मैच (9)
द हंड्रेड (पुरुष) (2)
CWC League 2 (1)
द हंड्रेड (महिला) (2)
महाराजा टी20 (2)
ओमान बनाम बहरीन (1)
वेस्टइंडीज़ बनाम न्यूज़ीलैंड (1)
ख़बरें

कहां बल्लेबाज़ी करेंगी कप्तान हरमनप्रीत? दीप्ति की भूमिका क्या होगी?

पूनम यादव के वनडे करियर का भी मिल सकता है जवाब

Harmanpreet Kaur put the sweep to good use to transfer the pressure, Sri Lanka vs India, 1st women's T20I, Dambulla, June 23, 2022

हरमनप्रीत कौर ने अपने वनडे करियर में 48 बार नंबर 4 पर बल्लेबाज़ी की है  •  Sri Lanka Cricket

2-1 से टी20 सीरीज़ जीतने के बाद भारतीय टीम वनडे सीरीज़ के लिए तैयार है। मिताली राज के संन्यास के बाद यह भारत की पहली वनडे सीरीज़ होगी। टीम में अनुभवी झूलन गोस्वामी भी नहीं हैं। यह विश्व कप 2022 के बाद भारत की पहली वनडे सीरीज़ भी होगी, जहां पर टीम प्रबंधन, टीम संयोजन से जुड़ी कई पहेलियों को सुलझाना चाहेगा।
हरमनप्रीत कहां बल्लेबाज़ी करेंगी?
अब तक भारतीय टीम में मिताली राज नंबर 4 पर बल्लेबाज़ी करती आई हैं। लेकिन उनके संन्यास लेने के बाद नई कप्तान हरमनप्रीत कौर क्या उनका बल्लेबाज़ी क्रम भी लेंगी या पहले की तरह नंबर 5 पर बल्लेबाज़ी करती रहेंगी? पिछले दो साल में सिर्फ़ दो बार ही हरमनप्रीत ने नंबर 4 पर बल्लेबाज़ी की है, जिसमें न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ मैच में उन्होंने 63 रन बनाए थे। हरमनप्रीत ने वनडे क्रिकेट में कुल 45 बार नंबर 4 पर बल्लेबाज़ी की है, जिसमें उन्होंने 30.97 की औसत और 71.50 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए हैं, वहीं नंबर 5 पर 48 बार बल्लेबाज़ी करते हुए उनके नाम 40.45 की औसत और 70.22 के स्ट्राइक रेट से 1618 रन हैं। 2017 में ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध खेली गई नाबाद 141 रन की रिकॉर्ड पारी नंबर 4 पर ही आई थी। अब जब मिताली ने संन्यास ले लिया है और हरमनप्रीत टीम की सबसे वरिष्ठ बल्लेबाज़ हैं, तो माना जा सकता है कि वह नंबर 4 पर ही बल्लेबाज़ी करेंगी।
मध्य क्रम की दो जगहों को कौन भरेगा?
जेमिमाह रॉड्रिग्स को वनडे दल में जगह नहीं मिली है। भारतीय टीम के पास मध्य क्रम की दो जगहों (नंबर 3 और नंबर 4/5) के लिए यास्तिका भाटिया, हरलीन देओल और एस मेघना का विकल्प है।
मेघना ने नवंबर, 2021 में हुई सीनियर वनडे ट्रॉफ़ी में सर्वाधिक 388 रन बनाए थे, इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 104 का था। इसके बाद उन्हें विश्व कप टीम में जगह दी गई थी। हालांकि वह अपनी घरेलू टीम रेलवे के लिए नंबर तीन पर बल्लेबाज़ी करती हैं, लेकिन भारतीय टीम में स्मृति मांधना और शेफ़ाली वर्मा की जगह को पक्की देखते हुए उन्हें नंबर 3 पर बल्लेबाज़ी करना पड़ सकता है। हाल ही में ख़त्म हुई टी20 सीरीज़ में उन्हें नंबर 3 पर आज़माया गया था, जिससे संकेत मिलते हैं कि वनडे में भी ऐसा हो सकता है।
नंबर 3 के लिए दूसरी दावेदार यास्तिका हैं, जिन्होंने घरेलू लिस्ट-ए टूर्नामेंट में 75 की औसत और लगभग 100 के स्ट्राइक रेट से 225 रन बनाए थे। उनकी 13 में से नौ वनडे पारियां नंबर 3 पर ही आई हैं। इसलिए ऐसा भी हो सकता है कि दाएं हाथ की सलामी बल्लेबाज़ शेफ़ाली के आउट होने पर भारत दाएं हाथ की मेघना को बल्लेबाज़ी के लिए नंबर 3 पर भेजे, वहीं अगर बाएं हाथ की बल्लेबाज़ मांधना आउट होती हैं तो टीम बाएं हाथ की ही यास्तिका को बल्लेबाज़ी के लिए भेजे। इसका मतलब है कि फिर हरलीन नंबर पांच या उससे नीचे बल्लेबाज़ी पर आएं या फिर ऑलराउंडरों की वजह से उनकी जगह ही ना बने।
दीप्ति की क्या भूमिका होगी?
दीप्ति शर्मा ने पिछले दो साल में नंबर 3 से नंबर 9 तक सभी जगहों पर बल्लेबाज़ी की है। इसके अलावा उन्होंने 13 बार वनडे में ओपन भी किया है, जहां पर उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 188 आया है। मिताली के संन्यास लेने के बाद वह या तो नंबर तीन या चार पर एंकर की भूमिका निभा सकती हैं या फिर उन्हें निचले क्रम में फ़िनिशर की भूमिका दी जा सकती है।
हालांकि पिछले कुछ समय से उनके गेंदबाज़ी आंकड़ों में गिरावट हुई है। 2014 से 2019 के बीच उन्होंने 27.81 की औसत और 3.84 की इकॉनमी से 64 विकेट लिए थे। वहीं 2020 से उनके नाम 47 की औसत और 5.32 की इकॉनमी से सिर्फ़ 17 विकेट हैं। अगर दीप्ति को अपनी जगह बरक़रार रखनी है तो उन्हें इस सीरीज़ में अपना पहले वाला रूप दिखाना होगा, नहीं तो स्नेह राणा उनके पीछे ही खड़ी हैं।
पूनम यादव के लिए अंतिम मौक़ा?
दीप्ति की ही तरह पूनम यादव के आंकड़े पिछले दो साल में ख़राब हुए हैं। बल्लेबाज़ों को उनकी फ़्लाइट और धीमी गेंदबाज़ी का तोड़ मिल गया है और अब वे क्रीज़ के भीतर रहकर उनकी गेंदों को बैकफ़ुट से खेलने लग गई हैं। यही कारण है कि उनकी जगह अब टी20 में राधा यादव और वनडे मैचों में राजेश्वरी गायकवाड़ को प्राथमिकता दी जाती है। श्रीलंका के ख़िलाफ़ यह सीरीज़ उनके करियर का निर्णय लेने वाली सीरीज़ भी बन सकती है।

एस सुदर्शनन ESPNcricinfo में सब एडिटर हैं।