इंग्लैंड के पूर्व कोच और वर्तमान कॉमेंटेटर डेविड लॉयड ने अज़ीम रफ़ीक़ और एशियाई लोगों से नस्लीय टिप्पणी के लिए माफ़ी मांगी है। लॉयड ने स्वीकार किया है कि उन्होंने किसी से निजी चैट वार्ता में एशियाई लोगों के क्रिकेट खेलने की प्रतिबद्धता पर सवाल उठाए थे और रफ़ीक़ के व्यक्तिगत जीवन के बारे में भी टिप्पणी की थी।

रफ़ीक़ ने मंगलवार को कहा था कि एशियाई लोगों के प्रति नस्लीय व्यवहार में केवल खिलाड़ी नहीं मीडिया और ब्रॉडकास्ट के लोग भी शामिल थे, जिनका कहना था कि एशियाई मूल के लोग क्लब हाउस में ना जाकर क्लब क्रिकेट का अपमान करते हैं। इसके बाद उन्होंने डेविड लॉयड का नाम लिया था।

इन आरोपों का ट्विटर पर जवाब देते हुए लॉयड ने बिना शर्त माफ़ी मांगी है। उन्होंने अपने माफ़ीनामे में लिखा, "क्रिकेट एक जोड़ने वाला खेल है। मैंने चीजों का सामान्यीकरण किया। अक्तूबर, 2020 में किसी से प्राइवेट चैट बातचीत में मैंने इन बातों का किया था, जिसे रफ़ीक़ ने कहा है। मैं इसके लिए रफ़ीक़ और अन्य एशियाई लोगों से माफ़ी मांगता हूं।"

ऐंड्र्यू मिलर ESPNcricinfo के यूके एडिटर हैं, अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के दया सागर ने किया है