मैच (6)
डब्ल्यूबीबीएल (1)
हज़ारे ट्रॉफ़ी (3)
चैलेंजर ट्रॉफ़ी (1)
ऑस्ट्रेलिया बनाम वेस्टइंडीज़ (1)
ख़बरें

वनडे क्रिकेट से संन्यास लेंगे बेन स्टोक्स

साउथ अफ़्रीका के ख़िलाफ़ डरहम में आख़िरी वनडे मुक़ाबला खेलेंगे

Ben Stokes was one of four England batters to fall for a duck, England vs India, 1st ODI, The Oval, London, July 12, 2022

बेन स्टोक्स को हाल ही में इंग्लैंड का टेस्ट कप्तान नियुक्त किया गया था  •  Associated Press

घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के व्यस्त कार्यक्रम से होने वाली चुनौतियों को ध्यान में रखते हुए इंग्लैंड के टेस्ट कप्तान और सुपरस्टार ऑलराउंडर बेन स्टोक्स ने वनडे क्रिकेट से संन्यास लेने का निर्णय लिया है। 2019 के वनडे विश्व कप विजेता स्टोक्स ने ट्विटर पर बयान जारी करते हुए कहा कि मंगलवार को डरहम में साउथ अफ़्रीका के ख़िलाफ़ सीरीज़ का पहला मैच उनके वनडे करियर का अंतिम मैच होगा।
स्टोक्स को इसी साल इंग्लैंड की टेस्ट टीम की कमान सौंपी गई थी। उन्होंने कहा कि तीनों फ़ॉर्मेट खेलना उनके लिए सही नहीं है और उन्हें लगा कि वह आने वाले उभरते खिलाड़ियों का स्थान रोक रहे हैं।
स्टोक्स को इस साल घर पर इंग्लैंड के सभी छह वनडे मैच खेलने थे। इसके वाला उम्मीद थी कि वह भारत और साउथ अफ़्रीका के विरुद्ध टी20 मैचों में भी राष्ट्रीय टीम का प्रतिनिधित्व करेंगे जिसके बाद उन्हें द हंड्रेड प्रतियोगिता में हिस्सा लेना था। हालांकि अब उन्होंने 'टेस्ट क्रिकेट को अपना सब कुछ समर्पित करने के लिए' और 'टी20 प्रारूप के प्रति अपनी प्रतिबद्धता के मद्देनज़र' यह निर्णय लिया है।
अपने बयान में स्टोक्स ने कहा, "मैं अब इस प्रारूप में टीम के अपने साथियों को अपना 100 प्रतिशत नहीं दे सकता हूं। यह एक मुश्किल निर्णय रहा है और इंग्लैंड के लिए खेलने के हर एक पल ने मुझे आनंद दिया है। इस दौरान टीम के साथ मेरा सफ़र बेहतरीन रहा।"
उन्होंने आगे कहा, "यह निर्णय लेना जितना कठिन था, इस तथ्य से निपटना उतना कठिन नहीं है कि मैं अपने साथियों को अब इस प्रारूप में अपना 100% नहीं दे सकता। इंग्लैंड की शर्ट, इसे पहनने वाले किसी भी खिलाड़ी से इससे कम की हक़दार नहीं है।"
"तीनों प्रारूपों में खेलना अब मेरे लिए सही नहीं है। न केवल मुझे लगता है कि मेरा शरीर व्यस्त कार्यक्रम के कारण उम्मीदों पर खरा नहीं उतर पा रहा है बल्कि मेरा मानना है कि मैं एक ऐसे खिलाड़ी की जगह रोक रहा हूं जो जॉस (बटलर) तथा इस टीम को अपना 100 प्रतिशत दे सकता है। अब समय आ गया है कि कोई और बतौर क्रिकेटर आगे बढ़े और वह यादें बनाए जो मैंने पिछले 11 सालों में बनाई है।"
