मैच (19)
IPL (3)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
ACC Premier Cup (6)
Women's Tri-Series (1)
ख़बरें

हमें केएल राहुल पर भरोसा दिखाने की ज़रूरत है : रोहन गावस्कर

पूर्व भारतीय ऑलराउंडर के अनुसार जब वह फ़ॉर्म में होते हैं तो उनसे बेहतर कोई नहीं है

केएल राहुल ने वापसी करने के बाद संघर्ष किया है  •  AFP/Getty Images

केएल राहुल ने वापसी करने के बाद संघर्ष किया है  •  AFP/Getty Images

भारतीय उपकप्तान केएल राहुल की चोट से वापसी काफ़ी कठिन रही है। एशिया कप में भारत जब पाकिस्तान के ख़िलाफ़ अपने अभियान की शुरुआत कर रहा था तब वह पहली ही गेंद को विकेटों पर खेल गए। हॉन्ग कॉन्ग के ख़िलाफ़ अगले मैच में उनके करियर की सबसे धीमी पारी आई। श्रीलंका के ख़िलाफ़ 'करो या मरो' वाले मुक़ाबले में वे दूसरे ओवर में ही आउट हो गए।
हालांकि स्पोर्ट्स 18 के डेली स्पोर्ट्स शो 'स्पोर्ट्स ओवर द टॉप' पर बात करते हुए पूर्व भारतीय क्रिकेटर रोहन गावस्कर ने उनका बचाव किया। उन्होंने कहा, "हमने केएल राहुल को टी 20 क्रिकेट में एक ख़तरनाक खिलाड़ी के रूप में देखा है। जब वह बल्लेबाज़ी करने जाते हैं और स्वतंत्र रूप से खेलते हैं तो मेरी राय में उनसे बेहतर कोई नहीं है। जब आपके पास उस क्षमता का खिलाड़ी हो, तो मुझे लगता है कि कभी-कभी आपको उसके साथ बने रहने की ज़रूरत होती है। देखिए, यह नहीं भूलना चाहिए कि केएल राहुल चोटिल होने के बाद वापसी कर रहे हैं, ऐसे में वापसी करने में थोड़ा समय लग सकता है।"
इस एशिया कप में राहुल के प्रदर्शन के बाद जिस भारतीय खिलाड़ी के फ़ॉर्म की सबसे ज़्यादा चर्चा की गई है वह हैं भुवनेश्वर कुमार। भुवी ने इस टूर्नामेंट की शुरुआत धमाकेदार अंदाज़ में की थी, लेकिन सुपर 4 के लगातार दो मुक़ाबलों में वह लक्ष्य का बचाव करते हुए 19वें ओवर में रन लूटा गए और मैच भारत के हाथ से फिसल गया।
रोहन ने कहा, "मुझे लगता है कि रोहित शर्मा और टीम प्रबंधन भुवी को महत्वपूर्ण ओवर देगा, चाहे वह 19वां हो या 20वां। सिर्फ़ इसलिए कि उन्होंने अतीत में उन महत्वपूर्ण ओवरों में कई बार गेंदबाज़ी की है और अच्छा करके दिखाया है, फिर चाहे वह भारतीय टीम के लिए हो या फिर आईपीएल में अपनी फ़्रेंचाइज़ी के लिए। उनके पास अनुभव है; उनके पास कौशल है। मुझे पता है कि ये लगातार दो मैचों में दो लगातार ओवर हैं, जहां उन्हें रन पड़े हैं। लेकिन उन्होंने अतीत में जो किया है, वह उससे दूर नहीं है।"
इसके बाद उन्होंने संघर्ष कर रही भारत के मध्यक्रम के बारे में भी बात की। रोहन ने कहा, "यह सिरदर्द है। यह ऐसा है, जिसके बारे में भारतीय टीम को सोचना होगा और वहां पर सही संयोजन को तलाशने की कोशिश करनी होगी। देखिए, यह एक ऐसा क्षेत्र है जहां हमने बहुत सारे विशेषज्ञों, प्रशंसकों और जानकार लोगों को क्रिकेट पर बात करते हुए देखा है और वे कहते हैं कि वहां कुछ किया जाना बाक़ी है। मध्यक्रम इस समय थोड़ा नाजुक दिख रहा है और हमें थोड़ी और निरंतरता की ज़रूरत है। लिहाज़ा, यह ऐसा है जिसके बारे में भारतीय टीम प्रबंधन सोच रहा है और इसमें सुधार करना चाहता है।"

कुणाल किशोर ESPNcricinfo हिंदी के एडिटोरियल फ़्रीलांसर हैं।