मैच (15)
IPL (3)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
ACC Premier Cup (2)
Women's Tri-Series (1)
ख़बरें

घुटने की चोट के कारण शाहीन शाह अफ़रीदी श्रीलंका के ख़िलाफ़ दूसरे टेस्ट से बाहर

उनकी अनुपस्थिति में हारिस रऊफ़ या फ़हीम अशरफ़ एकादश में आ सकते हैं

शाहीन शाह अफ़रीदी ने पहले टेस्ट में श्रीलंका की दूसरी पारी में केवल सात ओवर गेंदबाज़ी की थी  •  AFP/Getty Images

शाहीन शाह अफ़रीदी ने पहले टेस्ट में श्रीलंका की दूसरी पारी में केवल सात ओवर गेंदबाज़ी की थी  •  AFP/Getty Images

पाकिस्तान के तेज़ गेंदबाज़ शाहीन शाह अफ़रीदी श्रीलंका के ख़िलाफ़ गॉल में रविवार से शुरू हो रहे दूसरे टेस्ट से बाहर हो गए हैं। पीसीबी ने एक बयान में कहा कि अफ़रीदी को पहले टेस्ट के चौथे दिन घुटने में चोट लग गई थी।
अफ़रीदी ने पहले टेस्ट में श्रीलंका की पहली पारी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी, जिसमें 14.1 ओवर में 58 रन पर चार विकेट लेकर मेज़बान टीम को 222 रन पर ढेर कर दिया था, लेकिन उन्होंने श्रीलंका की दूसरी पारी में केवल सात ओवर फेंके और तीसरे दिन दर्द में रहने के बाद मैदान छोड़ दिया था।
हालांकि, वह टेस्ट अंत तक श्रीलंका में पाकिस्तान दल के साथ रहेंगे, "जहां उनका प्रारंभिक रिहैबिलिटेशन और प्रबंधन, टीम के मेडिकल स्टाफ़ की देखरेख में जारी रहेगा।" अफ़रीदी को शुरू में डाइव लगाने के प्रयास के बाद मैदान में घूमते देखा गया था और उसके बाद उनके घुटने के चारों ओर लिपटे एक आइस पैक के साथ पाया गया था।
गॉल में उनका एमआरआई स्कैन भी हुआ था। अफ़रीदी की ग़ैरमौजूदगी से तेज़ गेंदबाज़ हारिस रऊफ़ या गेंदबाज़ी आलराउंडर फ़हीम अशरफ़ का दूसरे टेस्ट के लिए एकादश में जगह बनाने का रास्ता बन जाएगा, अगर पाकिस्तान, गॉल के स्पिन के अनुकूल परिस्थितियों के बावजूद एक और तेज़ गेंदबाज़ को शामिल करता है। अफ़रीदी की चोट ने 100 टेस्ट विकेट लेने वाले 11वें पाकिस्तानी तेज़ गेंदबाज़ बनने की उनके दांव में भी देरी कर दी। उन्होंने वर्तमान में 99 टेस्ट शिकार किए हैं।
पाकिस्तान की अगली प्रतिबद्धता नीदरलैंड्स में 16 अगस्त से शुरू होने वाली तीन मैचों की वनडे सीरीज़ है, जिसके बाद उस महीने के अंत में एशिया कप टी20 प्रतियोगिता होनी है। यह अभी भी स्पष्ट नहीं है कि क्या अफ़रीदी की चोट इतनी गंभीर है कि उन मैचों में उनकी भागीदारी ख़तरे में पड़ सकती है।

अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के एडिटोरियल फ़्रीलांसर कुणाल किशोर ने किया है।