मैच (16)
आईपीएल (1)
ENG v PAK (W) (1)
WI vs SA (2)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
CE Cup (1)
ENG v PAK (1)
USA vs BAN (1)
ख़बरें

आईपीएल टीमों को रिटेन किए गए खिलाड़ियों की सूची 15 नवंबर तक तैयार करनी होगी

इस बार की मिनी नीलामी संभवत: दिसंबर के तीसरे हफ़्ते तक आयोजित की जाएगी

The IPL trophy on display at IPL 2022 auction day in Bengaluru, February 12, 2022

फ्रेंचाइज़ियों के पास मिनी-नीलामी में ख़र्च करने के लिए अतिरिक्त 5 करोड़ रुपये होंगे  •  BCCI

आईपीएल ने अगले साल के लिए नीलामी की प्रक्रिया की शुरुआत करते हुए 10 टीमों को 15 नवंबर तक अपने रिटेन किए गए खिलाड़ियों की सूची तैयार रखने को कहा है। नीलामी के लिए कोई पक्की तारीख़ नहीं बताई गई है लेकिन इसके दिसंबर के तीसरे हफ़्ते तक होने की उम्मीद है।
पिछले साल मेगा नीलामी में दो नई टीमों को प्रतियोगिता में जोड़ा गया था। इस बार उसके मुक़ाबले काफ़ी साधारण नीलामी होगी और पिछले साल जैसे हर टीम के पास रिटेन करने के लिए अधिकतम चार खिलाड़ियों की पाबंदी थी, इस बार ऐसी कोई सीमा नहीं होगी। पिछले साल टीमों को 95 करोड़ रुपये की रक़म ख़र्च करने को मिली थी और इस बार उसी से बची हुई राशि के अलावा उनके पास पांच करोड़ और होंगे।
पिछले साल की नीलामी के बाद पंजाब किंग्स के पास सर्वाधिक 3.45 करोड़ रुपये बचे थे जबकि लखनऊ सुपर जायंट्स ने अपनी पूरी राशि का उपयोग कर लिया था। चार बार विजेता रह चुके चेन्नई सुपर किंग्स के पास 2.95 करोड़ बचे थे और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के पास 1.55 करोड़ बचे थे। राजस्थान रॉयल्स पिछले वर्ष के नीलामी से 95 लाख रुपये लेकर इस साल की नीलामी में घुसेगा तो वहीं कोलकाता नाइट राइडर्स 45 लाख लेकर। गत विजेता गुजरात टाइटंस के पास 15 लाख रुपये बचे हैं, जबकि 10 लाख रुपये के साथ मुंबई इंडियंस, दिल्ली कैपिटल्स और सनराइज़र्स हैदराबाद के पास सबसे कम पैसा बचा हुआ है।
सिर्फ़ एक दिन की प्रक्रिया होने के बावजूद इन मिनी नीलामियों में आईपीएल इतिहास के कुछ यादगार और महंगी ख़रीदारी देखने को मिली है। 2021 में साउथ अफ़्रीकी ऑलराउंडर क्रिस मौरिस को राजस्थान ने 16.25 करोड़ रुपये में अपने नाम किया, जो 2015 के लघु नीलामी में दिल्ली द्वारा युवराज सिंह के लिए दिए गए रक़म से 25 लाख ज़्यादा था। ऐसे नीलामियों में विदेशी खिलाड़ियों के लिए ख़ासा मांग दिखा है। 2020 में पैट कमिंस के लिए कोलकाता ने 15.50 करोड़ दिए थे और बेन स्टोक्स को 2017 में राइज़िंग पुणे सुपरजायंट्स ने 14.50 करोड़ में ख़रीदा था।
अगर वह अपना नाम नीलामी के लिए आगे बढ़ाएंगे तो फ़्रैंचाइज़ी से जुड़े लोगों का मानना है कि स्टोक्स, सैम करन और ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर कैमरन ग्रीन इस नीलामी के सबसे बड़े नाम साबित हो सकते हैं। हालांकि ऐसे खिलाड़ियों के लिए लड़ने के लिए कई टीमों को अपने मौजूदा दलों से कुछ बड़े नामों को रिलीज़ करना पड़ेगा।
पंजाब, दिल्ली और लखनऊ ने पिछले नीलामी में सात विदेशी ही ख़रीदे थे और वह आठवें विदेशी कोटा स्थान को भरने की भी मंशा रख सकते हैं।
पिछले साल छह टीमों ने चोट लगने के चलते नीलामी में ख़रीदे खिलाड़ियों को रिप्लेस किया था। इन टीमों के पास दोनों या किसी एक को रिटेन करने का विकल्प होगा। यह खिलाड़ी थे: मथीश पथिराना (चेन्नई में ऐडम मिल्न की जगह), ट्रिस्टन स्टब्स (मुंबई, टिमाल मिल्स), कॉर्बिन बॉश (राजस्थान, नेथन कूल्टर-नाइल), ऐंड्रयू टाय (लखनऊ, मार्क वुड) ऐरन फ़िंच (कोलकाता, ऐलेक्स हेल्स) और रहमानउल्लाह गुरबाज़ (टाइटंस, जेसन रॉय)।

नागराज गोलापुड़ी ESPNcricinfo में न्यूज़ एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सीनियर सहायक एडिटर और स्थानीय भाषा लीड देबायन सेन ने किया है।