मैच (16)
IND v ENG (1)
NZ v AUS (1)
विश्व कप लीग 2 (1)
Marsh Cup (1)
रणजी ट्रॉफ़ी (4)
CWC Play-off (3)
PSL 2024 (3)
WPL (2)
ख़बरें

डब्ल्यूपीएल नीलामी में चमकी अनकैप्‍ड काशवी और वृंदा की क़िस्‍मत

सदरलैंड बनी सबसे महंगी विदेशी खिलाड़ी, चमारी को नहीं मिला कोई ख़रीददार

Vrinda Dinesh drives one through the off side  •  ECB/Getty Images

Vrinda Dinesh drives one through the off side  •  ECB/Getty Images

भारत की अनकैप्‍ड खिलाड़ी काशवी गौतम और वृंदा दिनेश मुंबई में हुई डब्‍ल्‍यूपीएल की दूसरी नीलामी में काफ़ी महंगे दामों पर गुजरात और यूपी की टीम में शामिल हुईं।। काशवी को गुजरात जायंट्स ने दो करोड़ तो वृंदा को यूपी वारियर्स ने 1.3 करोड़ में ख़रीदा।
वहीं ऑस्‍ट्रेलिया की ऑलराउंडर एनाबेल सदरलैंड सबसे महंगी विदेशी खिलाड़ी बनीं, जिनको दो करोड़ रुपये में दिल्‍ली कैपिटल्‍स ने अपनी टीम में शामिल किया। गौर करने वाली बात यह है कि दिल्ली की टीम का कुल पर्स 2.25 करोड़ रुपये था।
सबसे बड़ा ताज्‍़ज़ुब श्रीलंका की कप्‍तान चमारी अट्टापट्टु के लिए हुआ जो दूसरी बार भी नीलामी में नहीं बिक पाई। इस बार डब्‍ल्‍यूबीबीएल में वह दूसरी सबसे अधिक रन बनाने वाली बल्‍लेबाज़ रही थी। वह एक्‍लेरिड राउंड में भी जगह पाने में क़ामयाब नहीं हो पाई और बिक नहीं पाईं।
50 लाख के बेस प्राइस में ऑक्शन में शामिल होने वाली ड्रिएंड्रा डॉटिन, किम गार्थ को भी ख़रीददार नहीं मिले जबकि स्‍कॉटलैंड की कैथरीन ब्रेस ऐसोसिएट देश की अकेली ऐसी खिलाड़ी बनी जिनको 10 लाख में गुजरात ने ख़रीदा।
एकता बिष्‍ट पर आरसीबी ने 60 लाख की बोली लगाई जो कैप्‍ड भारतीय खिलाड़‍ियों में सबसे अधिक रही। इसके अलावा वेदा कृष्‍णमूर्ति को गुजरात और एस मेघना को आरसीबी ने उनके बेस प्राइस 30 लाख में ख़रीदा। भारतीय खिलाड़‍ियों में देविका वैघ को भी कोई ख़रीददार नहीं मिला, उनको इस सीज़न यूपी वारियर्स की टीम ने रिलीज़ कर दिया था।
इस नीलामी में टीमों को अपने गैप को भरना था। सबसे बड़ी दिक्‍कत गुजरात के साथ थी जिन्‍होंने अपनी तेज़ गेंदबाज़ों सदरलैंड, गार्थ, मानसी जोशी और मोनिका पटेल को रिलीज़ किया था लेकिन उन्‍होंने इन सभी की जगह चंडीगढ़ की 20 वर्ष की तेज़ गेंदबाज़ काशवी को चुना।
इसमें कोई चौंकाने वाली बात नहीं थी कि काशवी डिमांड में रही क्‍योंकि उन्‍होंने लगातार अपनी गेंदबाज़ी और डेथ ओवरों में बल्‍लेबाज़ी से प्रभावित किया है। पिछली सीनियर महिला टी20 ट्रॉफ़ी में उन्‍होंने सात मैचों में 4.14 की इकॉनमी से 12 विकेट लिए थे। वह इंडिया ए में भी चुनी गई और जून में हांग कांग में हुई एसीसी ए‍मर्जिंग टूर्नामेंट की अंडर 23 टीम का भी हिस्‍सा रहीं।
काशवी की तरह, वृंदा भी चयनकर्ताओं और स्काउट्स के रडार पर रही हैं। अगस्त में वृंदा ने सभी पांच फ़्रैंचाइज़ी के साथ ट्रायल किया। उनके लिए गृह राज्य की फ़्रैंचाइज़ी आरसीबी ने सबसे पहले बोली लगाई इसके बाद गुजरात भी आगे आई, लेकिन अंत में वह 1.3 करोड़ रुपये में यूपी वारियर्स के साथ गईं।
पिछले दो घरेलू सीज़न में वृंदा ने पावर हिटर के तौर पर नाम कमाया है। 22 साल की उम्र में वह इंडिया ए के लिए चुनी गई और इंग्‍लैंड ए के लिए तीनों मैच खेलीं। इस साल की शुरुआत में उन्‍होंने कर्नाटका को सीनियर महिला वनडे टूर्नामेंट के फ़ाइनल में पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई। वह टूर्नामेंट में पांचवीं सबसे अधिक रन बनाने वाली बल्‍लेबाज़ थीं, जिसमें सेमीफ़ाइनल में राजस्‍थान के ख़‍िलाफ़ 81 रन की पारी भी शामिल थी।
ऑस्ट्रेलिया की फ़ीब लिचफ़ील्ड पहली खिलाड़ी थी जिन्‍हें जायंट्स ने एक करोड़ रुपये में ख़रीदा। बायें हाथ की यह बल्‍लेबाज़ जिसने 2019 में 16 साल की उम्र में सनसनी फ़ैलाई थी। उन्‍होंने इस डब्‍ल्‍यूबीबीएल सीज़न में भी काफ़ी रन बनाए थे।
इसके अलावा डैनी वायट को यूपी वारियर्स ने उनके बेस प्राइज और कैट क्रॉस को आरसीबी ने ख़रीदा। साउथ अफ़्रीका की तेज़ गेंदबाज़ शबनिम इस्‍माइल को मुंबई इंडियंस ने 1.2 करोड़ में ख़रीदा।
डब्‍ल्‍यूपीएल का दूसरा सीज़न फ़रवरी 2024 में होना है। पहले सीज़न को मुंबई के कई मैदानों में खेला गया था। अभी बीसीसीआई ने मैदानों की घोषणा नहीं की है। हालांकि मुंबई और बेंगलुरु को उम्‍मीद है कि उनको भी कुछ मैचों की मेज़बानी मिल सकती है।

शशांक किशोर ESPNcricinfo में सीनियर सब एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब एडिटर निखिल शर्मा ने किया है।