस्त बल्लेबाज़ी करते हैं क्योंकि उन्हें पता होता है कि उन्हें किस गति से जाना है। मेरे हिसाब से उन्हें केवल पहले बल्लेबाज़ी करते हुए अपनी मानसिकता को बदलने की ज़रूरत है।"
गावस्कर ने भारतीय बल्लेबाज़ शुभमन गिल की भी प्रशंसा की, जिन्होंने इस हफ़्ते काउंटी क्रिकेट में खेलते हुए ग्लमॉर्गन के लिए पहली प्रथम-श्रेणी शतकीय पारी खेली है। गावस्कर ने बताया कि उनके मित्र और पूर्व क्रिकेटर अमोल मुज़ुमदार जब राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) में कोच थे, तब उन्होंने पहली बार शुभमन के बारे में उन्हें बताया था। गावस्कर ने कहा, "उन्होंने बताया, 'रोहन, मैंने एक सुपरस्टार को देखा है। यह ज़रूर भारत के लिए खेलेगा।' मुझे लगता है शुभमन भारत के लिए हर प्रारूप में खेलेंगे। उन्होंने सफ़ेद गेंद क्रिकेट में अपनी प्रतिभा को दर्शाया है। लाल गेंद क्रिकेट में उनके आंकड़े काफ़ी अच्छे हैं। उन्हें अच्छे मौक़े मिलेंगे तो वह इस प्रतिभा का पूरा प्रदर्शन करेंगे।"

देबायन सेन ESPNcricinfo के सीनियर असिस्टेंट एडिटर और स्थानीय भाषा प्रमुख हैं।