मैच (19)
IPL (3)
County DIV1 (5)
County DIV2 (4)
ACC Premier Cup (4)
USA vs CAN (1)
Women's Tri-Series (1)
Zonal Trophy [W] (1)
ख़बरें

ग्रुप-1 समीकरण : बांग्लादेश पर बड़ी जीत के बाद ऑस्ट्रेलिया सेमीफ़ाइनल के क़रीब

शनिवार को साउथ अफ़्रीका के पास भी अंतिम-4 में पहुंचने का एक रास्ता रहेगा

बांग्लादेश को एकतरफ़ा मैच में रौंद देने के बाद ऑस्ट्रेलिया की उम्मीदें परवान चढ़ गईं हैं  •  Getty Images

बांग्लादेश को एकतरफ़ा मैच में रौंद देने के बाद ऑस्ट्रेलिया की उम्मीदें परवान चढ़ गईं हैं  •  Getty Images

82 गेंद शेष रहते हुए ऑस्ट्रेलिया की बांग्लादेश पर धमाकेदार जीत ने उन्हें ग्रुप-1 में दूसरे स्थान से अंतिम-4 के लिए क्वालीफ़ाई करने का प्रबल दावेदार बना दिया है। जबकि श्रीलंका से हार के बाद मौजूदा चैंपियन वेस्टइंडीज़ सेमीफ़ाइनल की दौड़ से बाहर हो गया है, और अब सीधी-सीधी टक्कर ऑस्ट्रेलिया और साउथ अफ़्रीका के बीच ही है।
चलिए एक नज़र डालते हैं कि इन दोनों टीमों को अंतिम-4 का टिकट लेने के लिए क्या करना होगा।
ऑस्ट्रेलिया
मैच: 4, अंक: 6, नेट रन रेट: 1.031, बचा हुआ मैच: बनाम वेस्टइंडीज़
साउथ अफ़्रीका
मैच: 4, अंक: 6, नेट रन रेट: 0.742, बचा हुआ मैच: बनाम इंग्लैंड
-0.627 से ऑस्ट्रेलिया का नेट रन रेट एक झटके में 1.031 पर पहुंच गया, और ये हुआ बांग्लादेश पर उनकी एकतरफ़ा जीत के कारण। इसका मतलब ये है कि वह अब इस ग्रुप से सेमीफ़ाइनल में पहुंचने के प्रबल दावेदार हो गए हैं। हालांकि साउथ अफ़्रीका भी छह अंकों के साथ ऑस्ट्रेलिया के बराबर ही है लेकिन उनका नेट रन रेट 0.742 है और उनका सामना टेबल टॉपर इंग्लैंड के ख़िलाफ़ है।जबकि ऑस्ट्रेलिया इंग्लैंड की तुलना में कम मुश्किल साबित होने वाली वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ खेलेगा।
ऑस्ट्रेलिया अगर वेस्टइंडीज़ को हरा देता हैं और फिर इंग्लैंड की जीत साउथ अफ़्रीका पर हो जाती है तो इंग्लैंड के बाद दूसरे नंबर पर रहते हुए ऑस्ट्रेलिया को मिल जाएगा सेमीफ़ाइनल का टिकट। लेकिन अगर ऑस्ट्रेलिया अपना आख़िरी मुक़ाबला हार जाए और साउथ अफ़्रीका अपना मैच जीत जाए तो फिर इंग्लैंड के बाद साउथ अफ़्रीका अंतिम-4 में पहुंचने वाली ग्रुप-1 से दूसरी टीम होगी।
हालांकि, ऑस्ट्रेलिया और साउथ अफ़्रीका दोनों को ही अपने-अपने मुक़ाबले में हार मिलती है तो फिर दोनों के छह अंक ही रह जाएंगे, और इस परिस्थिति में फ़ैसला नेट रन रेट के आधार पर तय होगा। मान लीजिए अगर ऑस्ट्रेलिया 161 रन का पीछा करते हुए 20 रन से हार जाता है तो ऐसी स्थिति में साउथ अफ़्रीका को (161 रन का पीछा करते हुए) तीन रन से ज़्यादा के अंतर से नहीं हारना होगा और वह नेट रन रेट में ऑस्ट्रेलिया से आगे रहेगा।
इसी तरह अगर ऑस्ट्रेलिया पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 160 रन बनाता है और 10 रन से मुक़ाबला जीत जाता है तो फिर साउथ अफ़्रीका को 160 रन बनाने के बाद मैच 32 रन से जीतना होगा। साउथ अफ़्रीका के पक्ष में एक अच्छी चीज़ ये है कि उन्हें अपना मुक़ाबला बाद में खेलना है यानि उनके पास बिल्कुल सही समीकरण मौजूद रहेगा।
ऑस्ट्रेलिया के नेट रन रेट में इज़ाफ़ा होने के बावजूद इस ग्रुप में इंग्लैंड ही नंबर-1 पर रहने का प्रबल दावेदार दिख रहा है। अगर ऑस्ट्रलिया ने वेस्टइंडीज़ को 100 रन से भी हरा दिया तो फिर उन्हें उम्मीद करनी होगी कि इंग्लैंड अपना मैच 43 रन से हारे, तब जाकर ऑस्ट्रेलिया नंबर-1 पर पहुंचेगा।

एस राजेश (@rajeshstats) ESPNcricinfo में स्टैट्स एडिटर हैं, अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के मल्टीमीडिया जर्नलिस्ट सैयद हुसैन ने किया है।