मैच (6)
हज़ारे ट्रॉफ़ी (4)
श्रीलंका बनाम अफ़ग़ानिस्तान (1)
न्यूज़ीलैंड बनाम भारत (1)
ख़बरें

टेस्ट में 'वापसी' नहीं करेंगे मोईन अली

मुख्य कोच मक्कलम से बात करने के बाद ऑलराउंडर ने किया फ़ैसला

Moeen Ali got his chance at Lord's, England vs India, 2nd Test, Lord's, 1st day, August 12, 2021

पाकिस्तान दौरे पर टेस्ट खेलने के लिए नहीं जाएंगे मोईन  •  AFP/Getty Images

इंग्लैंड के ऑलराउंडर मोईन अली ने कहा है कि वह टेस्ट क्रिकेट में 'वापसी' नहीं करेंगे। इंग्लिश अख़बार डेली मेल में लिखते हुए उन्होंने ये बातें कहीं।
इससे पहले मोईन ने जून में कहा था कि वह टेस्ट क्रिकेट से संन्यास के फ़ैसले को वापस ले रहे हैं। उन्होंने नए टेस्ट कोच ब्रेंडन मक्कलम से बातचीत के बाद यह बात कही थी। वहीं 2021 में उन्होंने कहा था कि वह टेस्ट क्रिकेट में अपना सौ फ़ीसदी नहीं दे पा रहे हैं। हालांकि अब उन्होंने सभी कयासों को विराम लगाते हुए कहा है कि वह वापसी नहीं करेंगे।
टी20 सीरीज़ में पाकिस्तान पर 4-3 की जीत के बाद उन्होंने लिखा, "मैं दिसंबर में टेस्ट सीरीज़ के लिए यहां नहीं आऊंगा। मैं अब टेस्ट क्रिकेट खेलने का इच्छुक नहीं हूं। मैंने इस बारे में बैज़ (कोच मक्कलम) से भी बात की है। मैं टेस्ट क्रिकेट के लिए अब एक महीने फिर से होटल में कैद नहीं होना चाहता हूं। अगर मैं ऐसा करूंगा, तो यह पूरी ईमानदारी से नहीं होगा।"
उन्होंने आगे लिखा, "बैज़ ने मुझे फ़ोन किया और इस बारे में हमने लंबी बात की। मैंने उनसे कहा कि मैं अब टेस्ट क्रिकेट नहीं खेलना चाहता और उन्होंने इसे समझा। हां, मैंने इस गर्मियों में कहा था कि मैं टेस्ट क्रिकेट से 'अनरिटायर' हो रहा हूं लेकिन तब मैं अपने साथियों को अच्छा टेस्ट क्रिकेट खेलता देख भावुक हो गया था। मुझे लग रहा था कि मैं कुछ 'मिस' कर रहा हूं और मैं इस तरह की ही क्रिकेट हमेशा से खेलना चाहता था। लेकिन अपने क़रीबी लोगों से बात करने के बाद मुझे लगा कि मुझे अब ऐसा नहीं करना चाहिए। टेस्ट क्रिकेट खेलना एक कठिन कार्य है। मैं अब 35 साल का हूं और मुझे अब परिवार को भी समय देना है।"
पाकिस्तान दौरे पर गए इंग्लैंड के खिलाड़ियों को राष्ट्रपति स्तर की सुरक्षा दी गई थी। यह 2005-06 के बाद इंग्लैंड का पहला पाकिस्तान दौरा था और खिलाड़ियों को मुश्किल से ही लाहौर और कराची के होटल कॉम्पलेक्स से बाहर जाने दिया गया।
मोईन इंग्लैंड के लिए सीमित ओवर क्रिकेट खेलने के साथ-साथ दुनिया भर में घूम-घूमकर टी20 लीग भी खेलते हैं। उन्हें नई शुरू हो रही यूएई के आईएलटी20 लीग में भी हिस्सा लेना है।
मोईन ने कहा, "मैं अपनी क्रिकेट का लुत्फ़ उठाना चाहता हूं। अगर मैं इस निर्णय को वापस नहीं लेता तो भी मैं अपना 100 फ़ीसदी नहीं दे पाता। इंग्लैंड का सीमित ओवर शेड्यूल बहुत व्यस्त है और मेरी प्रतिबद्धताएं फ़्रैंचाइज़ी क्रिकेट में भी हैं। मैं अब परिवार के साथ भी बहुमूल्य समय बिताना चाहता हूं। इसलिए अब समय हो गया है कि मैं अपने करियर के इस हिस्से को पूरी तरह से बंद कर दूं। इंग्लैंड के लिए 64 टेस्ट मैच खेलना मेरे लिए बड़ी बात है और मैं इसका शुक्रगुज़ार हूं।"