मैच (15)
NZ v AUS (1)
AFG v IRE (1)
Nepal Tri-Nation (2)
WPL (2)
PSL 2024 (2)
BPL 2023 (1)
विश्व कप लीग 2 (1)
Durham in ZIM (1)
CWC Play-off (3)
QAT v HKG (1)
ख़बरें

क्रुणाल ने बताया बेहतर हुई गेंदबाज़ी का राज़

पिछले सात-आठ महीनों से अपनी गेंदबाज़ी स्किल पर मेहनत कर रहे थे सीनियर पंड्या

क्रुणाल ने चार ओवर में 11 रन देकर दो विकेट लिए  •  BCCI

क्रुणाल ने चार ओवर में 11 रन देकर दो विकेट लिए  •  BCCI

जब आईपीएल के सबसे कंजूस गेंदबाज़ों की बात होती है, तो आप अनुमान लगाते होंगे कि इस सूची में सुनील नारायण का नाम सबसे ऊपर होगा। इस सीज़न में भी सुनील नारायण का नाम सबसे ऊपर है। लेकिन नारायण के नीचे जो दूसरा नाम है, वह किसी के लिए भी चौकाने वाला हो सकता है। दरअसल इस साल कम से कम 10 ओवर फेंकने वाले सबसे कंजूस गेंदबाज़ों की सूची में नारायण के बाद दूसरा नाम क्रुणाल पंड्या का है, जिन्होंने 6.18 की इकॉनोमी से गेंदबाज़ी की है।
2019 और 2020 के सीज़न में मुंबई इंडियंस की टीम क्रुणाल को कायरन पोलार्ड के साथ पांचवें गेंदबाज़ के रूप में उपयोग करती थी। पिछले साल उनकी गेंदबाज़ी में कुछ गिरावट आई। इसके बाद उन्होंने अपनी गेंदबाज़ी पर छह से आठ महीने तक कड़ी मेहनत की। इसका उन्हें परिणाम भी मिला, जब 2017 के बाद उन्हें पहली बार प्लेयर ऑफ़ द मैच का अवार्ड मिला।
बाएं हाथ के स्पिनरों के ख़िलाफ़ पंजाब किंग्स के बल्लेबाज़ इस सीज़न में संघर्ष करते नज़र आए हैं। इस तरह से क्रुणाल उनके विरुद्ध एक मैच अप की तरह थे। गेंद के साथ क्रुणाल का यह सीज़न काफ़ी अच्छा भी गया है।
मैच के बाद ब्रॉडकास्टर से बात करते हुए क्रुणाल ने कहा, "मैं पिछले कुछ महीनों से अपनी गेंदबाज़ी पर जी-तोड़ मेहनत कर रहा हूं। I राहुल सांघवी इसमें मेरे लिए सबसे मददगार रहे हैं। सात-आठ महीने पहले मेरी उनसे बात हुई थी और मैंने उनसे कहा था कि मैं अपना स्किल बढ़ाना चाहता हूं। मेरा माइंडसेट तो स्पष्ट था लेकिन स्किल को और बेहतर करना था ताकि मैं और प्रभावी गेंदबाज़ बन सकूं।"
इसके अलावा क्रुणाल इस बात से भी चिंतित थे कि उनकी गेंदें अधिक टर्न नहीं होती हैं। उन्होंने कहा, "मैं अधिकतर छोटे फ़ॉर्मेट का मैच खेलता हूं तो कुछ पता ही नहीं चलता। मैं गेंदबाज़ी के दौरान काफ़ी झुक रहा था और पैर भी काफ़ी लंबा बाहर निकल रहा था। मुझे लगा कि अगर मैं कम झुकूंगा तो मुझे अधिक टर्न मिलेगा। मैं अपनी गति में बहुत परिवर्तन करता था, लेकिन अगर मुझे स्पिन भी मिलता हैं तो मैं बल्लेबाज़ के दिमाग़ से खेल सकता हूं। मैंने फिर से सांघवी से बात की। वह बहुत अच्छे इंसान हैं और मेरी हमेशा से मदद करते हैं।"
ईएसपीएनक्रिकइंफ़ो के कार्यक्रम टी20 टाइमआउट में डेनियल विटोरी ने क्रुणाल की तारीफ़ करते हुए कहा, "वह ऐसे कुछ स्पिनर्स में हैं जो गति के साथ-साथ स्पिन प्राप्त कर सकते हैं। वह ऐसा कर बल्लेबाज़ों को चुनौती देते हैं। उनके लेंथ को पढ़ना बहुत कठिन है। इसलिए वह दाएं और बाएं दोनों हाथ के बल्लेबाज़ों के ख़िलाफ़ सफल हैं। वह गेंद के साथ हमेशा कुछ न कुछ करते रहते हैं और ऐसी स्किल को देखना हमेशा सुखद होता है।"

सिद्धार्थ मोंगा ESPNcricinfo में असिस्टेंट एडिटर हैं