मैच (16)
AFG v IRE (1)
WPL (2)
PSL 2024 (1)
NZ v AUS (1)
Nepal Tri-Nation (2)
Durham in ZIM (1)
QAT v HKG (1)
Sheffield Shield (3)
विश्व कप लीग 2 (1)
CWC Play-off (3)
फ़ीचर्स

आंकड़े झूठ नहीं बोलते : शमी, फ़र्ग्युसन और हार्दिक से बच निकले तो राशिद का क्या करेंगे?

अगर सनराइज़र्स को अच्छे परिणाम चाहिए तो विलियमसन और नटराजन को अहम भूमिका निभानी होगी

शिखर धवन का विकेट लेने के बाद जश्न मनाते हुए राशिद ख़ान  •  BCCI

शिखर धवन का विकेट लेने के बाद जश्न मनाते हुए राशिद ख़ान  •  BCCI

सनराइज़र्स हैदराबाद ने आख़िरकर अपना खाता खोल लिया है लेकिन अब उनके सामने हैं आईपीएल 2022 की इकलौती अविजित टीम गुजरात टाइटंस। आइए आंकड़ों के सहारे देखते हैं कि किस टीम का पलड़ा भारी नज़र आ रहा है।
विलियमसन के समक्ष होंगे कुछ पेचीदे सवाल
सनराइज़र्स अच्छी शुरुआत के लिए अपने कप्तान केन विलियमसन पर निर्भर होते हैं। इस मैच में विलियमसन के सामने नई गेंद से तीन ऐसे गेंदबाज़ होंगे जिन्होंने उन्हें नियमित तरीक़े से परेशान किया है। जहां मोहम्मद शमी द्वारा नौ परियों में 12.8 की औसत से उन्हें चार बार आउट किया जाना किसी भी गेंदबाज़ का इस प्रारूप में उनके विरुद्ध सर्वश्रेष्ठ रिकॉर्ड है, वहीं हार्दिक पंड्या (23.5 की औसत, दो बार आउट) और लॉकी फ़र्ग्युसन (11 की औसत, एक बार आउट) का भी विलियमसन के विरुद्ध अच्छा रिकॉर्ड है।
पावरप्ले में गुजरात हावी
इस सीज़न के 18वें मैच की समाप्ति के बाद तक गुजरात टाइटंस की पावरप्ले गेंदबाज़ी विशिष्ट रूप से दूसरे टीमों के मुक़ाबले सर्वश्रेष्ठ रही है। तीन मैचों में उनके लिए गए नौ विकेट सिर्फ़ कोलकाता नाइट राइडर्स ने चार मुक़ाबलों में हासिल किए हैं। वहीं पावरप्ले में औसत (13.1) और गेंद प्रति विकेट (12) किसी भी टीम से बेहतर है। इस पड़ाव में 6.6 की इकॉनमी केवल राजस्थान रॉयल्स (6.2) के बाद आती है। और उनके सामने ऐसी टीम है जिन्होंने 18.2 औसत रन प्रति विकेट और 5.1 के रन रेट से इस पड़ाव में बल्लेबाज़ी की है। यह आंकड़े चिंताजनक तो हैं ही लेकिन साथ में यह तथ्य भी है कि इस सीज़न का सबसे कम पावरप्ले स्कोर भी सनराइज़र्स के नाम है जब उन्होंने राजस्थान के विरुद्ध 14/3 बनाए थे।
हार्दिक के लिए एक चुनौतीपूर्ण विपक्ष
गुजरात के कप्तान हार्दिक पंड्या ने बल्ले और गेंद दोनों से टीम की बढ़िया अगुआई की है। हालांकि सनराइज़र्स के ख़िलाफ़ उनका रिकॉर्ड बतौर बल्लेबाज़ काफ़ी साधारण है। उन्होंने 10 पारियों में 11.8 की औसत और 86 के स्ट्राइक रेट से 106 रन बनाए हैं। 10 पारियों में उनका स्कोर पांच बार 10 से भी कम का रहा है और वह कभी 30 के पड़ाव तक भी नहीं पहुंचे हैं। नई टीम में नई भूमिका के चलते इस रिकॉर्ड में सुधार लाने की उनकी पूरी कोशिश रहेगी।
यॉर्कर विशेषज्ञ की वापसी
सनराइज़र्स के लिए टी नटराजन अपने परिचित अंदाज़ में आख़िरी ओवरों में प्रभाव डालते हुए नज़र आ रहे हैं। उनके विश्लेषण रहे हैं 2/43, 2/26 और 2/30 और इनमें से पांच विकेट उन्होंने 16-20 ओवर के बीच में लिए हैं जो इस पड़ाव में किसी भी गेंदबाज़ से अधिक हैं। अपने यॉर्कर के लिए प्रसिद्ध नटराजन ने इस पड़ाव में सात यॉर्कर डाले हैं और इस मामले में सिर्फ़ शार्दुल ठाकुर नौ यॉर्कर्स के साथ उनसे आगे हैं।
सनराइज़र्स बनाम राशिद
राशिद ख़ान सनराइज़र्स हैदराबाद के ऑल टाइम ग्रेट कहलाए जाएंगे। आईपीएल 2017 के बाद से उन्होंने सनराइज़र्स के लिए 76 पारियों में 93 विकेट लिए और यह उस टीम के लिए ऐसा रिकॉर्ड है कि दूसरे स्थान पर भुवनेश्वर कुमार उनसे 34 विकेट पीछे हैं। पूरे आईपीएल में भी इस अवधि में केवल जसप्रीत बुमराह के 107 विकेट राशिद के 98 विकेट से अधिक हैं। गणित स्पष्ट है - गुजरात के लिए राशिद ने अब तक तीन पारियों में पांच विकेट लिए हैं। और तो और उन्होंने हर मैच में विकेट निकाले हैं और उनकी इकॉनमी क्रमशः 6.8, 7.5 और 5.5 की रही है। बतौर बल्लेबाज़ अगर आप शमी, फ़र्ग्युसन और हार्दिक रूपी आसमान से गिरे तो राशिद नामक खजूर पर अटकना संभव है।

देबायन सेन ESPNcricinfo में स्थानीय भाषा प्रमुख हैं।