मैच (21)
IPL (2)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
ACC Premier Cup (6)
USA vs CAN (2)
Zonal Trophy [W] (1)
SA v SL (W) (1)
ख़बरें

भुवनेश्वर ने आईपीएल के दौरान डेल स्टेन को बताया था अपना टारगेट

पूर्व साउथ अफ़्रीकी तेज़ गेंदबाज़ ने की भुवनेेश्वर कुमार की जमकर तारीफ़

डेल स्टेन का मानना है कि भुवनेश्वर कुमार ने अपनी कमियों पर काम करते हुए, बढ़िया वापसी की है। दो महीने पहले उनकी गेंदबाज़ी में कई कमियां थी लेकिन अब उन्होंने उसे दूर कर लिया है। स्टेन ने भुवनेश्वर कुमार के साथ आईपीएल के दौरान काफ़ी काम किया। स्टेन सनराइज़र्स हैदराबाद के गेंदबाज़ी कोच थे। उनके अनुसार भुवनेश्वर ने अपनी गेंदबाज़ी पर काफ़ी मेहनत की है और वह यह बताने का प्रयास कर रहे हैं कि उनकी गेंदबाज़ी में अभी भी वही धार है।
साउथ अफ़्रीका के साथ चल रहे मौजूदा सीरीज़ के दूसरे मैच में भुवनेश्वर शानदार गेंदबाज़ी प्रदर्शन किया था। उस मैच में उन्होंने 13 रन देकर चार विकेट लिए थे। उनके इस प्रदर्शन के बाद स्टेन ने भुवनेश्वर की जमकर तारीफ़ की। उस मैच में पावरप्ले के दौरान भुवनेश्वर ने कुल तीन विकेट लिए। इसके बाद भारत उस मैच में बढ़त बना लिया था लेकिन हेनरिक क्लासेन की 46 गेंद में 81 रनों की पारी ने भारत की पकड़ से मैच को दूर कर दिया।
ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो के शो टी20 टाइम आउट में स्टेन ने कहा,"इस तरीक़े से भाग कर आना और लगातार नकल गेंद डालना, कहीं से भी आसान नहीं है। इस तरीक़े की गेंद करने के लिए आत्मविश्वास और कौशल की आवश्यकता होती है और यह साफ़ झलक रहा है कि भुवनेश्वर के पास ये दोनों चीज़ें हैं। उनका इस तरीक़े से गेंदबाज़ी करना कोई आश्चर्य की बात नहीं है। उनमें यह हुनर पहले सी है और वह एक अच्छे गेंदबाज़ हैं।"
आगे उन्होंने कहा कि " दो महीने पहले भुवनेश्वर की गेंदबाज़ी में कुछ कमियां थी, जिससे उन्होंने पार पा लिया है। अब उनका आत्मविश्वास काफ़ी अच्छा है। मैं जब आईपीएल में उनके साथ था तो ऐसा लग रहा था कि उनकी गेंद की स्पीड में कमी आई है। वह टी20 विश्व कप के दौरान 125 से 130 किमी प्रति घंटा की स्पीड से गेंदबाज़ी कर रहे थे। इसके बाद आईपीएल में उन्होंने अपनी गति पर काम किया और इसे 133 से 137 तक लेकर गए और कभी-कभी 140 की गति से भी गेंदबाज़ी की। आईपीएल के दौरान उन्होंने सभी मैच खेले। अच्छे रिदम में आए और अच्छा प्रदर्शन किया।"
स्टेन ने यह भी बताया कि आईपीएल 2022 में भुवनेश्वर का लक्ष्य क्या था। वह आईपीएल में एक बार फिर से पर्पल कैप जीतने की फ़िराक में थे। हालांकि उन्होंने 14 मैचों में 12 विकेट लिए और 7.34 की बढ़िया इकॉनमी से गेंदबाज़ी की। स्टेन कहा कि भुवनेश्वर का यह दृष्टिकोण टी20 विश्व कप में उन्हें भारतीय टीम का स्थायी सदस्य बनने में मदद करेगा। फ़िलहाल टीम में सिर्फ़ जसप्रीत बुमराह और हर्षल पटेल की जगह तय है। इसके अलावा किसी भी गेंदबाज़ के स्थान पर अभी सवाल है।
स्टेन ने कहा, "मैंने उनसे (भुवनेश्वर) पूछा कि इस आईपीएल में आपका गोल क्या है? और उन्होंने चुपके से मुझसे कहा, 'मैं फिर से पर्पल कैप जीतना चाहूंगा।' और मैं यह सुन कर काफ़ी ख़ुश हुआ। यह दर्शाता है कि यह आदमी दृढ़ है और वह न केवल भारत के लिए बल्कि दुनिया को साबित करना चाहता है कि वह उसमें अभी भी काफ़ी ऊर्जा है।"