मैच (15)
IPL (2)
ACC Premier Cup (2)
Women's QUAD (2)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
ख़बरें

क्या ऐशेज़ के आयोजन पर काले बादल छाए हुए हैं?

ईसीबी अध्यक्ष इयन वॉटमोर ने माना कि नवंबर से पहले कुछ कहना मुश्किल है

टी20 विश्‍व कप के फाइनल में पहुंचने पर इंग्‍लैंड की चुनौतियां बढ़ जाएंगी  •  Getty Images

टी20 विश्‍व कप के फाइनल में पहुंचने पर इंग्‍लैंड की चुनौतियां बढ़ जाएंगी  •  Getty Images

इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) अध्यक्ष इयन वॉटमोर ने माना है कि इस साल के अंत में होने वाले ऐशेज़ के आयोजन पर आशंका बनी रहेगी जब तक इंग्लैंड कप्तान जो रूट और उनकी टीम छह नवंबर को ऑस्ट्रेलिया नहीं पहुंच जाए।
फ़िलहाल ईसीबी के अधिकारी ऑस्ट्रेलिया में कोविड से सुरक्षित रहने के लिए ली जा रही कदमों पर ग़ौर कर रहे हैं। शुक्रवार को क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने यह जानकारियां अपने राष्ट्रीय और स्थानीय सरकारों से लेकर ईसीबी तक पहुंचाई थी। वर्तमान परिस्थितियों में ऐसा समझा जा रहा है कि कठोर क्वारंटीन और खिलाड़ियों के परिवारों को आने की अनुमति के सवालों पर कुछ छूट ज़रूर मिल सकती है। फिर भी काफ़ी बड़े नाम इस दौरे से दूर रह सकते हैं।
ऐशेज़ से पहले हो रहे टी20 विश्व कप के चलते बातें और जटिल हो जाती हैं। अगर इंग्लैंड यूएई में फ़ाइनल तक का रास्ता ढूंढ लेता है तो उनके मल्टी फ़ॉर्मेट खिलाड़ियों का आगमन ऑस्ट्रेलिया में 10 दिन की देरी से होगा और इससे क्वारंटीन का मामला और उलझ सकता है।
मंगलवार को रूट ने ख़ुद कहा कि अपने जीवन के सर्वश्रेष्ठ फ़ॉर्म के चलते वह ऐशेज़ में खेलने के लिए बेचैन हैं लेकिन उन्होंने यह भी माना कि वह ऑस्ट्रेलिया जाने के लिए तैयार हैं कि नहीं, इस बात की गारंटी नहीं दे सकते हैं।
वॉटमोर ने 'द डेली मेल' को कहा, "हवाई जहाज़ के ऑस्ट्रेलिया के लिए रवाना होने से पहले कोई तारीख़ नहीं है जब तक इस दौरे पर कोई जवाब मिले। जो के साथ विश्व कप से बाहर रहने वाली खिलाड़ी नवंबर के पहले हफ़्ते में ऑस्ट्रेलिया जाएंगे और हमारे पास तब तक का समय उपलब्ध है। हम परिस्थितियों की एक साफ़ तस्वीर देखना चाह रहे हैं, लेकिन क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को अपने राष्ट्रीय और स्थानीय सरकारों के साथ काफ़ी चीज़ों को सुलझाना पड़ेगा। उन्हें मालूम है कि हम दौरा करने पर प्रतिबद्ध हैं। हमें सारी जानकारी मिलने के बाद तय करना होगा कि हम हां कहें या कुछ बदलाव की मांग करें।"
ऑस्ट्रेलिया में कोविड का हाल काफ़ी तेज़ी से बदल रहा है। मंगलवार को क्वींसलैंड में चार नए केस के चलते तैसमेनिया ने ब्रिस्बेन में अपना शेफ़ील्ड शील्ड मैच खेलने से इंकार कर दिया था। 14 जनवरी से आयोजित होने वाले पर्थ टेस्ट पर भी संकट के बादल हैं क्योंकि वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया की सरकार के अनुसार 14 दिनों का क्वारंटीन अनिवार्य है जो इंग्लैंड के खिलाड़ी मना कर सकते हैं।
ऐसे में एक कमज़ोर टीम को ऑस्ट्रेलिया में भेजे जाने की संभावना भी आगे आई है लेकिन रूट और वॉटमोर दोनों ने इंग्लैंड खिलाड़ियों के लिए ऐशेज़ दौरे के महत्व पर ज़ोर दिया है। वॉटमोर ने कहा, "अगर आप किसी भी खिलाड़ी से पूछें तो ऐशेज़ का दौरा उनके लिए सर्वोपरि है। वह ख़ुद को उसी स्तर पर अच्छा खेलते हुए देखना चाहते हैं। हम ऑस्ट्रेलिया के साथ काम करने की पूरी कोशिश करेंगे ताकि हम सबसे मज़बूत टीम को भेजें।"

अनुवाद ESPNcricinfo में सीनियर असिस्‍टेंट एडिटर और स्‍थानीय भाषा प्रमुख देबायन सेन ने किया है।