"मैं टेस्ट क्रिकेट को अपना सब कुछ दूंगा और अब इस फ़ैसले के बाद मैं टी20 क्रिकेट के प्रति अपनी प्रतिबद्धता का पालन कर पाऊंगा। मैं जॉस बटलर, मैथ्यू मॉट, सभी खिलाड़ी और सपोर्ट स्टाफ़ के लिए भविष्य में सफलता की कामना करता हूं। हमने पिछले सात वर्षों में सफ़ेद गेंद की क्रिकेट में लंबा सफ़र तय किया है और भविष्य बहुत उज्ज्वल है।"
स्टोक्स ने आगे कहा, "मैंने अब तक खेले गए 104 मैचों का आनंद लिया है। अब मेरे पास आनंद लेने के लिए एक और मैच है और विशेषकर अपने घरेलू मैदान डरहम पर मैं अपना अंतिम मैच खेलने जा रहा हूं।"
"इंग्लैंड टीम के दर्शक हमेशा मेरे साथ रहे हैं और आगे भी रहेंगे। आप विश्व के सर्वश्रेष्ठ प्रशंसक हैं। मैं आशा करता हूं कि हम मंगलवार को जीत के साथ साउथ अफ़्रीका सीरीज़ में अच्छी शुरुआत करेंगे।"
पिछले एक महीने में स्टोक्स, इंग्लैंड के विश्व कप विजेता टीम से वनडे क्रिकेट को अलविदा कहने वाले दूसरे सदस्य हैं। उनसे पहले टीम के कप्तान ओएन मॉर्गन ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। इस फ़ैसले के बाद मॉट और बटलर के लिए अगले साल भारत में अपने ख़िताब को बचाने का कार्य और कठिन हो गया है।
भारत के विरुद्ध वनडे सीरीज़ में चौथे नंबर पर बल्लेबाज़ी करते हुए स्टोक्स ने कुल 48 रन बनाए और केवल तीन ओवर गेंदबाज़ी की। उनके जाने से इंग्लैंड की एकादश में एक बड़ा स्थान खाली हो गया है जिसकी पूर्ति वह सैम करन के साथ कर सकते हैं। सैम करन, भारत सीरीज़ के दौरान सबस्टिट्यूट थे और स्टोक्स की तरह एक तेज़ गेंदबाज़ी ऑलराउंडर हैं।
ईसीबी के पुरुष क्रिकेट के निदेशक रॉब की ने स्टोक्स के फ़ैसले को "निस्वार्थ" बताया और कहा कि इससे "इंग्लैंड को दीर्घकालिक लाभ होगा"। उन्होंने कहा, "बेन स्टोक्स का वनडे क्रिकेट में एक अविश्वसनीय अंतर्राष्ट्रीय करियर रहा है, जिसकी परिणति 2019 आईसीसी पुरुष क्रिकेट विश्व कप फ़ाइनल में उनके मैच जिताऊ प्रदर्शन में हुई।"
रॉब ने आगे कहा, ""मुझे पता है कि यह एक कठिन निर्णय रहा होगा, लेकिन मैं पूरी तरह से समझता हूं कि वह इस निष्कर्ष पर क्यों पहुंचे हैं। मुझे यकीन है कि जब हम पीछे मुड़कर बेन के करियर को देखेंगे तो यह निर्णय उनके 120 से अधिक टेस्ट खेलने और आने वाले कई सालों तक टी20 और विश्व कप में इंग्लैंड की मदद करने का मुख्य कारण होगा।"
ईसीबी के अंतरिम मुख्य कार्यकारी अधिकारी क्लेयर कॉनर ने कहा, "बेन न केवल दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों में से एक हैं, बल्कि एक प्रेरणादायक व्यक्ति भी हैं। इसलिए हमारी वनडे टीम उन्हें याद करेगी। हालांकि टेस्ट कप्तानी और क्रिकेट में आज के व्यस्त कैलेंडर के साथ, हम उनके फ़ैसले को पूरी तरह से समझते हैं और उनका सम्मान करते हैं। हम आने वाले कई वर्षों तक उन्हें इंग्लैंड की शर्ट में देखने के लिए उत्सुक हैं।"

मैट रोलर (@mroller98) ESPNcricinfo में असिस्टेंट एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर अफ़्ज़ल जिवानी ने किया है।