ख़बरें

कुशाग्र के रिकॉर्ड दोहरे शतक से झारखंड ने बनाया पहाड़ जैसा स्कोर

विकेटकीपर बल्लेबाज़ ने खेली 266 रनों की पारी, झारखंड का रिकॉर्ड 769 रनों का स्कोर

Kumar Kushagra hit 37 fours and two sixes while scoring 266 off 269 balls

269 गेंद में 266 रन की पारी में कुमार कुशाग्र ने 37 चौके और दो छक्‍के लगाए  •  PTI

झारखंड 769 पर 9 (कुशाग्र 266, नदीम 123*, विराट 107, केन्से 3-138) vs नागालैंड
विकेटकीपर बल्लेबाज़ कुमार कुशाग्र की 266 रनों की पारी और नंबर आठ पर आते हुए शाहबाज़ नदीम की नाबाद 123 रनों की पारी की बदौलत झारखंड ने नागालैंड के ख़िलाफ़ 769 रनों का स्कोर खड़ा किया। 2005 से झारखंड ने जब से क्रिकेट खेलना शुरू किया है यह उनका प्रथम श्रेणी क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ स्कोर है। इससे पहले विराट सिंह ने भी 107 रनों की पारी खेली थी, नागालैंड ने दो दिनों तक 177 ओवरों तक क्षेत्ररक्षण करते हुए इस पहाड़ जैसे लक्ष्य का जवाब ​देना शुरू किया है।
यह वह दिन था जहां पर कई रिकॉर्ड बने। झारखंड अपने प्रथम श्रेणी सर्वोच्च स्कोर से बहुत दूर था, जहां हैदराबाद के ख़िलाफ़ 2015 में उन्होंने 556 रन बनाए थे। ईडन गार्डेंस में प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 266 रन सर्वोच्च स्कोर रहा जबकि झारखंड के बल्लेबाज़ का यह प्रथम श्रेणी क्रिकेट में दूसरा सर्वश्रेष्ठ स्कोर है।
कुशाग्र और नदीम ने सातवें विकेट के लिए 166 रन जोड़े और दोनों ने नागालैंड की कमजोर गेंदबाज़ी पर अपना दबदबा भी बनाया, इसमें कुछ योगदान नागालैंड की ख़राब फ़ील्डिंग का भी रहा, जिन्होंने दूसरे दिन 132 रनों पर कुशाग्र का कैच टपका दिया था। पहले दिन भी उन्होंने 10 और 14 रनों के निजी स्कोर पर उनका कैच टपकाया था। कुशाग्र ने 269 गेंद में 266 रन बनाए, जिसमें से 160 रन बाउंड्री से आए।
उन्होंने अपना दोहरा शतक 213 गेंद में सुबह के सत्र में पूरा किया। उन्होंने कवर और मिडऑफ़ के बीच से कमाल की कवर ड्राइव लगाई तो फ़ाइन लेग और डीप स्क्वायर लेग के बीच से बेहतरीन पुल लगाए। बैकफुट पंच और गेंदबाज़ के सिर के ऊपर से लगाए गए शॉट भी कमाल थे।
दूसरी ओर, पुछल्ले बल्लेबाज़ नदीम ने संयम दिखाया और अपना दूसरा प्रथम श्रेणी शतक लगाया। उन्होंने 100 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा किया, जबकि 196 गेंद में उन्होंने अपना शतक लगाया। इस बीच उन्होंने अपना एकमात्र छक्का, लेग स्पिनर केन्से की गेंद पर आगे निकलकर लांग ऑन की ओर लगाया।
इस दिन नागालैंड की किस्मत ऐसी थी कि 161वें ओवर में मध्यम गति के तेज़ गेंदबाज़ राजा स्वर्णकार की गेंद पर नदीम की स्ट्रेट ड्राइव गेंदबाज़ के छोर पर स्टंप्स पर लगी और चार रन के लिए पहुंच गई।
इससे पहले पहले दिन नाबाद रहने वाले बल्लेबाज़ अनुकुल रॉय ने विराट के साथ 128 रन की साझेदारी की और अर्धशतक लगाया। झारखंड का स्कोर उस समय छह विकेट पर 489 रन था, कुशाग्र और नदीम के बीच लगातार तीसरी शतकीय साझेदारी हुई।

हिमांशु अग्रवाल ESPNcricinfo में सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर निखिल शर्मा ने किया है।