मैच (11)
MLC (2)
एशिया कप (4)
विश्व कप लीग 2 (1)
TNPL (2)
Men's Hundred (1)
Women's Hundred (1)
ख़बरें

मनोज तिवारी ने लिया क्रिकेट से संन्यास

उन्होंने 2008 से 2015 के बीच भारत के लिए 12 वनडे और तीन टी20आई खेला था

Manoj Tiwary kept Bengal in the contest with a half-century, Bengal vs Saurashtra, Ranji Trophy 2022-23 final, 3rd day, Kolkata, February 18, 2023

मनोज तिवारी 2022-23 घरेलू सीज़न में बंगाल के कप्तान थे  •  PTI

पूर्व भारतीय बल्लेबाज़ मनोज तिवारी ने क्रिकेट से संन्यास ले लिया है। इस तरह उनके 19 साल के क्रिकेटिंग करियर का अंत हुआ। वह बंगाल की तरफ़ से घरेलू क्रिकेट खेलते थे, जबकि 2012 में विंनिग रन बनाकर कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए आईपीएल विजेता भी बने थे।
वह 2008 से 2015 के बीच भारत के लिए 12 वनडे और तीन टी20आई भी खेले थे। वह 2012 में भारतीय टी20 विश्व कप दल के भी सदस्य थे, हालांकि उन्हें एक भी मैच खेलने को नहीं मिला था।
2004 में घरेलू मैदान ईडन गार्डन्स से अपने प्रथम श्रेणी करियर की शुरुआत करने वाले तिवारी ने 2023 में इसी मैदान पर अपना आख़िरी प्रथम श्रेणी मैच भी खेला। दूसरी पारी के दौरान वह अपनी टीम की ओर से सर्वश्रेष्ठ स्कोरर थे, लेकिन रणजी ट्रॉफ़ी के फ़ाइनल में उनकी टीम को 9 विकेट की हार मिली थी। वह अपने आख़िरी सीज़न में बंगाल टीम के कप्तान भी थे।
सोशल मीडिया पर एक भावुक नोट लिखकर उन्होंने संन्यास की जानकारी दी। उन्होंने लिखा, "क्रिकेट के इस खेल को अलविदा! इस खेल ने मुझे वो सब चीज़ें दी हैं, जिसकी मैंने कल्पना भी नहीं की थी। मैं इसके लिए इस खेल और भगवान का शुक्रगुज़ार हूं। मैं उन सभी लोगों को शुक्रिया कहता हूं, जो मेरे इस क्रिकेट यात्रा में किसी ना किसी भी रूप में हिस्सा रहे हैं।"
तिवारी ने अपने प्रथम श्रेणी करियर में 48.56 की औसत से 29 शतकों और 45 अर्धशतकों के साथ 9908 रन बनाए। वह 10 हज़ार रनों से सिर्फ़ 92 रन दूर थे। लिस्ट ए मैचों में उनके नाम 42.28 की औसत और 6 शतकों के साथ 5581 रन हैं। इसमें एक अंतर्राष्ट्रीय शतक भी शामिल है, जो उन्होंने अपने छठे वनडे में वेस्टइंडीज़ के ख़िलाफ़ चेन्नई में दिसंबर 2011 में लगाया था।
उनके नाम 183 टी20 में 28.39 की औसत और 116.43 के स्ट्राइक रेट से 3436 रन भी हैं।