दुबई में भारत के ख़िलाफ़ खेले गए अभ्यास मुक़ाबले के दौरान लियम लिविंगस्टन की उंगली में चोट लग गई। इसके बाद टी20 विश्व कप में शनिवार को वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ खेले जाने वाले पहले मुक़ाबले में वह शामिल होंगे या नहीं इस बात पर अभी संदेह है।

भारत के ख़िलाफ़ इंग्लैंड की सात विकेट की हार के दौरान डीप मिड विकेट पर एक कैच लेने के प्रयास में लिविंगस्टन घायल हो गए थे। दुबई में जिस प्रकार की फ़्लड लाइट का प्रयोग किया गया था, वह अन्य अंतर्राष्ट्रीय मैचों में प्रयोग किए जाने वाले लाइट से थोड़ी अलग थी और इसमें रोशनी थोड़ी कम थी। शायद इसी कारणवश लिविंगस्टन उस गेंद को सही तरीक़े से लपकने में क़ामयाब नहीं हो पाए। जैसे ही गेंद उनकी उंगली पर लगी वह दर्द से कराह उठे और उनके बाएं हाथ की छोटी उंगली पर सूजन दिखाई दे रही थी।

इस चोट के लगने के बाद मैच के ख़त्म होने तक सैम बिलिंग्स ने उनकी जगह पर फ़ील्डिंग की। इंग्लैंड टीम के एक प्रवक्ता ने कहा कि सूजन कम होने के बाद अगले 24 घंटों में चोट का आकलन किया जाएगा। उसके बाद ही वह किसी निष्कर्ष पर पहुंच पाएंगे।

घायल होने से पहले लिविंगस्टन ने वॉर्म अप मैच में 2 ओवर गेंदबाज़ी की और 10 रन देते हुए विराट कोहली का बहुमूल्य विकेट झटका। बल्ले के साथ उन्होंने 20 गेंदों में चार चौकों और एक छक्के की मदद से 30 रन बनाए। वह विश्व कप टीम में इंग्लैंड के तीन स्पिन विकल्पों में से एक हैं। आज के मैच में उन्होंने आम तौर पर भारत के दाएं हाथ के बल्लेबाज़ों को लेग ब्रेक और बाएं हाथ के खिलाड़ियों को ऑफ़ ब्रेक गेंदबाज़ी की।

अगर लिविंगस्टन चोट के कारण पहले मैच से बाहर हो जाते हैं तो इंग्लैंड के लिए अपने एकादश का चुनाव करना थोड़ा आसान हो जाएगा। पहले अभ्यास मैच में इंग्लैंड ने ओएन मॉर्गन को आराम दिया था। जब मॉर्गन टीम में आएंगे तो इंग्लैंड को लिविंगस्टन, डाविड मालन या मोईन अली में से एक खिलाड़ी को टीम से बाहर करना होगा। दूसरा विकल्प होगा एक तेज़ गेंदबाज़ को ड्रॉप किया जाएगा, जो एक कठिन फ़ैसला होगा।

लिविंगस्टन ने केवल आठ टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं लेकिन अगर उनकी चोट गंभीर साबित होती है तो इंग्लैंड के लिए यह एक बड़ा झटका होगा। उन्होंने इस साल श्रीलंका और पाकिस्तान के ख़िलाफ़ टी20 सीरीज़, द हंड्रेड और टी20 ब्लास्ट में 20 पारियों में 54.46 की औसत और 167.41 के स्ट्राइक रेट के साथ बल्लेबाज़ी की हैं। वह बेन स्टोक्स और सैम करन की ग़ैर मौजूदगी में इस टीम के एक महत्वपूर्ण हरफ़नमौला खिलाड़ी हैं।

मैट रोलर ESPNcricinfo के अस्सिटेंट एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी के सब एडिटर राजन राज ने किया है।