मैच (16)
ENG v NZ (W) (1)
MLC (2)
ENG v SL (U19) (1)
TNPL (2)
T20 Blast (6)
ENG v WI (1)
LPL (2)
विश्व कप लीग 2 (1)
ख़बरें

"अब पैरों को मिलेगा आराम", स्टेन का सभी प्रारूपों से संन्यास

दो दशक के करियर में साउथ अफ़्रीका के तेज़ गेंदबाज़ ने लिए 699 अंतर्राष्ट्रीय विकेट

Dale Steyn takes a photo with young fans, Sydney Thunder v Melbourne Stars, BBL 09, Sydney, January 2, 2020

स्टेन ने लगभग दो दशक के करियर में दुनिया में हर जगह खेला क्रिकेट  •  Getty Images

अब डेल स्टेन के "पैरों को आराम मिलेगा", क्योंकि मंगलवार को ट्विटर पर उन्होंने काउंटिंग क्रोज गाने के साथ मंगलवार को क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास की घोषणा कर दी है। उन्होंने ESPNcricinfo को बताया कि यह फैसला उन्होंने कोविड-19 महामारी के लगातार बढ़ने के बाद लिया है और क्योंकि वह 38 साल के हो गए हैं तो वह 18 साल तक पेशेवर क्रिकेट खेलने के बाद "जिंदगी की नई शुरुआत" चाहते हैं।
उन्होंने अपनी सोशल मीडिया पर की गई पोस्ट में कहा, " मुझे लगता है कि कोविड-19 महामारी ने मुझे चीजों को दूसरी तरह से देखने पर मजबूर किया है, यहां कतई लुत्फ नहीं था और अगर लुत्फ नहीं होगा तो इसे करने में कोई फायदा नहीं। वह थक चुके थे इसीलिए तो उन्होंने कहा " कड़वा मीठा लेकिन आभारी।"
स्टेन साउथ अफ़्रीका के लिए सबसे ज़्यादा टेस्ट विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं, जिन्होंने 93 मैचों में 439 विकेट लिए हैं। उन्होंने 2003 में नॉर्दंस के खिलाफ 2003 में प्रथम श्रेणी क्रिकेट में पदार्पण किया था। उन्होंने दो साल पहले ही टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लिया था और सफेद गेंद क्रिकेट की ओर अपना ध्यान केंद्रित किया था। इसके बाद से उन्होंने कोई वनडे नहीं खेला और मात्र तीन टी20 अंतर्राष्ट्रीय खेले, इसके बाद ही उन्होंने टी20 विश्व कप तक खेलने का प्लान बनाया था।
लेकिन तभी महामारी आ गई और 2021 के मध्य में उन्होंने साउथ अफ़्रीका क्रिकेट को अपने आगे के प्लान बता दिए। उन्होंने अपना ​आखिरी टी20 अंतर्राष्ट्रीय मुकाबला मार्च 2020 में खेला था, उस वक्त साउथ अफ़्रीका की टीम ऑस्‍ट्रेलिया की मेजबानी कर रही थी, लेकिन उन्‍हें अप्रैल में केंद्रीय करार में नहीं रखा गया था और वह इंग्‍लैंड के खिलाफ पिछले वर्ष हुई घरेलू सीरीज़ में अनुपलब्ध थे। वह पाकिस्तान के खिलाफ घर में, वेस्टइंडीज़, आयरलैंड और अब श्रीलंका के खिलाफ टीम में जगह बनाने में कामयाब नहीं रहे।
इसी समय उनका टी20 लीग में खेलना भी पतन की ओर जाने लगा। जनवरी में ही स्टेन ने खुद को रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (आरसीबी) को आईपीएल खेलने के लिए अनुपलब्ध बताया। जब वह आगे जगह नहीं बना सके तो उन्होंने कहा कि वह अन्य टी20 लीग खेलेंगे। वह पिछले वर्ष लंका प्रीमियर लीग में खेले और फरवरी में पीएसल भी और इसके बाद वह 2021 आईपीएल में ESPNcricinfo में एक्पर्ट के साथ जुड़ गए।
स्टेन ने 2003 में नॉर्दंस के लिए प्रथम श्रेणी मैच से अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत की थी और उसी साल उन्होंने पोर्ट एलिज़ाबेथ में इंग्लैंड के ख़िलाफ़ पहला टेस्ट मैच खेला था। उन्होंने 2005 में अफ़्रीका XI के लिए खेलते हुए एशिया XI के खिलाफ़ वनडे डेब्यू किया। इससे पहले वह इस प्रारूप में 125 मैचों मं 22.95 के औसत से 196 विकेट ले चुके थे। स्टेन ने 47 टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैचों में 18.35 के औसत से 64 विकेट ​भी लिए। कुल मिलाकर अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में उनके नाम 699 विकेट रहे।
साउथ अफ़्रीका ने जो 42 वनडे सीरीज़ जीतीं, उसमें 28 में स्टेन टीम का हिस्सा थे। वहीं 20 टी20 अंतर्राष्ट्रीय सीरीज में से सात में वह हिस्सा रहे। उन्होंने 2011 और 2015 50 ओवर के विश्व कप खेले और 2009 से 2016 के बीच पांच टी20 अंतर्राष्ट्रीय टी20 विश्व कप में भी उन्हें प्रतिभाग किया। वैसे तो स्टेन को लाल गेंद क्रिकेट के लिए जाना जाता रहा, लेकिन वह वनडे रैंकिंग में एक बार दूसरे और टी20 अंतर्राष्ट्रीय रैंकिंग में एक बार पांचवें स्थान पर रह चुके हैं।
स्टेन को अपने सटीक विश्लेषण और गेंदबाज़ी तकनीक के बारे में जाना जाता है। उनकी यह सलाह खास तौर पर युवा खिलाड़ियों के काम आती है। अब जब उन्होंने इशारा किया है कि वह कोचिंग के रोल में आएंगे, तो ज़ल्द ही वह इस नई ज़िम्मेदारी को निभाते भी नजर आ सकते हैं।

फ़िरदौस मूंडा ESPNcricinfo में साउथ अफ़्रीका की संवाददाता हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी में सीनियर सब ​एडिटर निखिल शर्मा ने किया है। @nikss26