मैच (9)
भारत बनाम न्यूज़ीलैंड (1)
रणजी ट्रॉफ़ी (4)
साउथ अफ़्रीका बनाम इंग्लैंड (1)
आईएलटी20 (2)
बीपीएल 2023 (1)
ख़बरें

भारतीय महिला टीम के मुख्य कोच के पद से हटेंगे रमेश पवार

अब राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में स्पिन गेंदबाज़ी कोच की भूमिका निभाएंगे

भारतीय महिला टीम के साथ पवार का दूसरा कार्यकाल मिला-जुला रहा  •  ICC via Getty

भारतीय महिला टीम के साथ पवार का दूसरा कार्यकाल मिला-जुला रहा  •  ICC via Getty

भारतीय महिला टीम के मुख्य कोच के रूप में रमेश पवार का कार्यकाल अगले टी20 विश्व कप के केवल दो महीने दूर होने के बावजूद समाप्त हो गया है। इसका मतलब है कि ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ घर पर होने वाली पांच मैचों की टी20 सीरीज़ में भारत बिना प्रमुख कोच के उतरेगा।
सहयोगी स्टाफ़ समूह का नेतृत्व अंतरिम रूप से भारत के पूर्व ऑलराउंडर ऋषिकेश कानितकर करेंगे, जिन्हें औपचारिक रूप से बल्लेबाज़ी कोच का पद सौंपा गया है। कानितकर हाल ही में न्यूज़ीलैंड के दौरे के दौरान भारतीय पुरुष टीम के साथ इसी तरह की भूमिका में थे। वह मुंबई में टीम के साथ जुड़ गए हैं।
दूसरी तरफ़ पवार राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) में स्पिन गेंदबाज़ी कोच के रूप में अपने रोल में लौटंगे। प्रेस वार्ता में बीसीसीआई ने पुरुष क्रिकेट में पवार के भेजे जाने को "पुनर्गठन मॉड्यूल" का हिस्सा करार दिया। वह 2019 और 2020 के बीच एनसीए में इस पद पर रह चुके हैं।
कानितकर के लिए यह भूमिका एनसीए में बल्लेबाज़ी सलाहकार के रूप में उनकी वर्तमान भूमिका से एक क़दम आगे है। इस साल की शुरुआत में वह भारत की अंडर-19 टीम के मुख्य कोच थे, जिसने कैरेबियन में विश्व कप जीता था। अपने एनसीए कार्यकाल के अलावा कानितकर ने अपने करियर के अंत में महाराष्ट्र के प्लेर-मेंटॉर रहने के अलावा तमिलनाडु को भी कोच किया है। पवार की तरह कानितकर भी भारत के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ के नेतृत्व में एनसीए के पुनर्विकास का सक्रिय हिस्सा रहे हैं।
पवार का मुख्य कोच के रूप में भारतीय महिला टीम के साथ यह दूसरा कार्यकाल मिला-जुला रहा। मई 2021 में उन्होंने पदभार संभाला था। 2022 वनडे विश्व कप में भारतीय टीम उनकी देख-रेख में ग्रुप स्टेज से ही बाहर हो गई। हालांकि टीम ने इसके बाद राष्ट्रमंडल खेलों में रजत पदक अपने नाम किया और इंग्लैंड में तीन मैचों की वनडे सीरीज़ में अपनी पहली सीमित ओवरों की सीरीज़ जीत दर्ज की। टीम के साथ उनका अंतिम कार्यभार विजयी रहा जब भारत टीम अक्तूबर में फ़ाइनल में पाकिस्तान को हराकर रिकॉर्ड सातवीं बार एशिया कप की चैंपियन बनी।
बीसीसीआई द्वारा जारी किए गए बयान में पवार ने कहा, "सीनियर महिला टीम के मुख्य कोच के रूप में मेरे कार्यकाल का एक समृद्ध अनुभव रहा है। एनसीए में अपनी नई भूमिका में मैं वर्षों के अपनी अनुभव का इस्तेमाल कर भविष्य के लिए प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को तैयार करने में मदद करूंगा। मैं खेल के विकास और बेंच स्ट्रेंथ के लिए [एनसीए के मुख्य कोच] वी वी एस लक्ष्मण के साथ मिलकर काम करने के लिए उत्सुक हूं।"
कानितकर के कार्यकाल की शुरुआत ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ पांच मैचों की सीरीज़ से होगी जिसके तुरंत बाद टी20 विश्व कप से ठीक पहले साउथ अफ़्रीका में एक त्रिकोणीय सीरीज़ खेली जानी है।
कानितकर ने अपनी नई भूमिका के बारे में कहा, "मुझे इस टीम में ज़बरदस्त संभावनाएं दिख रही हैं और हमारे पास युवाओं और अनुभव का अच्छा मिश्रण है। मुझे विश्वास है कि यह टीम आगे की चुनौती के लिए तैयार है। कुछ महत्वपूर्ण टूर्नामेंट होने वाले हैं और यह इस टीम और बतौर बल्लेबाज़ी कोच मेरे लिए रोमांचक होने वाला है।"